लव जिहादः दुखद लेकिन रोचक

Love Jihad Hindu Muslim : नासिक में अभी-अभी लव जिहाद का दुखद लेकिन बड़ा रोचक किस्सा सामने आया है। वह रोचक इसलिए है कि 28 साल की एक हिंदू लड़की रसिका के माता-पिता ने सहमति दी कि वह अपने पुराने सहपाठी आसिफ खान के साथ शादी कर ले। आसिफ के माता-पिता की भी इससे सहमति थी। यह सहमति इसलिए हुई कि रसिका में थोड़ी विकलांगता थी और उसे कोई योग्य वर नहीं मिल रहा था। उसके पिता ने, जो कि जवाहरात के संपन्न व्यापारी हैं, आसिफ के माता-पिता से बात की और वे अपने बेटे की शादी रसिका के साथ करने के लिए राजी हो गए। 18 जुलाई 2021 की तारीख तय हो गई। मराठी भाषा और देवनागरी लिपि में निमंत्रण छप गए। उन पर ‘वक्रतुंड महाकाय’ वाला मंत्र भी छपा था और हवन के साथ सप्तपदी (सात फेरे) से विवाह-संस्कार संपन्न होना था। लेकिन ज्यों ही यह निमंत्रण-पत्र बंटा, नासिक में खलबली मच गई। रसिका के पिता प्रसाद अडगांवकर को धमकियां आने लगीं। इस शादी को लव-जिहाद की संज्ञा दी गई और तरह-तरह के आरोप लगने लगे। रसिका के पिता ने अपने रिश्तेदारों और मित्रों से सलाह की तो ज्यादातर ने सलाह दी कि शादी का कार्यक्रम रद्द किया… Continue reading लव जिहादः दुखद लेकिन रोचक

सच्चे प्यार के दुश्मन : परिवार वालों की सहमति से दिव्यांग करना चाहती थी साथ में पढ़ने वाली दूसरे धर्म के लड़के से शादी लेकिन …

नासिक | Enemies of True Love : देशभर में धर्मांतरण और लव जिहाद को लेकर एक अजीब सा माहौल तैयार हो गया है. इस महोदय कारण अब आम लोगों और सच्चे प्यार करने वाले लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. ऐसा ही एक मामला महाराष्ट्र के नासिक से सामने आया है. यहां रहने बाली एक दिव्यांग लड़की की शादी उसी के साथ में पढ़ने वाले एक मुस्लिम लड़के से होने वाली थी तो कुछ धार्मिक संगठनों ने शादी को जबरन रुकवा दिया. लगातार बन रहे दबाव के कारण लड़की के मां-बाप को भी शादी रोकने का फैसला करना पड़ा. हालांकि शादी करके रोक जाने के बाद भी दोनों पक्ष एक दूसरे के साथ खड़े नजर आए और उनका कहना था कि दोनों परिवारों की सहमति से इस विवाह को संपन्न कराया जा रहा था. क्या है मामला Enemies of True Love : नासिक में एक 28 साल की दिव्यांग लड़की को जब ढूंढे दूल्हा नहीं मिल रहा था तो परिवार वाले भी परेशान हो गए. इसके बाद लड़की ने खुद ही अपने परिवार वालों को बताया कि वह अपने साथ में पढ़ने वाले एक मुस्लिम लड़के से शादी करना चाहती है. दोनों परिवार एक दूसरे से मिले… Continue reading सच्चे प्यार के दुश्मन : परिवार वालों की सहमति से दिव्यांग करना चाहती थी साथ में पढ़ने वाली दूसरे धर्म के लड़के से शादी लेकिन …

हरियाणा की ये महा-पंचायतें

नूह और पटौदी दोनों ही जगह पुलिस ने इन भाषणों पर कोई कार्रवाई नहीं की। तो आखिर ऐसे आयोजनों का मकसद क्या है? क्या सत्ताधारी दल को शांति से एलर्जी है या वह मानती है कि ऐसे भड़काऊ माहौल ही उसकी सत्ता का आधार हैं? क्या वह इसके संभावित भयानक नतीजों से नावाकिफ है? Haryana nuh pataudi mahapanchayats : देश में अब हिंदुत्व की पैरोकार पार्टी की एक तरह के ऐसी सत्ता है, जिसे फिलहाल कोई चुनौती नहीं है। बहुत से दूसरे राज्यों की तरह हरियाणा में भी वही पार्टी सत्ता में है। बीते सात साल में इस पार्टी की सरकारों की चाहे कोई उपलब्धि हो या ना हो, यह तो साफ है कि उन्होंने हिंदुत्व के एंजेडे को लागू करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। तो जो बात एक समय विचारों में थी (जिसकी वजह से देश के बहुसंख्यक समुदाय में अल्पसंख्यकों के कथित तुष्टिकरण की शिकायत बनी रहती थी) वह अब व्यवहार में उतर चुकी है। अल्पसंख्यक- खासकर मुसलमान आज हर तरह से मुख्यधारा से बाहर कर दिए गए हैँ। इसीलिए अब यह समझना मुश्किल है कि आखिर ऐसी महा-पंचायतें क्यों होती हैं, जिनमें मुसलमानों का भय दिखाय जाता है? खासकर ऐसी महा-पंचायतों का हरियाणा में सिलसिला… Continue reading हरियाणा की ये महा-पंचायतें

असम के सीएम का बड़ा बयान, कहा- सिर्फ मुस्लिम ही नहीं देते हिंदू लड़कियों को धोखा इसलिए लव जिहाद शब्द पर विश्वास नहीं

गुवाहटी | Law For Love Jihad : हाल के दिनों में ‘लव जिहाद’ का शब्द देश की राजनीति में काफी प्रयोग किया गया है साथ ही विवादों में भी रहा है. कई राज्यों में इस संबंध में कानून तैयार भी कर लिये गये हैं तो वहीं राज्यों में कानून बनाने को लेकर तैयारियां चल रही हैं. इन सबके बीच असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने इस सबंध में बयान दिया है. उन्होंने कहा कि हमने सरकार बनाने के पहले ही स्पष्ट किया था कि हमारी सरकार बनने के बाद हम जरूर इस संबंध में कानून बनाएंगे. उन्होंने कहा कि हम ‘लव जिहाद’ शब्द का प्रयोग नहीं करना चाहते हैं क्योंकि ऐसा नहीं है कि सिर्फ मुसलमान ही लड़कियों को झूठ बोलकर धोखा देता है. उन्होंने कहा कि भारत में कई ऐसे हिंदू भी हैं जो शादी और लड़कियों को फांसने के लिए झूठ बोलते हैं. ऐसे में इसे लव जिहाद तो नहीं कहा जा सकता है बल्कि इसे सिर्फ जिहाद कहा जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि मेरे मत में किसी भी धर्म की लड़की को धोखा दे कर कोई भी धर्म का युवक यदि विवाह करता है तो ये एक तरह का जिहाद ही है. जिहाद शब्द पर नहीं… Continue reading असम के सीएम का बड़ा बयान, कहा- सिर्फ मुस्लिम ही नहीं देते हिंदू लड़कियों को धोखा इसलिए लव जिहाद शब्द पर विश्वास नहीं

toofan Boycott : रिलीज होने से पहले ही फरहान अख्तर की ‘तूफान’ बनी बॉयकॉट का कारण, लेकिन क्यों..

आजकल हम देखते है कि हर मूवी को ट्रोलिंग का सामना करना पड़ता है। अगर कोई फिल्म किसी की भावना को आहत करती है तो उसको बॉयकॉट का सामना करना पड़ा है। ( farhaan movie toofan bayycott ) फरहान अख्तर की एक फिल्म आ रही है तूफान जिसको रिलीज होने से पहले ही बॉयकॉट किया जा रहा है। सोशल मीडिया पर लोग इसे संस्कृति के विरूद्ध बताकर बैन करने की मांग कर रहे है। फिल्म में फरहान के साथ मृणाल ठाकर भी दिखाई देगी। फरहान अख्तर और मृणाल ठाकर अभिनीत यह मूवी 16 सुलाई को ऐमजॉन प्राइम वीडियो पर रिलीज होनी है। इस फिल्म की रिलीज़ डेट पहले अक्टूबर 2020 और फिर मई 2021 की थी। लेकिन किसी कारण से इसे पोस्टपोन कर दिया गया। तूफान के डायरेक्टर राकेश ओमप्रकाश मेहरा हैं। This Anti-CAA Protestor #FarhanAkhtar shall be BOYCOTTED completely and we have to boycott his coming film. Even Trailer seeing is HARAM. 😡😡😡 No ONE, Even Single One shall see film of this JEHADI.#BoycottToofaan #BoycottToofan — HinduSpeaks (@speaks_hindu) July 11, 2021 also read: Bollywood को कई सुपरहिट फिल्में देने वाली ‘Shilpa Shetty’ ने ठुकरा दिया था 10 करोड़ का ऑफर, क्योंकि… ये बॉयकॉट का कारण ( farhaan movie toofan bayycott… Continue reading toofan Boycott : रिलीज होने से पहले ही फरहान अख्तर की ‘तूफान’ बनी बॉयकॉट का कारण, लेकिन क्यों..

Love Jihad in Kashmir : अपने घर लौटी अगवा की गई एक लड़की, घर और सिख समुदाय ने शादी करवाकर भेजा दिल्ली

नई दिल्ली | Love Jihad in Kashmir : जम्मू कश्मीर में कथित तौर पर लव जिहाद का मामले ने काफी तूल पकड़ा. ताजा जानकारी के अनुसार अब एक लड़की वापस अपने घर आ गई है. लड़की के वापस लौटने के तुरंत बाद उसका सिख समुदाय के एक युवक से विवाह भी करा दिया गया. शादी के बाद कश्मीर से दिल्ली के लिए रवाना भी हो गया है. इस विवाह के बाद से इस में जोड़े को शुभकामनाएं देने का सोशल मीडिया में ताता लग गया है. बता दें कि अभी 2 दिन पहले जम्मू-कश्मीर में लव जिहाद के मुद्दे पर जमकर बवाल मचा था. इस मसले पर दिल्ली से लेकर कश्मीर तक सिख समुदाय के लोगों ने सड़क पर उतर कर प्रदर्शन किया था. एक लड़की अभी भी नही आई वापस Love Jihad in Kashmir: अभी भी एक लड़की वापस अपने घर लौट कर नहीं आई है. बताया जा रहा है कि लड़की ने कोर्ट में बयान दिया है कि वह अपने पति के साथ ही रहना चाहती है. हालांकि परिवार वालों का कहना है कि लड़की की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है और उसे डरा धमका कर रखा जा रहा है. इतना ही नहीं लड़की के मां-बाप का कहना… Continue reading Love Jihad in Kashmir : अपने घर लौटी अगवा की गई एक लड़की, घर और सिख समुदाय ने शादी करवाकर भेजा दिल्ली

2 युवतियों के जबरन धर्मांतरण और शादी के खिलाफ भड़का सिख समाज, कहा-मौलाना और मुफ्ती चुप क्यों हैं ?

लखनऊ | Kashmir case conversion Issue : उत्तर प्रदेश में अभी धर्मांतरण का मामला ठीक से सुलझा भी नहीं है और अब श्रीनगर में यह मामला तूल पकड़ चुका है. जानकारी के अनुसार कश्मीर में रहने वाली 2 लड़कियों का जबर्दस्ती धर्म परिवर्तन कर निकाह कर दिया गया. आरोप है कि कश्मीर में आए दिन इस तरह के मामले बढ़ते जा रहे हैं. प्रदर्शन करने वाले सिख समुदाय के लोगों का कहना है कि कभी बहला-फुसलाकर तो कभी दबाव बनाकर लड़कियों का धर्म परिवर्तन कराया जा रहा है. यहां बता दें कि लड़कियों का पक्ष अभी तक सामने नहीं आया है हालांकि हाई कोर्ट द्वारा उन्हें सुरक्षा मुहैया करवा दी गई है. आज मौलाना और मुफ्ती चुप क्यों हैं Kashmir case conversion Issue : आरोप है कि 2 युवतियों को गन पॉइंट पर अगवा कर लिया गया. इसके बाद जबरदस्ती उनका तो मुस्लिम युवकों से निकाह पढ़ा दिया गया. जब मामले ने तूल पकड़ा और मामला हाईकोर्ट गया तो हाई कोर्ट में मां-बाप को अंदर तक जाने नहीं दिया गया. सिख समुदाय का कहना है कि जब प्रदर्शन पड़ गया तब रात के 10:30 बजे एक युवती को कोर्ट से बाहर भेज दिया गया. सिख समुदाय का कहना है कि… Continue reading 2 युवतियों के जबरन धर्मांतरण और शादी के खिलाफ भड़का सिख समाज, कहा-मौलाना और मुफ्ती चुप क्यों हैं ?

रिजवाना ने सिद्धार्थ से की लव मैरिज, धर्म बदलकर बन गई थी सीमा, फिर पति ने मामूली बात पर किया मर्डर

छिंदवाड़ा। मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में लव मैरिज के बाद एक युवती की हत्या किए जाने का मामला सामने आया है। युवती रिजवाना ने अपना प्यार पाने के लिए मुस्लिम धर्म छोड़कर हिन्दू धर्म अपनाया और फिर सिद्धार्थ के साथ शादी की। सिद्धार्थ ने मामूली बात पर रिजवाना को मौत के घाट उतार दिया। पत्नी की हत्या करने के बाद सिद्धार्थ खुद ही उसको अस्पताल लेकर पहुंचा और बीमारी का बहानाकर डॉक्टरों को दिखाया। डॉक्टरों ने रिजवाना को मृत घोषित कर दिया और पोस्टमार्टम में उसकी गला घोंटकर हत्या किए जाने का खुलासा हुआ। सूचना पाकर पुलिस भी अस्पताल पहुंच गई। सिद्धार्थ शुरुआत में तो पुलिस को गुमराह करता रहा। फिर सख्ती बरतने पर सच उगल दिया। विजय कथेरिया ने 2 माह की बेटी को तोहफे में दिया चांद पर प्लॉट, जानिए कैसे खरीदी जाती है चांद पर जमीन? जानकारी के अनुसार दमुआ के वार्ड के सिद्धार्थ उर्फ बिट्टू हलदार (20) और रिजवाना (20) के बीच प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों ने सालभर पहले लव मैरिज कर ली थी। प्रेम विवाह के बाद रिजवाना ने धर्म बदल लिया था और रिजवाना से अपना नाम सीमा हलदार रखा लिया था। सीमा ने किसी काम के लिए पति 15 सौ रुपए… Continue reading रिजवाना ने सिद्धार्थ से की लव मैरिज, धर्म बदलकर बन गई थी सीमा, फिर पति ने मामूली बात पर किया मर्डर

29 साल के मैनुद्दीन ने एक साल पहले मन्नू यादव बनकर 20 साल की युवती से मंदिर में की थी शादी, ऐसे हुआ खुलासा

Gorakhpur:  देश में बीते कुछ महीनों में  लव जिहाद(love jihad) को लेकर काफी विवाद हुआ था. जिसके बाद देश  के कई राज्यों में इस पर कानून बनाने को लेकर भी विवाद शुरु हो गया था. इन सबके बाद एक बाद एक बार फिर से यूपी से  ‘लव जिहाद’  का मामला सामने आया है. यहां बता दें कि लव जिहाद पर योगी आदित्यनाथ(Yogi Adityanath) ने कानून बना दिया था. इसके बाद भी सनसनीखेज मामला सामने आया है. जानकारी के अनुसार यूपी में मैनुद्दीन नाम के एक व्यक्ति ने मन्नू यादव ने बनकर मंदिर में एक महिला से शादी रचा ली. शादी के लगभग एक साल बाद जब यवती को पता चला कि उसके पति का नाम मन्नू यादव नहीं बल्कि मैनुद्दीन है तो उसके तो तोते ही उड़ गये. युवती ने तुरंत थाने जा कर अपने साथ हुए धोखे के बारे में पुलिस को बता दिया उसे ये भी पता चला कि उसका पति अब किसी मुस्लिम महिला से शादी करने की योजना बना रहा है. यूपी में  ‘लव जिहाद’ के खिलाफ कानून(LAW)  को को मंजूरी दे चुकी है. इसके साथ ही  10 साल तक जेल( Jail)  की सजा का भी  प्रावधान है. इसे भी पढ़ें- उत्तराखंड में भाजपा का मास्टर स्ट्रोक,… Continue reading 29 साल के मैनुद्दीन ने एक साल पहले मन्नू यादव बनकर 20 साल की युवती से मंदिर में की थी शादी, ऐसे हुआ खुलासा

लव-जिहाद की अनदेखी न करें सभ्य समाज

गैर-मुस्लिम महिलाओं के लिए अधिकांश मुस्लिम पुरुषों का प्रेम मजहबी अभियान अधिक है। अर्थात्- यह इस्लाम के विस्तार हेतु जिहाद है। इस पृष्ठभूमि में क्या मजहब के नाम पर धोखे को स्वीकार करने से सभ्य समाज स्वस्थ रह सकता है?

लव जिहाद कानून पर राजी नहीं दुष्यंत

हरियाणा सरकार लव जिहाद रोकने के लिए धर्मांतरण विरोधी कानून लाने जा रही है पर उससे पहले इसमें पेंच फंस गया है

प्रेम-विवाह सबसे ऊपर

इलाहाबाद उच्च न्यायालय के जज विवेक चौधरी बधाई के पात्र हैं, जिन्होंने अपने फैसले से उस कानूनी बाधा को दूर कर दिया है, जो अंतर्धार्मिक या अन्तरजातीय विवाहों के आड़े आती है।

लव जिहाद कानून पर रोक नहीं

उच्चतम न्यायालय ने विवाह के लिए धर्मांतरण (लव जिहाद) के खिलाफ उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड के कानूनों की वैधानिकता को चुनौती दी जाने वाली याचिकाओं पर दोनों राज्य सरकारों से बुधवार को जवाब तलब किया।

नागरिक अधिकार के पक्ष में

आज देश का जो हाल है, उसमें व्यक्तिगत अधिकारों के पक्ष में हुई कोई बात बेहद अहम लगती है। वरना, पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट ने हाल में जो फैसला दिया, उसमें नई बात कुछ नहीं है।

रूल ऑफ लॉ की धज्जियां

तथाकथित लव जिहाद के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी सरकारों की मुहिम संक्रामक रोग की तरह फैल रही है। उत्तर प्रदेश से शुरू हुआ ये अभियान कर्नाटक के बाद मध्य प्रदेश और हिमाचल प्रदेश तक पहुंच चुका है।

और लोड करें