kishori-yojna
सपा के एक और MP ने दिया अजीब बयान, कहा- लड़कियों का पकड़ कर रेप कराया, अल्लाह के सामने गिड़गिड़ाने से खत्म होगा कोरोना

लखनऊ |  उत्तर प्रदेश में अभी विधानसभा चुनाव शुरू होने को काफी समय बचा हुआ है. लेकिन अभी से ही नेताओं के उल -जलूल बयान आने शुरू हो गए हैं. ऐसा ही एक बयान समाजवादी पार्टी के सांसद शफीक उर-रहमान बर्क ने दे दिया है. बर्क ने कहा है कि कोरोना कोई बीमारी है ही नहीं यदि कोरोना कोई बीमारी होती तो दुनिया में उसका इलाज जरूर होता. उन्होंने कहा कि यह बीमारी केंद्र सरकार की गलतियों की वजह से आई है जो अल्लाह के सामने रो-रो कर गिड़गिड़ाने और माफी मांगने से ही कोरोना के परेशानी खत्म होगी. बता देगी कल समाजवादी पार्टी के ही सांसद एसटी हसन ने भी कोरोना को लेकर एक अजीबोगरीब बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि शरीयत में छेड़छाड़ करने के कारण कोरोना कहर बरसा रहा है. एसटी हसन से भी आगे निकले सासंद बर्क बता दे कि समाजवादी पार्टी ने तो शरीयत की छेड़छाड़ और केंद्र सरकार की आलोचना कर बात को खत्म कर दिया था. लेकिन आज समाजवादी पार्टी के दूसरे सांसद ने तो सभी हदें पार कर दी. सांसद बर्क ने कहा कि भाजपा ने नासिर शरीयत से छेड़छाड़ की है बल्कि अपनी सरकार में लड़कियों को पकड़ कर बलात्कार… Continue reading सपा के एक और MP ने दिया अजीब बयान, कहा- लड़कियों का पकड़ कर रेप कराया, अल्लाह के सामने गिड़गिड़ाने से खत्म होगा कोरोना

पॉलिटिक्स एट द पिक :  थिएटर आर्टिस्ट  के भाजपा जॉइन  करने पर किया नाटक से बाहर

Kolkata: पश्चिम बंगाल में चुनाव (Bengal Elections) का असर अब आम लोगों पर भी पड़ने लगा है. टीएमसी (TMC) और भाजपा (BJP) के टकराव से आम लोग भी प्रभावित हो रहे हैं. यह मामला कौशिक कार नाम के एक थिएटर आर्टिस्ट का है. जिसे प्ले से इसलिए हटा दिया गया क्यों कि उसने  बीजेपी जॉइन कर ली थी. इस घटना के बाद से बंगाल के सांस्कृतिक कलाकार भी दो हिस्सों में बंटटे हुए नजर आ रहे हैं. सोशल मीडिया (SOCIAL MEDIA) में भी इस बात को लेकर गहमागहमी बढ़ गयी है. हालांकि इस घटना के बाद से कुछ वरिष्ठ कलाकारों ने मोर्चा संभाला है. उनका कहना है कि कलाकर सिर्फ कलाकार होता है उसे राजनीति का चश्मा पहनाकर नहीं देखा जाना चाहिए.  कलाकार की भी एक निजी जिंदगी होती है जिसमें वो अपनी इच्छा से कुछ भी कर सकता है. इसे कलाकार की क्षमता से के साथ जोड़ कर नहीं देखा जाना चाहिए. क्या कहना प्ले का मंचन करने वाले सौरव का प्ले का मंचन करने वाले सौरव पलोधी (SOURAV PALODHI) का कहना है कि नाटक का वर्तमान राजनीतिक जुड़ाव (POLITICAL CONNECTION)  ही उन्हें हटाये जाने कारण है. उन्होंने कहा कि  2019 में पलोधी ग्रुप ने उन्हें कैरेक्टर प्ले करने… Continue reading पॉलिटिक्स एट द पिक :  थिएटर आर्टिस्ट  के भाजपा जॉइन  करने पर किया नाटक से बाहर

पालघर मॉब लिंचिंग की हो सीबीआई जांच

महाराष्ट्र के पालघर जिले में बीते दिनों दो संतों और उनके वाहन चालक की मॉब लिंचिंग की घटना के पीछे हिंदू धर्म आचार्य सभा को बड़ी साजिश दिख रही है।

अफवाहों पर रोक कौन लगाएगा?

कुछ दिन पहले सोशल मीडिया में यह अफवाह जोर-शोर से चली थी कि देश के लोगों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सम्मान में दो मिनट के लिए खड़ा होना है।

और लोड करें