सरकार जल्द लायेगी एमएसएमई की नयी परिभाषा : गडकरी

सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उपक्रम (एमएसएमई) के विकास के लिए प्रतिबद्धता जताते हुए बृहस्पतिवार को सरकार ने कहा कि जल्द ही इस क्षेत्र की नयी परिभाषा लायी जाएगी

सॉल्व एमएसएमई के लिए दिल्ली में आयोजित करेगा ऋण मेला

नई दिल्ली। बेंगलुरु स्थित सॉल्व बी2बी प्लेटफार्म ने दिल्ली में 20 से 22 फरवरी तक सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम (एमएसएमई) उद्यमियों के लिए ‘व्यापार ऋण मेला’ आयोजित किया है। इस मेले में उद्यमी कई ऋणदाताओं तक पहुंच बना सकेंगे। इसमें लेंडिंगकार्ट, इंडिफाई और फ्लेक्सिलोन्स आदि शामिल हैं। इस दौरान वे न्यूनतम दस्तावेजी कार्यवाही पूरी करके आकर्षक ब्याज दरों पर कर्ज प्राप्त कर सकेंगे। सॉल्व के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं संस्थापक नितिन मित्तल ने इस मेले को लेकर कहा, सॉल्व एमएसएमई की ऋण सम्बंधी जरूरतें पूरी करने के लिये इस पहल को लॉन्च कर काफी प्रसन्न हैं, इसमें मिलने वाले कर्ज से उद्यमी केवल अपने व्यवसाय की वृद्धि और विस्तार पर केन्द्रित रहें। सॉल्व में हम एमएसएमई को अपने बी2बी कॉमर्स प्लेटफॉर्म के जरिए तेजी से तरक्की की ओर ले जाना चाहते हैं। एमएसएमई देश की रीढ़ हैं। इन्हें मजबूत करने की दिशा में व्यापार ऋण मेला एक महत्वपूर्ण कदम है। उन्होंने कहा कि व्यापार ऋण मेला सभी छोटे और मझौले व्यावसायियों के लिये खुला है। उन्हें कर्ज के लिए अपने जीएसटी संबंधी दस्तावेज एवं पैन कार्ड की प्रतियां तथा अंतिम 12 माह का बैंक एकाउंट का स्टेटमेन्ट देना होगा। अंतिम अनुमोदन के बाद कर्ज मिलने में अधिकतम दो या तीन… Continue reading सॉल्व एमएसएमई के लिए दिल्ली में आयोजित करेगा ऋण मेला

एमएसएमई अर्थव्यवस्था के लक्ष्य का आधार : मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि परंपरागत उत्पाद तथा लघु, सूक्ष्म एवं मध्यम उद्योग (एमएसएमई) देश को पांच ट्रिलियन अर्थव्यवस्था बनाने के लक्ष्य के आधार हैं और केन्द्र सरकार इन्हे आगे बढ़ाने का काम कर रही है।

आय फाइनेंस से जुड़े दो लाख एमएसएमई

फिनटेक ऋण प्रदाता कंपनी आय फाइनेंस से अब तक दो लाख से अधिक एमएसएमई जुड़ चुके हैं और उन्हें 2900 करोड़ रुपये से अधिक के ऋण प्रदन किये गये हैं।

एसबीआई ने ब्याज दरों में कमी की

मुंबई। देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक ने रिजर्व बैंक के रेपो रेट से जुड़े कर्ज पर ब्याज दरों में चौथाई फीसदी कटौती का ऐलान किया है। इससे आवास और वाहन के कर्ज की किश्तों में मामूली कमी आ सकती है। एसबीआई ने कर्ज के लिए बाहरी मानकों पर आधारित अपनी ब्याज दर यानी ईबीआर को 0.25 फीसदी कम कर 7.80 फीसदी करने की घोषणा की है। इससे पहले यह दर 8.05 फीसदी थी। नई दर पहली जनवरी 2020 से प्रभावी होगी। बैंक के इस फैसले से उसके आवास ऋण पर ब्याज कम हो जाएगा और उससे ईबीआर के आधार पर कर्ज लेने वाले सूक्ष्म, लघु और मझोले उद्यमों पर भी ब्याज के बोझ में प्रति सैकड़ा 25 पैसे की कमी हो जाएगी। बैंक नए आवास ऋण सालाना 7.90 फीसदी की दर से देगा। अब तक यह दर 8.15 फीसदी थी। भारतीय रिजर्व बैंक के निर्देशों के अनुसार, भारतीय स्टेट बैंक ने पहली अक्टूबर 2019 से ईबीआर आधारित ब्याज की व्यवस्था लागू की है। बैंक ने इसके तहत एक अक्टूबर 2016 से सूक्षम, लघु और मझोले उद्यमों, आवास खरीदारों और खुदरा ग्राहकों के लिए परिवर्तनशील दर पर लिए गए कर्जों का ब्याज रिजर्व बैंक की रेपो दर में… Continue reading एसबीआई ने ब्याज दरों में कमी की

अमेजन इंडिया ने किया सीआईआई के साथ गठबंधन

अमेजन इंडिया ने सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यमों के व्यवसाय विस्तार के लिए भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) के साथ गठबंधन किया है

वॉलमार्ट का वृद्धि प्रोग्राम लॉन्च, एमएसएमई को मिलेगी मदद

खुदरा प्रमुख वॉलमार्ट ने आज ‘वॉलमार्ट वृद्धि सप्लायर डेवलपमेंट प्रोग्राम’ लॉन्च किया। कंपनी ने यह प्रोग्राम भारत में अपनी क्षमता और आपूर्ति बढ़ाने के लिए सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग की मदद करने के लिए एक पहल के तौर पर शुरू किया है।

और लोड करें