Mukesh Sahni

  • तेजस्वी, सहनी के मछली खाने का विरोध

    इन दिनों भारत की राजनीति ऐसी हो गई है कि बात बात पर सनातन धर्म खतरे में आ जा रहा है। बिहार में राजद नेता और पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव और विकासशील इंसान पार्टी के नेता मुकेश सहनी ने मछली खाते हुए अपना वीडियो पोस्ट किया तो पटना से लेकर दिल्ली तक भाजपा के अनेक नेताओं की भावनाएं आहत हो गईं और कहा जाने लगा कि ये दोनों नवरात्रों के बीच मछली खा रहे थे इसलिए सनातन विरोधी हैं। सोचें, मछली खाने से कोई कैसे सनातन विरोधी हो सकता है? लेकिन उससे भी दिलचस्प बात यह है कि तेजस्वी...

  • बिहार में मुकेश सहनी विपक्षी गठबंधन में शामिल

    पटना। लोकसभा चुनाव से पहले एक बड़े घटनाक्रम में बिहार में ‘सन ऑफ मल्लाह’ के नाम से मशहूर मुकेश सहनी की विकासशील इंसान पार्टी यानी वीआईपी विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ में शामिल हो गई है। पटना में एक साझा प्रेस कांफ्रेंस करके मुकेश सहनी और राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव ने इसकी घोषणा की। सहनी के विपक्षी गठबंधन में शामिल होने की घोषणा करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा- हम मुकेश सहनी का महागठबंधन में स्वागत करते हैं।आरजेडी बिहार में अपने हिस्से की 26 में तीन सीट मुकेश सहनी को देगी। ये सीटें गोपालगंज, झंझारपुर और मोतिहारी है, जहां...

  • पप्पू यादव और मुकेश सहनी क्या करेंगे

    बिहार के दो नेता इस समय बहुत बेचैन हैं। एक पप्पू यादव हैं, जिन्होंने जन अधिकार पार्टी नाम से अपनी पार्टी बनाई है। दूसरे मुकेश सहनी हैं, जिनकी विकासशील इंसान पार्टी है। ये दोनों मजबूत जातीय आधार वाले नेता हैं लेकिन उनको कोई नहीं पूछ रहा है। बाकी पार्टियों का हिसाब तय हो गया है। सब या तो महागठबंधन यानी ‘इंडिया’ का हिस्सा हैं या भाजपा के नेतृत्व वाले एनडीए का। उपेंद्र कुशवाहा का राष्ट्रीय लोक जनता दल, जीतन राम मांझी का हिंदुस्तान अवाम मोर्चा और चिराग-पारस की लोक जनशक्ति पार्टी एनडीए के साथ है तो राजद, जदयू, कांग्रेस, सीपीएम,...

  • मांझी और सहनी का सम्मान कैसे बचेगा?

    भाजपा के जानकार सूत्रों के मुताबिक जीतन राम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा को अगले चुनाव में लोकसभा की एक सीट दी जाएगी और अगर मुकेश सहनी महागठबंधन छोड़ कर निकलते हैं तो उनकी पार्टी को भी एक सीट मिलेगी। मांझी इस आधार पर अलग हुए हैं कि नीतीश उनका अस्तित्व मिटाना चाहते थे और सहनी भी इस आधार पर अलग होंगे उनके सम्मान का ध्यान नहीं रखा जाएगा। उसके बाद दोनों भाजपा गठबंधन में शामिल होंगें, जहां उनको एक एक सीट मिलेगी। इस तरह एक एक लोकसभा सीट लेकर दोनों का सम्मान बच जाएगा! यह भी ध्यान रखने...