मानवाधिकारों के पक्ष में

गुवाहाटी हाई कोर्ट ने पिछले दिनों मानवाधिकारों के पक्ष में एक अहम फैसला दिया। ये निर्णय असम में विदेशियों के लिए जेलों में बने डिटेंशन सेंटर के मुद्दे पर आया। जाहिर है, हाई कोर्ट का फैसला राज्य सरकार के लिए एक तगड़ा झटका है।

शाहीन बागः रास्ता रोक पर रोक

सर्वोच्च न्यायालय ने एक ऐसा फैसला दे दिया है, जिसके कारण सभी प्रदर्शनकारियों और धरनाधारियों को अब ज़रा सम्हलकर रहना होगा। शाहीन बाग में कई हफ्तों तक पड़ौसी देशों के शरणार्थियों के बारे में बने कानून के विरुद्ध धरना चलता रहा।

सार्वजनिक जगहों पर प्रदर्शन इजाजत नहीं

संशोधित नागरिकता कानून के विरोध में दिल्ली के शाहीन बाग में हुए धरने को लेकर सुप्रीम कोर्ट में दायर मुकदमे की सुनवाई पूरी हो गई है और अदालत ने फैसला सुरक्षित रख लिया है। इस मामले में प्रदर्शन करने के अधिकार को लेकर सुनवाई हुई है।

सीएए विरोधी अब भाजपा में

यह कमाल की राजनीति हो रही है। कुछ समय पहले देश भर में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर आंदोलन चल रहे थे। विरोध-प्रदर्शन हो रहा था और सीएए व एनआरसी के विरोध का आंदोलन आधुनिक समय का सबसे बड़ा आंदोलन बन गया था।

लखनऊ में सीएए-एनआरसी का प्रदर्शन स्थगित

उत्तर प्रदेश की राजधानी में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और नागरिकों के राष्ट्रीय रजिस्टर (एनआरसी) के खिलाफ चल रहे धरना प्रदर्शन को कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप

शाहीन बाग में आपस में भिड़े दो गुट

दिल्ली के शाहीन बाग धरनास्थल के पास रविवार सुबह एक अज्ञात व्यक्ति ने पेट्रोल बम फेंक दिया। पुलिस ने यह जानकारी दी।

दिल्ली विधानसभा में एनपीआर, एनआरसी के खिलाफ प्रस्ताव पारित

दिल्ली विधानसभा ने राष्ट्रीय जनसंख्या पंजी (एनपीआर) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के खिलाफ शुक्रवार को प्रस्ताव पारित किया।

शुक्रवार को दिल्ली विधानसभा का विशेष सत्र

दिल्ली सरकार एनआरसी और कोरोनावायरस की स्थिति पर चर्चा करने के लिए शुक्रवार को विधानसभा का विशेष सत्र आयोजन करेगी।

शाहीनबाग : बंद दुकानों ने फीकी कर दी होली की रौनक

नई दिल्ली। देशभर में जहां एक ओर रंगों को त्योहार पूरी धूम-धाम से मनाया जा रहा है, वहीं इस बार मौजूदा समय में शाहीनबाग स्थित बंद दुकानों ने त्योहार की रौनक फीकी कर दी है। दुकानों के स्थायी ग्राहकों ने अब अन्य जगहों से सामान खरीदना शुरू कर दिया है। सरिता विहार में रहने वाली एक गृहणी ने नाम जाहिर न करने की शर्त पर कहा कोरोनावयरस के बढ़ते प्रकोप के चलते इस बार होली न ही मनाएं तो ज्यादा अच्छा है। गुलाल का टीका लगा देने से काम चल जाएगा। पहले बच्चों के कपड़ों सहित खाने-पीने की कई चीजें शाहीन बाग की दुकानों से ले लिया करते थे, अब कहीं और से ही खरीदा होगा। शाहीनबाग में कपड़ों की दुकान चलाने वाले रोहित ने कहा हमारे कर्मचारी त्योहार के लिए पैसे मांग रहे हैं, लेकिन ढाई महीने से दुकान बंद रहने के चलते इस वक्त तो हालत यह है कि खाने के लिए भी हमारे पास पैसा नहीं है। उन्हें कहां से दें? रोहित ने ग्रहकों के नहीं आने की बात बताते हुए कहा अब हमारे पास कौन आएगा? पुराने सभी ग्राहक दूसरी जगह से सामान लाने लगे हैं, नए ग्राहक बनाने में तीन महीनों से अधिक का समय… Continue reading शाहीनबाग : बंद दुकानों ने फीकी कर दी होली की रौनक

सोनिया को सौंपी रिपोर्ट, मिश्रा, प्रवेश, अनुराग पर कार्रवाई की मांग

दिल्ली हिंसा की जांच करने गये कांग्रेस के प्रतिनिधि मंडल ने पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है और कहा है कि केंद्र तथा दिल्ली सरकार की विफलता के कारण दंगे हुए हैं इसलिए सच्चाई सामाने लाने के लिए उच्चतम न्यायालय या उच्च न्यायालय के न्यायाधीश की अध्यक्षता में दंगों की जांच कराने के आदेश दिए जाने चाहिए।

शाहीन बाग में दिन के समय नहीं जुट रही भीड़

शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के विरोध में पिछले 84 दिनों से चल रहा प्रदर्शन अब फीका पड़ने लगा है।

क्या बज रहा भारत का डंका?

कहां तो हल्ला मचा था कि पूरी दुनिया में भारत का डंका बज रहा है और दावा किया जा रहा था कि पहली बार भारत की बात को दुनिया गंभीरता से सुन रही है। भाजपा और सरकार के मंत्रियों का भी दावा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वजह से दुनिया में भारत की ताकत बढ़ी है। पर पहली बार कोई मामला आया और भारत दुनिया भर के देशों से घिर गया। भारत के समर्थन में बोलने वाले गिने-चुने मिलेंगे और विरोध में दर्जनों देश खड़े हो गए। राष्ट्रपति ट्रंप ने भी दिल्ली के दंगों को और कुछ हद तक सीएए को भारत का आंतरिक मामला बताया था पर कश्मीर के मामले में वे भी पंचायत के लिए तैयार हैं। उन्होंने भारत में साझा प्रेस कांफ्रेंस में भी कहा कि अगर दोनों देश यानी भारत और पाकिस्तान चाहें तो वे मध्यस्थता के लिए तैयार हैं। सवाल है कि जब भारत हजार बार कह चुका है कि उसे तीसरे पक्ष का दखल मंजूर नहीं है तो वह क्यों चाहेगा कि अमेरिका इसमें पंचायत करे? फिर भी ट्रंप बार बार यह बात दोहराते रहते हैं। ध्यान रहे दुनिया के ज्यादातर देश, जिनमें यूरोपीय देश भी शामिल हैं, इस्लामोफोबिया से ग्रस्त हैं। वे… Continue reading क्या बज रहा भारत का डंका?

दिल्ली-दंगे और भारत की छवि

दिल्ली में हुए दंगों के बाद दो अंतरराष्ट्रीय प्रतिक्रियाएं आईं, जो कि काफी गंभीर है। पहली तो है- संयुक्त राष्ट्र मानव अधिकार आयोग की और दूसरी है, ईरान की ! इस आयोग ने जिनीवा स्थित हमारे दूतावास को बताया है कि भारत के सर्वोच्च न्यायालय में वह एक मुकदमा करनेवाला है, जिसमें उसका तर्क होगा कि भारत सरकार ने नागरिकता संशोधन कानून पास करके भारतीय संविधान का उल्लंघन किया है। पड़ौसी देशों के मुस्लिम शरणार्थियों की उपेक्षा इस कानून की सबसे बड़ी कमी है। इस तरह का मुकदमा मेरी जानकारी में आज तक भारत की किसी अदालत में संयुक्तराष्ट्र संघ की किसी संस्था ने नहीं डाला है। यह अपूर्व है। भारत सरकार ने इसकी कड़ी आलोचना की है। पता नहीं, सर्वोच्च न्यायालय इस मुकदमे को अनुमति देगा या नहीं लेकिन एक बात निश्चित है कि इस खबर से ही दुनिया में भारत की छवि पर खराब असर पड़ेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत की छवि चमकाने में जो अपूर्व परिश्रम किया है, उस पर फिजूल ही आंच आती दिखाई पड़ रही है। इस फर्जी डर के मुद्दे से निपटने का सही रास्ता सरकार को जल्दी से जल्दी ढूंढना चाहिए। दिल्ली के दंगों ने इसे तूल दे दिया है। यह बात… Continue reading दिल्ली-दंगे और भारत की छवि

खौफ फैलाते मुद्दे

देश में पिछले दो-तीन महीने से नागरिकता संशोधित कानून (सीएए), राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) को लेकर लेकर जिस तरह कोहराम मचा है

मेघालय की आग

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ और इनर लाइन परमिट व्यवस्था लागू करने की मांग को लेकर मेघालय में पिछले तीन दिन से जारी हिंसा में अब तक तीन लोग मारे जा चुके हैं।

और लोड करें