झारखंड पंचायत चुनाव 2022 के लिए आज से नामांकन प्रक्रिया शुरू, जानें चुनाव का पूरा कार्यक्रम

रांची समेत 21 जिलों में मतदान 14 मई को होगा। जिसमें सभी पंजीकृत मतदाता विभिन्न पदों के लिए कुल 16,757 प्रतिनिधियों का चुनाव करेंगे।

पंचायत चुनाव अब भी किंतु परंतु यद्यपि लेकिन चूंकि..

वैसे तो चुनाव की घोषणा होने के बाद उम्मीदवार चुनावी तैयारियों में जुट जाते हैं लेकिन त्रिस्तरीय पंचायती राज के चुनाव इतनी बार टाले गए हैं और अभी भी लोग कोर्ट में जा रहे हैं।

राजस्थान में बजा पंचायत चुनाव का बिगुल, 26 अगस्त से होगी पहले चरण की शुरुआत

राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार, प्रथम चरण के लिए 26 अगस्त, दूसरे चरण के लिए 29 अगस्त और तृतीय चरण के लिए 1 सितंबर को सुबह 7.30 बजे से शाम 5.30 बजे तक मतदान करवाया जाएगा। जबकि 4 सितंबर को संबंधित जिला मुख्यालयों पर मतगणना करवाई जाएगी।

तीन बनाम 16 सौ का हिसाब

उत्तर प्रदेश सरकार ने साफ कर दिया है कि राज्य में अप्रैल में हुए पंचायत चुनावों के दौरान ड्यूटी करते हुए सिर्फ तीन शिक्षकों की मौत हुई है इसलिए सरकार सिर्फ तीन शिक्षकों को ही मुआवजा देगी। सरकार का कहना है कि जिले के कलेक्टरों ने जो सूचना जुटाई है उसके हिसाब से ड्यूटी पर सिर्फ तीन लोगों के मरने की खबर है। दूसरी उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षा संघ का दावा है कि उत्तर प्रदेश के पंचायत चुनावों में ड्यूटी में लगाए गए 1,621 शिक्षकों की मौत हुई है। दूसरी सेवाओं के जिन लोगों को चुनाव और मतगणना की ड्यूटी में लगाया गया था उनकी मौत का आंकड़ा अलग है। उनकी मौत के बारे में चुनाव आयोग ने इलाहाबाद हाई कोर्ट में कहा है कि कुल 77 कर्मचारियों की मौत हुई है। अब सोचें, सरकारी आंकड़े में तीन बनाम शिक्षक संघ के आंकड़े वाली 1,621 मौतें के बारे में। यह भी पढ़ें: अब डीडी इंटरनेशनल की तैयारी पिछले दिनों इलाहाबाद हाई कोर्ट के सामने चुनावी ड्यूटी में हुई मौतों और मुआवजे का मामला आया था, जिसमें चुनाव आयोग ने बताया था कि 77 लोगों की मौत हई है और सबको 30 लाख रुपए के हिसाब से मुआवजा दिया जाएगा। इस… Continue reading तीन बनाम 16 सौ का हिसाब

Corona Virus : ग्रामीण क्षेत्रों में भी कोरोना का कहर, पंचायत चुनाव के बाद बिगड़े हालात

नोएडा | गौतम बुद्ध नगर में कस्बों और गांवों (villages) में कोरोना (Corona) के तेजी से फैल रहे प्रकोप के मद्देनजर बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं (Health facilities) उपलब्ध कराने के प्रयास किए जा रहे हैं। एक अधिकारी ने आज बताया कि जरूरी दवाएं (medicines) मुहैया कराने और संक्रमण की जांच कराने के लिए कई केंद्र खोले गए हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ दीपक अहोरी (Dr. Deepak Ahori) ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधाएं (Health facilities) बेहतर की जा रही हैं जिसके तहत दवाइयां एवं ऑक्सीजन उपलब्ध कराने तथा कोरोना की जांच के लिए कई केंद्र खोले गए हैं। उन्होंने लोगों से अपील की है कि संक्रमण के लक्षण दिखाई देने पर तुरंत जांच कराएं तथा संक्रमित पाए जाने पर स्वास्थ्य विभाग से संपर्क कर दवाइयों का कीट हासिल करें। सीएमओ ने बताया कि घर में रहकर इलाज करा रहे लोगों के लिए जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने दवाइयों की किट उनके घरों पर पहुंचानी शुरू कर दी है। साथ ही बताया कि शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में ऑक्सीजन की कमी को दूर करने के लिए पांच केंद्र बनाए गए हैं। उन्होंने बताया कि ऑक्सीजन सिलेंडर (Oxygen Cylinder) तथा रेमडेसिविर इंजेक्शन की दर तय कर दी गई है। अब… Continue reading Corona Virus : ग्रामीण क्षेत्रों में भी कोरोना का कहर, पंचायत चुनाव के बाद बिगड़े हालात

Uttar Pradesh: पंचायत चुनाव के उम्मीदवार राकेश बाबू की चाकू मारकर हत्या

मैनपुरी| उत्तर प्रदेश के मैनपुरी (Mainpuri) में 19 अप्रैल को होने वाले पंचायत चुनाव (Panchayat Election) से पहले 60 वर्षीय एक ब्लॉक डेवलपमेंट काउंसिल (BDC) के उम्मीदवार राकेश बाबू (Rakesh Babu( की कथित तौर पर चाकू मारकर हत्या कर दी गई है। गुरुवार को उनका शव खेत में पड़ा मिला। मृतक के रिश्तेदार के अनुसार, वह बुधवार को चुनाव प्रचार (Election Campaign) के लिए गए हुए थे, लेकिन वापस नहीं आए और गुरुवार को उनका शव खेत में पड़ा मिला। पुलिस अधीक्षक (एसपी) अविनाश पांडे ने कहा कि सबूत जुटाने के लिए फोरेंसिक और डॉग स्क्वॉड की टीमों ने अपराध स्थल का दौरा किया है। प्रारंभिक जांच में पता चला कि उसी जगह उनकी हत्या हुई है, जहां उनका शव मिला था। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। इसे भी पढ़ें – Ramadan 2021 : कोरोना के साये के बीच रमजान का पहला जुमा, घरों पर ही इबादत की अपील  

UP Panchayat Election 2021: चुनाव के दौरान हुई हिंसक घटनाओं में चली लाठियां, मतदाताओं के नाम वोटिंग लिस्ट से गायब

उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव (Panchayat Election) में पहले चरण के लिए 18 जिलों में मतदान हो रहा है। इस चरण में जिला पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य, ग्राम प्रधान और ग्राम पंचायत वार्ड सदस्य के 2.21 लाख से अधिक पदों के लिए 3.33 लाख से ज्यादा उम्मीदवार मैदान में हैं।

Panchayat Election 2021: यूपी में हो रहा कमाल, आपसी रजामंदी से चुने जा रहे ग्राम प्रधान

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में हर गांव में आज कल माहौल बदला हुआ है। एक तरफ जहां हर गांव में मुख्यमंत्री के निर्देश पर कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए विशेष स्वच्छता (सफाई-सेनिटाइजेशन) अभियान चलाया जा रहा है। वहीं दूसरी तरफ कोरोना संक्रमण (Corona Transition) से बचाव के निर्देशों का पालन करते हुए प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों (Rural Areas) में पंचायत चुनावों (Panchayat Election) को लेकर जोरशोर से चुनाव प्रचार भी किया जा रहा है।  गांवों के ऐसे माहौल में पंचायत चुनावों के पहले चरण में सूबे के 18 जिलों में 15 अप्रैल को मतदान होना है। इस मतदान को शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए प्रदेश पुलिस ने पुख्ता सुरक्षा इंतजाम किए हुए हैं। सरकार और पुलिस के सुरक्षा प्रबंधो के चलते सूबे में पंचायत चुनावों का परिदृश्य भी बदला है। जिसके चलते अब बड़ी संख्या में ग्राम प्रधान, जिला पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य, और ग्राम पंचायत सदस्यों का ग्रामीण निर्विरोध चुनाव कर रहे हैं। ग्रामीण लोकतंत्र और आपसी भाई-चारे को मजबूत करने की यह नई पहल है। इसे भी पढ़ें – Corona Blast in India : 24 घंटे में 1.85 लाख से ज्यादा नए केस, 1000 पार पहुंचा मौत का आंकड़ा सूबे के राज्य निर्वाचन आयुक्त मनोज कुमार ने… Continue reading Panchayat Election 2021: यूपी में हो रहा कमाल, आपसी रजामंदी से चुने जा रहे ग्राम प्रधान

UP Panchayat Election: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से प्रेरित होकर यह महिला लड़ रही पंचायत चुनाव

मुजफ्फरनगर| मुजफ्फरनगर में आयोजित होने वाले पंचायत चुनाव (Panchayat Election) में 35 वर्षीय मीनाक्षी (Meenakshi) ग्राम प्रधान पद की उम्मीदवार हैं। मेरठ विश्वविद्यालय से स्नातक मीनाक्षी के पति ज्ञान सिंह एक स्थानीय मजदूर हैं। मीनाक्षी अपने गांव चोरावाला से चुनाव (Election) लड़ने की तैयारियों में जुटी हुई हैं, जहां करीब 7,000 मतदाताओं में अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित सीट भी है। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन योजना (National Rural Livelihood Mission Scheme) के तहत मीनाक्षी के लिए एक चाय के दुकान की व्यवस्था कर दी गई। पिछले तीन सालों से वह चाय बेचकर अपने परिवार की आजीविका चलाती हैं। मीनाक्षी कहती हैं, मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) के सफर से प्रेरित हूं। अगर चाय बेचने के बाद वह प्रधानमंत्री बन सकते हैं, तो मैं एक चायवाली होकर ग्राम प्रधान (Village Head) क्यों नहीं बन सकती हूं? इसे भी पढ़ें – देशभर में कोरोना हो रहा बेकाबू! एक ही दिन में 1 लाख 70 हजार के करीब नए मामले आए सामने वह एक स्वतंत्र उम्मीदवार के रूप में चुनाव (Election) लड़ रही हैं। मीनाक्षी का कहना है कि उन्हें किसी भी राजनीतिक दल का समर्थन प्राप्त नहीं है, लेकिन उनके पास गांव के लोगों का पूरा साथ है। उनके पति ज्ञान सिंह… Continue reading UP Panchayat Election: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से प्रेरित होकर यह महिला लड़ रही पंचायत चुनाव

UP Panchayat Election: आजादी के 70 साल बाद 23 गांव को मिला वोटिंग अधिकार, पहली बार करेंगे मतदान

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के 23 वनटांगिया (Tribal community) गांवों के निवासी प्रदेश के मौजूदा Panchayat Election में पहली बार voting करेंगे। इनमें से 5 गांव गोरखपुर के और महराजगंज जिले के 18 गांव हैं। इन 23 वनटांगिया गांवों को Yogi Adityanath government ने 1 जनवरी 2018 को “राजस्व गांव” घोषित किया था। Vantangiya Tribal Community का CM Yogi Adityanath के दिल में एक विशेष स्थान है, जो इस क्षेत्र में ‘टॉफी वाले बाबा’ के नाम से प्रसिद्ध हैं। मुख्यमंत्री पिछले कई सालों से वनटांगिया बच्चों के साथ दिवाली मना रहे हैं। इसे भी पढ़ें – West Bengal Assembly Election: बंगाल में भाजपा की लहर, तृणमूल कांग्रेस का सत्ता से बेदखल होना तय : मोदी वनटांगिया लोग पिछले साल 25 दिसंबर को तब सुर्खियों में आए, जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अनुबंध खेती का उदाहरण स्थापित करने के लिए एक एफपीओ ‘महाराजगंज सब्जी उत्पादक कंपनी’ के निदेशक राम गुलाब के साथ आभासी बातचीत की। महाराजगंज के वनटांगिया गांवों के किसानों ने गोल्डेन स्वीट टोमैटो (टमाटर) की खरीद के लिए अहमदाबाद की एक कंपनी के साथ करार किया था। डीडीयू गोरखपुर विश्वविद्यालय के एक रिसर्च स्कॉलर (शोध शिक्षाविद) संदीप राय ने कहा, “लगभग 99 वर्ष पहले ब्रिटिश सरकार ने जंगलों की सफाई के… Continue reading UP Panchayat Election: आजादी के 70 साल बाद 23 गांव को मिला वोटिंग अधिकार, पहली बार करेंगे मतदान

UP Panchayat Election: सपा को लगा बड़ा झटका, इस वरिष्ठ नेता ने दिया इस्तीफा

लखनऊ। यूपी में पंचायत चुनाव का माहौल बना हुआ है और इसी बीच समाजवादी पार्टी को बड़ा झटका लगा है। पश्चिमी यूपी में पार्टी की बागडोर सँभालने वाले मेरठ के वरिष्ठ नेता Gopal Agarwal ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। SP में कई दशकों से जुड़े रहे वरिष्ठ नेता Gopal Agarwal ने सपा मुखिया अखिलेश को पत्र लिखकर अपना इस्तीफा भेजा है। Samajwadi Party की समाजवादी व्यापार सभा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष तथा दो बार पार्टी के प्रदेश सचिव रहे मेरठ के वरिष्ठ नेता Gopal Agarwal ने Samajwadi Party से आज त्यागपत्र दे दिया। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को लिखे पत्र में उन्होंने त्यागपत्र को तत्काल प्रभावी माने जाने तथा मुलायम सिंह यादव, अखिलेश यादव का आभार प्रकट करने के साथ पार्टी के सभी नेताओं व कार्यकतार्ओं को धन्यवाद प्रेषित किया। मूल रूप से आगरा निवासी Gopal Agarwal ने 1967 में युवजन सभा से जुड़ने के बाद जीवन में समाजवादी आंदोलन से किसी दूसरी पार्टी का दामन नहीं थामा। छात्र राजनीति से पूर्णकालीन भूमिका के साथ Gopal Agarwal ने हिन्द मजदूर सभा ट्रेड यूनियन गतिविधियों एवं जॉर्ज फनार्डीज के द्वारा प्रकाशित समाचार-पत्र प्रतिपथ में भी कार्य किया। वह आपातकाल में भूमिगत रहे जबकि उनकी गिरफ्तारी के लिए… Continue reading UP Panchayat Election: सपा को लगा बड़ा झटका, इस वरिष्ठ नेता ने दिया इस्तीफा

Panchayat Election: विदा हो चुकी थ्री नॉट थ्री रायफल अब इनके के हाथों में आएगी नजर

लखनऊ। उत्तर प्रदेश से विदा हो चुकी थ्री नॉट थ्री राइफल अब एक बार फिर पंचायत चुनावों में देखने को मिलेगी। Electoral System को दुरुस्त रखने के लिए यह होमगार्डो के हाथ में नजर आने वाली है। एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार ने सभी जिलों के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक और पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखकर Election duty में लगे होमगार्ड जवानों को Three not three Rifle देने का निर्देश दिया है। ADG कानून-व्यवस्था का कहना है कि जिलों में आवश्यकता के अनुसार थ्री नॉट थ्री राइफल के प्रशिक्षण प्राप्त होमगार्ड को Security duty पर लगाया जाएगा। किस जिले में कितने Homeguard राइफल के साथ मुस्तैद किए जाएंगे, इसका निर्णय संबंधित जिले के एसपी के स्तर से लिया जाएगा। election duty के बाद राइफल वापस मालखाने में जमा करा दी जाएगी। इसे भी पढ़ें – 56 इंची छाती और पिचकी कूटनीति Panchayat Election के हर चरण में 66,444 होमगार्ड ड्यूटी पर मुस्तैद होंगे। इसके अलावा जिले में Election duty के लिए संबंधित जोन के स्तर से पुलिस बल की तैनाती की जाएगी। DGP Headquarters स्तर से पीएसी, Homeguard व PRD जवानों का आवंटन किया जाएगा। ज्ञात हो कि यह वही राइफल है, जिसे पुलिस ने बीते वर्ष 26 जनवरी की परेड में विदाई… Continue reading Panchayat Election: विदा हो चुकी थ्री नॉट थ्री रायफल अब इनके के हाथों में आएगी नजर

मप्र : कांग्रेस नगरीय निकाय और पंचायत चुनाव में नई पीढ़ी पर लगाएगी दांव

मध्यप्रदेश में विधानसभा के उपचुनाव में मिली हार के बाद कांग्रेस नगरीय निकाय और पंचायत चुनाव की तैयारी में जुट गई है। पार्टी इन चुनावों में नए चेहरों और नई पीढ़ी पर दांव लगाने का मन बना रही है

राजस्थान में पंचायत चुनाव के अंतिम चरण में दोपहर तक करीब चालीस प्रतिशत मतदान

राजस्थान में पंचायत चुनाव के चौथे और अंतिम चरण में 32 पंचायत समितियों की 897 ग्राम पंचायतों में आज शांतिपू्र्ण मतदान जारी हैं और दोपहर बारह बजे लगभग 40 प्रतिशत मतदान हो चुका था।

समय पर होंगे उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव : मंत्री

उत्तर प्रदेश के पंचायती राज मंत्री भूपेंद्र सिंह चौधरी ने उन अटकलों का खंडन किया है, जिनमें कहा गया है कि कोविड -19 के प्रकोप के कारण पंचायत चुनाव में देरी हो सकती है।

और लोड करें