पुरी की यात्रा नहीं करें, दर्शनों की नहीं है अनुमति: ओडिशा डीजीपी

ओडिशा के पुरी में उच्चतम न्यायालय के दिशानिर्देशों के अनुरूप भगवान जगन्नाथ, भगवान बलभद्र और देवी सुभद्रा की रथयात्रा निकाले जाने के एक दिन बाद पुलिस ने आज लोगों

जगन्नाथ रथयात्रा निकलेगी

ओड़िशा के जगन्नाथ पुरी की ऐतिहासिक रथयात्रा निकालने की आखिरकार सुप्रीम कोर्ट ने अनुमति दे दी। सर्वोच्च अदालत ने अपने पुराने फैसले को बदलते हुए रथयात्रा की सशर्त अनुमति दी है।

कांवड़ यात्रा टली, रथयात्रा पर आज सुनवाई

कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से लागू लॉकडाउन खत्म होने के बाद ज्यादातर सेवाएं शुरू हो गई हैं पर धार्मिक आयोजनों पर रोक लगी है। इसी वजह से जगन्नाथ पुरी की ऐतिहासिक रथयात्रा भी रोक दी गई है

जगन्नाथ रथयात्रा पर रोक नहीं लगनी चाहिए: विहिप

विश्व हिंदू परिषद् (विहिप) का मानना है कि पुरी में सदियों से भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा निकालने की चल रही परंपरा कोरोना महामारी के कारण टूटनी नहीं चाहिए।

रथयात्रा की मंजूरी के लिए याचिका

जगन्नाथ पुरी में भगवान जगन्नाथ की ऐतिहासिक रथयात्रा पर रोक लगाने के सुप्रीम कोर्ट के फैसले के एक दिन के बाद सर्वोच्च अदालत में पुनर्विचार याचिका दायर की गई है।

जगन्नाथ रथयात्रा पर रोक

सुप्रीम कोर्ट ने आज ओडिशा के पुरी में हर साल निकाली जाने वाली वार्षिक रथयात्रा पर रोक लगा दी। प्रसिद्ध यात्रा 23 जून को जगन्नाथ मंदिर से शुरू होनी थी