PM KISAN योजना दस्तावेजों के नियम बदले, जानिए 6,000 रुपये वार्षिक लाभ लेने के लिए पंजीकरण के नियम

पात्र किसान परिवारों को अब अपना राशन कार्ड नंबर, उसकी सॉफ्ट कॉपी के साथ आधार कार्ड की सॉफ्ट कॉपी, बैंक पासबुक और घोषणा पत्र पीएम-किसान वेबसाइट में जमा करना होगा।

वेब-पोर्टल का चक्कर

केंद्र सरकार ने असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले श्रमिकों का एक डेटाबेस बनाया है। इसे ई-श्रम नाम दिया गया। कहा गया है कि इसके जरिए असंगठित क्षेत्र के 38 करोड़ श्रमिकों का पंजीकरण कराया जाएगा।

विदेशियों को अब भारत में लग सकता है टीका, CoWIN के माध्यम से करें पंजीकरण

विदेशी नागरिक अब भारत में टीका लगवा सकते हैं। स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने ट्विटर पर घोषणा की। स्वास्थ्य मंत्रालय की एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि विदेशी व्यक्तियों को पंजीकरण के उद्देश्य से पहचान दस्तावेज के रूप में अपने पासपोर्ट का उपयोग करके सरकार द्वारा संचालित CoWIN ऐप के माध्यम से पंजीकरण करना होगा।

केंद्र सरकार का बड़ा ऐलान, RTO के साथ-साथ अब NGO और कार कंपनियां भी जारी कर सकती है  ड्राइविंग लाइसेंस

केंद्र सरकार ने ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने को लेकर एक बड़ा ऐलान किया है। अब कार कंपनियां, ऑटोमोबाइल एसोसिएशन और एनजीओ को भी ड्राइविंग ट्रेनिंग सेंटर खोलने की अनुमति है। ये संस्थान अपने सेंटरों में ट्रेनिंग पास कर चुके लोगों को ड्राइविंग लाइसेंस जारी भी कर सकेंगे।

Delhi University में 2 अगस्त से 31 अगस्त तक रजिस्ट्रेशन चालू, जानें एडमिशन की पूरी प्रोसेस..

Delhi University में एडमिशन की प्रक्रिया शुरु हो चुकी है। दिल्ली यूनिवर्सिटी ने आज यानी 2 अगस्त 2021 से अंडरग्रेजुएट कोर्सेस यानी UG में एडमिशन के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू हो गई है। सभी छात्र दिल्ली यूनिवर्सिटी की आधिकारिक वेबसाइट http://du.ac.in/ पर जाकर एडमिशन पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

Emergency में पासपोर्ट के लिए पोस्ट ऑफिस की बेहतरीन सुविधा, जानें क्या ऑफर है..

Emergency में पासपोर्ट के लिए पोस्ट ऑफिस की बेहतरीन सुविधा, जानें क्या ऑफर है..

Good news for vaccine : 1 जुलाई से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के बिना ही लगवा सकेंगे कोरोना वैक्सीन

गाजियाबाद |  कोरोना वायरस को हराने के लिए सबसे महत्वपूर्ण है कोरोना वैक्सीनेशन। कोरोना की दूसरी लहर को हराने के लिए सबसे बड़ा हथियार भी कोरोना का टीकाकरण ही रहा है। 1 मई से 18+ वालों का टीकाकरण की घोषणा की थी। लेकिन उसमें ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाकर पहले स्लॉट बुक करना होता था उसके बाद दी गई तारीख पर सेंटर जाकर टीका लगवाना होता था। यह रजिस्ट्रेशन कोविन ऐप से होता था। लेकिन खुशी की बात यह है कि  गाजियाबाद जिले में 18 से 44 वर्ष के युवाओं को टीका लगवाने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता नहीं होगी। यह सुविधा 1 जुलाई के उपलब्ध होगी। एक जुलाई से सेंटर पर जाकर पंजीकरण करवाने के बाद वैक्सीन लगाई जाएगी। स्वास्थ्य विभाग को इस संबंध में शासन स्तर से दिशा-निर्देश मिल गए हैं। पहले चरण में ग्रामीण क्षेत्र में इस योजना को शुरू किया जाएगा।   also read: Crime Alert और सावधान इंडिया में काम कर चुकी दो एक्ट्रेसज को पुलिस ने चोरी के आरोप में किया गिरफ्तार 21 जून से गांवों में वैक्सीनेशन शुरु सीएमओ डॉ. एन के गुप्ता ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि इस योजना का ट्रायल शुरू कर दिया गया है। 21 जून से सभी गांवों में… Continue reading Good news for vaccine : 1 जुलाई से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के बिना ही लगवा सकेंगे कोरोना वैक्सीन

नोएडा में OTP हैक कर किसी ओर ने लगवाया टीका, सतर्क रहें कहीं आपके साथ ना हो जाए ऐसा..

noida: आजकल देश में साइबर क्राइम का अपराध बढ़ता ही जा रहा है। आए दिन कोई ना कोई मामला सुनने तो मिलता है। ताजा मामला यबपी के नोएड़ा से जुड़ा है। जहां पर एक महिला के फोन से OTP हैक कर दो युवकों ने कोरोना वैक्सीन लगवा ली। इस घटना के बाद महिला ने साइबर क्राइम की रिपोर्ट दर्ज की है। पुलिस में भी मामला दर्ज किया है। पुलिस ने कड़ी छानबीन कर उन दो युवकों का पता लगा लिया है। सरकारें जनता से अपील ये कर रही है कि अधिक संख्या में कोरोना वैक्सीन लगवाएं लेकिन अपने ही पहचान पत्र से दूसरों के से नहीं। लेकिन कुछ लोग पता नहीं क्यों ऐसे काम कर रहे है। आप भी ऐसे मामलों में सावधान रहें क्यों कि ऐसे मामले बहगुत सुनने को मिल रहे है। वैक्सीनेशन के नाम पर लिंर भेजे जा रहे है गलती से भी किसी भी लिंक पर टच ना करें अन्यथा आप भी इसी के शिकार हो सकते है। भारत सरकार इस संबंध में निर्देश ज़ारी कर रही है। आइयें जानते है पूरा मामला… also read: अब ड्राइविंग लाइसेंस बनाना हुआ आसान, RTO में टेस्ट देने की भी जरूरत नहीं.. जानें पूरी प्रक्रिया क्या था पूरा घटनाक्रम नोएडा… Continue reading नोएडा में OTP हैक कर किसी ओर ने लगवाया टीका, सतर्क रहें कहीं आपके साथ ना हो जाए ऐसा..

TMC सांसद नुसरत जहां है 6 माह से प्रेग्नेंट, पति Nikhil Jain ने कहा- मुझे नहीं है जानकारी, हो भी तो वो बच्चा मेरा नहीं

नई दिल्ली |  टीएमसी सांसद नुसरत जहां (TMC MP Nusrat Jahan) हमेशा सुर्खियों में बनी रहती हैं. राजनीति में अपनी सुंदरता के लिए जानी जाने वाली नुसरत अपने विवाह संबंध को लेकर इन दिनों खासा चर्चा में है. हालांकि जब देखा शुरू से ही चर्चाओं में था क्योंकि नुसरत मुस्लिम लड़की है और उन्होंने एक हिंदू लड़के निखिल जैन से विवाह किया था. विवाह के कुछ ही सालों के बाद दोनों में मनमुटाव की स्थिति उत्पन्न हो गई है. दोनों ही ओर से एक दूसरे पर गंभीर आरोप लगाए जा रहे हैं. बता दें कि नुसरत जहां एक्टिंग के बाद अब राजनीतिक गलियारों में भी छाई रहती हैं. बता दें कि नुसरत जहां ने निखिल से 2019 में तुर्की में विवाह किया था. सूत्रों में मिली खबर प्रेगनेंट हैं नुसरत नुसरत जहां के एक दोस्त ने अपना नाम न बताने की शर्त पर यह बताया है कि वह प्रेग्नेंट हैं. दोस्त का कहना है कि वह अपने बेबी की देखभाल करने में पूरी तरह से व्यस्त है. इस संबंध में सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार नुसरत जहां 6 महीने की प्रेग्नेंट है हालांकि अब तक इस बारे में पुख्ता तौर पर कुछ भी नहीं कहा जा सकता है. यहां… Continue reading TMC सांसद नुसरत जहां है 6 माह से प्रेग्नेंट, पति Nikhil Jain ने कहा- मुझे नहीं है जानकारी, हो भी तो वो बच्चा मेरा नहीं

Rajasthan: डाक विभाग की पहल से अब घर बैठे अपनों का अस्थि विसर्जन, ऑनलाइन देख भी सकेंगे

जोधपुर | कोरोना की दूसरी लहर ने राजस्थान में जमकर उत्पात मचाया है. अकेले जोधपुर शहर में संक्रमण से 1,000 से अधिक मौतें हुई हैं. देखा गया है कि कोरोना संक्रमित व्यक्ति के अंतिम संस्कार से लेकर अस्थियों के विसर्जन तक में परिजनों को संक्रमण का डर सता रहा है. परिजनों की परेशानियों को देखते हुए अब जोधपुर के डाक विभाग में एक नई योजना की शुरुआत की है. इस योजना के अनुसार आप डाक विभाग मृतकों के परिजनों को उनके अस्थि विसर्जन को ऑनलाइन दिखाएगा. पुराना संक्रमित व्यक्तियों के अस्थि विसर्जन का पूरा जीवन अब डाक विभाग ने ले दिया है. दिव्य दर्शन संस्था से किया कॉन्ट्रैक्ट इस संबंध में जो जानकारी मिली है उसके अनुसार जोधपुर शहर में कोरोना से संक्रमित व्यक्तियों का अस्थि विसर्जन अब तक नहीं हो सका है. इसके मद्देनजर डाक विभाग ने दिव्य दर्शन संस्था से टाइअप किया है. दोनों मिलकर अब अस्थियों के विसर्जन से जुड़े ही कर्मकांड की सारी जिम्मेदारी निभायेंगे. डाक विभाग द्वारा शुरू की गई इस योजना का लाभ लेने के लिए मृतकों के परिजनो को डाक विभाग की स्पीड पोस्ट पर जाकर रजिस्ट्रेशन करवाना होगा. इसके बाद डाक विभाग अस्थियों का पंडितों की उपस्थिति में विसर्जन कराएगा. यहां बता… Continue reading Rajasthan: डाक विभाग की पहल से अब घर बैठे अपनों का अस्थि विसर्जन, ऑनलाइन देख भी सकेंगे

cowin app cyber crime: कोविन के डुप्लीकेट ऐप से रहें सावधान नहीं तो हो जाएंगे ठन-ठन गोपाल

new delhi: भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने आतंक मचा रखा था लेकिन अब कोरोना के मामलों में गिरावट आने लगी है। इसकी एक बड़ी वजह कोरोना वैक्सीन भी है। भारत में बड़ी संख्या में टीकाकरण अभियान चल रहा है। 1 मई से 18+ का वैक्सीनेशन का शुरु हुआ था। जिसके लिए कोविन ऐप से रजिस्ट्रेशन करना पड़ता है। वैक्सीन लगवाने के लिए स्लॉट बुक करना होता है। शेड्यूल चुन कर तय समय पर वैक्सीनेशन कराना होता है। लेकिन जहां एक ओर देश में कोरोना रोधी टीकों की मांग और पूर्ति में भारी अंतर है तो वहीं कुछ लोग इसका फायदा उठाने में लगे हैं। कुछ लोग वैक्सीन के नाम पर लोगों को ठग रहे है। आजकल इस प्रकार की घटना देखने को मिल रही है। इसलिए आप सतर्क रहें। अगर आपके पास कोई भी वैक्सीन से संबंधित लिंक आता है तो उस पर बिल्कुल भी क्लिक ना करें। इसे भी पढ़ें JMI Recruitment 2021: जामिया युनिवर्सिटी में प्रोफेसर के पदों पर भर्ती, आवेदन की अंतिम तिथी 30जून Cowin से मिलते-जुलते ऐप Cowin वेबसाइट पर आपके वैक्सीनेशन से जुड़ी सारी जानकारी होती है। अब हैकर्स ने इस वेबसाइट को भी निशाना बना लिया है। वेबसाइट के नाम से मिलते… Continue reading cowin app cyber crime: कोविन के डुप्लीकेट ऐप से रहें सावधान नहीं तो हो जाएंगे ठन-ठन गोपाल

राजस्थान में स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही, एक महिला को 10 मिनट में लगाए वैक्सीन के दोनों डोज़

RAJASTHAN: राजस्थान में 18+ वालों का रजिस्ट्रेशन बड़ी मुश्किल से हो रहा है। वैक्सीन के लिए लंबी लाइन का इंतज़ार करना पड़ रहा है। 45+ वालों को भी सेंटर पर लंबी लाइन का इंतज़ार करना पड़ रहा है। लेकिन राजस्थान के दौसा जिले की एक महिला को बेहद खुशनसीब माना जा रहा है। इस महिला को 10 मिनट के अंदर-अंदर कोरोना वैक्सीन के दोनो डोज़ लग गए। यह दावा किया जा रहा है कि पूरे देश में इस प्रकार का पहला मामला है। डोज लगने के बाद जहां पीड़ित की रात की नींद की उड़ गई है, वहीं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी दो डोज लगाने की बात से साफ इनकार कर रहे हैं। इसे भी पढ़ें वैक्सीन से बनी एंटीबॉडी कोरोना के नए-नए वैरिएंट को जन्म देगी- प्रोफेसर ल्यूक मॉन्टैग्नियर क्या था मामला सरकार ने 18-44 वर्ष के लोगों के लिए ऑनसाइट रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरु कर रखी है। शुक्रवार को दौसा जिले में 18-44 वर्ष के लोगों को ऑनस्पॉट रजिस्ट्रेन कर वैक्सीन लगाई जा ही थी। इस बीच प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नंगल बेरसी के वैक्सीनेशन सेंटर पर खेरवाल गांव की 43 वर्षीय किरण शर्मा अपनी बेटी के साथ पहुंचीं। उन्हें वहां मौजूद प्रतिनिधि ने वैक्सीन लगा दी। खबर के मुताबिक… Continue reading राजस्थान में स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही, एक महिला को 10 मिनट में लगाए वैक्सीन के दोनों डोज़

Covaxin या Covishield किस वैक्सीन से बनती है जल्दी एंटीबॉडी..ICMR प्रमुख ने किया चौंकाने वाला दावा

देश में कोरोना संक्रमण से मौतों का आंकड़ा लगातार बढ़ता ही जा रहा है। और संक्रमितों के मामले कुछ राज्यों में भले ही कम हो रहे है लेकिन बाकी राज्यों में कोरोना का विस्फोट अभी भी ज़ारी है। लेकिन महामारी के इस बुरे वक्त में कोरोना(corona) का संजीवनी बूटी हमारी वैक्सीन (vaccine)है। देश में अभी 18 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही है। जिसका रजिस्ट्रेशन(ragistration) कोविन ऐप(cowin app) पर किया जा रहा है। देश में अभी तक करोड़ों लोगों का वैक्सीनेशन किया जा चुका है। लेकिन इसमें अभी सबके मन में यह सवाल आ रहा है कि कोवैक्सीन या कोविशील्ड(Covaxin or Covishield)किस वैक्सीन को लगाने से जल्दी एंटीबॉडी (antibody)बनती है। अब इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के डीजी डॉ. बलराम भार्गव ने इसको लेकर बड़ा बयान दिया है। इसे भी पढ़ें Corona Update: देश में फिर बढ़ा COVID-19 से मौतों का आंकड़ा, एक दिन 4209 की मौत, सामने आए 2.59 लाख नए मामले कोवैक्‍सीन से ज्‍यादा एंटीबॉडी बनाती है कोविशील्‍ड वैक्सीन इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) प्रमुख डॉ. बलराम भार्गव ने कोवैक्‍सीन और कोविशील्‍ड द्वारा बनने वाली एंटीबॉडी को लेकर चौंकाने वाला दावा किया है। उन्होंने कहा कि कोविशील्ड वैक्सीन की पहली डोज लेने… Continue reading Covaxin या Covishield किस वैक्सीन से बनती है जल्दी एंटीबॉडी..ICMR प्रमुख ने किया चौंकाने वाला दावा

 KBC Registration Start: हो जाएं तैयार, एक बार फिर टीवी पर लौट रहा है ‘कौन बनेगा करोड़पति’,ऐसे कर सकेंगे रजिस्ट्रेशन

New Delhi: देशभर में ‘कौन बनेगा करोड़पति’ एस सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाले कार्यक्रमों में से एक है. KBC को पसंद करने वाले लोगों के लिए एक खुशखबरी है. जानकारी के अनुसार KBC का 13वां सीजन होस्ट करने के लिए तैयारी की जा रही है. सोनी टीवी ने अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम अकाउंट पर वीडियो शेयर किया है. इस वीडियो में अमिताभ बच्चन KBC के मंच में एंट्री करते नजर आ रहे हैं. इससे साफ हो गया है इस सीजन को भी महानायक ही होस्ट करेंगे. यह वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है. इस वीडियो में अमिताभ बच्चन कहते नजर आ रहे हैं, कभी सोचा है कि आपके और आपके सपनों के बीच का फासला कितना है. तीन अक्षरों का कोशिश, तो अपने सपने साकार करने के लिए उठाइए फोन और हो जाइए तैयार. KBC के रजिस्ट्रेशन शुरू हो रहे हैं 10 मई से. मैं और हॉट सीट आपका इंतजार कर रहे हैं, आप भी बस तैयार हो जाइए.   View this post on Instagram   A post shared by Sony Entertainment Television (@sonytvofficial) 10 मई से शुरू होगा रजिस्ट्रेशन अमिताभ बच्चन के क्वीज शो कौन बनेगा करोड़पति सीजन 13 के रजिस्ट्रेशन 10 मई 2021 से शुरू हो रहे… Continue reading  KBC Registration Start: हो जाएं तैयार, एक बार फिर टीवी पर लौट रहा है ‘कौन बनेगा करोड़पति’,ऐसे कर सकेंगे रजिस्ट्रेशन

Good news: केंद्र सरकार ला रही है नया कानून, गाड़ियों के री-रजिस्ट्रेशन से मिलेगा छूटकारा

New Delhi: कोरोना के प्रकोप को देखते हुए केंद्रीय परिवहन मंत्रालय (Union Ministry of Transport) गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन को लेकर एक नया कानून ला रहा है. इस कानून से सरकारी कर्मचारियों, रक्षा क्षेत्र से जुड़े कर्मचारियों के साथ साथ कई राज्‍यों में बिखरे ब्रांच वाली प्राइवेट कंपनियों के कर्मचारियों को सबसे ज्यादा राहत मिलने वाली है. इस नए कानून के लागू हो जाने के बाद एक राज्य से दूसरे राज्य में गाड़ी लाने और ले जाने में अब कोई परेशानी नहीं होगी. दरअसल सरकार री-रजिस्ट्रेशन के नियम को नरम और आसान करने की कोशिश में है.बता दें कि  हर साल बड़ी संख्या में सरकारी और निजी कर्मचारियों का एक शहर से दूसरे शहर में ट्रांसफर होता है. ऐसे में री-रजिस्ट्रेशन करवाने का झंझट बना रहता है. मौजूदा समय में अगर किसी का एक राज्य से दूसरे राज्य में ट्रांसफर होता है तो गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन के लिए एक साल का समय दिया जाता है. इस एक साल में एक लंबी चौड़ी प्रक्रिया के तहत गाड़ियों का री-रजिस्ट्रेशन कराना होता है. ये है मौजूदा कानून गाड़ियों के रजिस्ट्रेश का मौजूदा नियम यह है कि अगर किसी गाड़ी को एक राज्य से दूसरे राज्य में शिफ्ट कराना होता है तो उसका उस… Continue reading Good news: केंद्र सरकार ला रही है नया कानून, गाड़ियों के री-रजिस्ट्रेशन से मिलेगा छूटकारा

और लोड करें