गोडसे अमर रहे से गांधी की आत्महत्या तक!

महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा ने अपने संकल्प पत्र में कहा है कि वह दूसरी बार जीत कर सरकार बनाने के बाद विनायक दामोदर सावरकर को भारत रत्न देने की मांग करेगी। मराठा मानुष की भावनाओं को उद्वेलित करने के सिवा इस वादे का और कोई मतलब नहीं है। केंद्र में पांच साल से ज्यादा समय से भाजपा की सरकार है और वह जनसंघ व भाजपा से जुड़े नेताओं को भारत रत्न दे ही रही है।