मनु शर्मा की हो गई जेल से रिहाई

करीब 21 साल पहले दिल्ली में हुए जेसिका लाल हत्याकांड में उम्रकैद की सजा काट रहे मनु शर्मा की रिहाई हो गई है।

निर्भया के दोषियों को फांसी!

नई दिल्ली। आखिरकार सात साल की लंबी लड़ाई के बाद निर्भया को न्याय मिल गया। निर्भया के चारों दोषियों को शुक्रवार की सुबह साढ़े पांच बजे फांसी पर लटका दिया गया। गौरतलब है कि 16 दिसंबर 2012 को छह लोगों ने निर्भया के साथ सामूहिक बलात्कार किया था और उसे बुरी तरह से घायल करके छोड़ दिया था। कुछ दिन के बाद सिंगापुर के एक अस्पताल में उसकी मौत हो गई थी। पूरे देश की सामूहिक चेतना को झकझोर देने वाली इस घटना चार दोषियों- मुकेश सिंह, पवन गुप्ता, विनय शर्मा और अक्षय कुमार सिंह को शुक्रवार की सुबह साढ़े पांच बजे फांसी के फंदे पर लटकाया गया। तिहाड़ जेल के महानिदेशक संदीप गोयल ने कहा- डॉक्टरों ने शवों की जांच की और चारों को मृत घोषित कर दिया। बाद में इन चारों का शव दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया और फिर उनके परिजनों को सौंप दिया गया। जेल अधिकारियों ने बताया कि चारों दोषियों के शव करीब आधे घंटे तक फंदे पर झूलते रहे जो जेल नियमावली के अनुसार फांसी के बाद की अनिवार्य प्रक्रिया है। तिहाड़ जेल में पहली बार चार दोषियों को एक साथ फांसी दी गई। इससे पहले चारों दोषियों ने फांसी… Continue reading निर्भया के दोषियों को फांसी!

निर्भया: मुजरिमों से रहस्यमय मुलाकात क्यों?

यूं तो अदालतों और तिहाड़ जेल प्रशासन ने फांसी पर लटकाए जाने से पूर्व कानूनन जो भी मुलाकात के मौके थे, निर्भया के मुजरिमों को मुहैया कराया था।

निर्भया को न्याय : फांसी के फंदे बक्से में बंद

नई दिल्ली। तमाम कानूनी दांव-पेचों के बाद आखिरकार गुरुवार को तय हो गया कि निर्भया के हत्यारे शुक्रवार (20 मार्च 2020) को ही तड़के करीब साढ़े पांच बजे तिहाड़ जेल में फांसी के फंदे पर लटकाए जाएंगे। ज्यों-ज्यों मुजरिमों को लटकाए जाने का वक्त घटता जा रहा है, त्यों-त्यों तिहाड़ जेल प्रशासन अपनी तैयारियों को मुकाम की ओर बढ़ाता जा रहा है। गुरुवार को दोपहर बाद पवन जल्लाद ने तिहाड़ जेल अधिकारियों की मौजूदगी में आखिरी ‘डमी-ट्रायल’ को अंजाम दिया था। उसके बाद शाम करीब 6 बजे एक चाबी तिहाड़ जेल नंबर-3 के अधीक्षक के हवाले की। जल्लाद से चाबी लेते वक्त अधीक्षक के साथ जेल नंबर तीन में जेल के डिप्टी सुपरिंटेंडेंट भी मौजूद थे। चाबी सौंपने के बाद पवन जल्लाद दोनों अफसरों को फांसीघर के पास मौजूद एक कोठरी में ले गया। वहां जाकर दोनों अधिकारियों से पवन जल्लाद ने लोहे का एक बक्सा खोलने को कहा। बक्सा खोलने पर दोनों अधिकारियों को उसके अंदर चार मुंह बंद कपड़े के थैले रखे मिले। इन थैलों के मुंह जब खोले गए, तो उनके अंदर फांसी पर टांगने के लिए तैयार किए गए चार अलग-अलगे रस्से (फंदे) रखे मिले। फंदों की जांच जेल के दोनों अधिकारियों से कराने के बाद… Continue reading निर्भया को न्याय : फांसी के फंदे बक्से में बंद

निर्भया को न्याय: जेल में फांसी की तैयारियां पूरी, अंतिम ‘डमी-ट्रायल’ पूरा

नई दिल्ली। निर्भया कांड के मुजरिमों को फांसी के फंदे से बचाने के लिए वकील-मुजरिमों के तीमारदारों द्वारा जहां अदालतों के बाहर हर संभव कोशिशें जारी हैं, वहीं दिल्ली की तिहाड़ जेल ने अपने स्तर पर फांसी पर मुजरिमों को चढ़ाने के तमाम बंदोबस्त पूरे कर लिए हैं। चारों मुजरिमों को फांसी के फंदे पर लटकाए जाने का डेथ-वारंट 20 मार्च (शुक्रवार) की सुबह पांच से 6 बजे के बीच का जारी हुआ है। हालांकि फांसी की प्रक्रिया से जुड़े तमाम संबंधित अफसरान को गुरुवार को लिखित आदेश जारी कर उन्हें शुक्रवार तड़के ही जेल में पहुंचने को कहा गया है। जबकि पवन जल्लाद को फांसी लगाने का काम पूरा होने के बाद ही जेल से कड़ी सुरक्षा में वापस मेरठ भेजा जाएगा। फिलहाल खबर लिखे जाने से कुछ देर पहले ही तिहाड़ जेल में पहुंच चुके पवन जल्लाद ने फांसी पर लटकाए जाने के ‘डमी-ट्रायल’ को भी पूरा कर लिया है। हां, यह सब मगर अमल में शुक्रवार को तभी लाया जा सकेगा, जब मुजरिमों के वकील अदालत में अपने ‘मुवक्किलों’ को बचा पाने का आखिरी दांव भी हार जाएंगे। गुरुवार को दोपहर के वक्त जेल नंबर-3 में मौजूद फांसीघर में अंतिम डमी ट्रायल पूरा कर लिए जाने की… Continue reading निर्भया को न्याय: जेल में फांसी की तैयारियां पूरी, अंतिम ‘डमी-ट्रायल’ पूरा

निर्भया कांड: ‘जल्लाद’ को ‘सतर्क’ रहने की हिदायत

नई दिल्ली। निर्भया मामले में बंद 4 मुजरिमों को जब से पता चला है कि उन्हें किसी भी समय फांसी दी जा सकती है उनका खाना—पीना छूट गया है। आंखों से नींद गायब है। जेल में भी उन्हें कड़ी सुरक्षा के बीच रखा जा रहा है ताकि वह कोई गलत कदम खुद ही न उठा लें। निर्भया दुष्कर्म और हत्याकांड के मुजरिमों की फांसी के अंतिम फैसले पर मुहर लगने का वक्त जैसे-जैसे करीब आता जा रहा है, इस मामले से जुड़ी कोई न कोई नई जानकारी बाहर आ रही है। दिल्ली में जहां तिहाड़ जेल नंबर-3 में मौजूद फांसी-घर की साफ-सफाई के बाद उसकी सुरक्षा मजबूत कर दी गई है, वहीं दूसरी ओर निर्भया के मुजरिमों को फांसी चढ़ाने वाले संभावित जल्लादों में सबसे आगे चल रहे उप्र के मेरठ शहर निवासी पुश्तैनी जल्लाद पवन कुमार को जेल अफसरों ने तमाम हिदायतें देनी शुरू कर दी हैं। जल्लाद पवन ने शनिवार को आईएएनएस से फोन पर हुई खास बातचीत में कहा, “अब मैं मोबाइल पर या फिर मीडिया से तब तक ज्यादा बात नहीं करूंगा, जब तक निर्भया हत्याकांड के चारों मुजरिमों की मौत की सजा पर कोई अंतिम फैसला नहीं आ जाता। इसे भी पढ़ें :- बैंक ने… Continue reading निर्भया कांड: ‘जल्लाद’ को ‘सतर्क’ रहने की हिदायत

चिदंबरम आज रांची में संवाददाता सम्मेलन करेंगे

रांची। तिहाड़ जेल से जमानत पर छूटने के बाद पूर्व गृहमंत्री एवं वित्त मंत्री पी चिदंबरम सक्रिय हो गए हैं। झारखंड विधानसभा चुनावों में द्वितीय चरण के चुनाव से ठीक पहले शुक्रवार को यहां विपक्षी गठबंधन के समर्थन में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करेंगे। कांग्रेस के प्रवक्ता लाल किशोरनाथ शाहदेव ने आज यहां एक बयान जारी कर यह सूचना दी।उन्होंने बताया कि कल दोपहर साढ़े बारह बजे पी चिदंबरम यहां एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करेंगे। गौरतलब है कि आई एन एक्स मीडिया घोटाले में सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय की जांच का सामना कर रहे चिदंबरम बुधवार को उच्चतम न्यायालय से जमानत मिलने के बाद तिहाड़ जेल से रिहा हुए।

चिदंबरम 106 दिन के बाद तिहाड़ से रिहा

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय वित्त व गृह मंत्री पी चिदंबरम को आखिरकार जमानत मिल गई। सुप्रीम कोर्ट ने आईएनएक्स मीडिया से जुड़े धन शोधन के मामले में बुधवार को उनको सशर्त जमानत दी। बुधवार को ही देर शाम उनकी जमानत के कागजात दिल्ली के तिहाड़ जेल पहुंच गए और उनको रिहा कर दिया गया। 106 दिन तक जेल में रहने के बाद वे रिहा हुए हैं। सुप्रीम कोर्ट ने आईएनएक्स मीडिया मामले में भ्रष्टाचार से जुड़े सीबीआई के केस में उनको पहले ही जमानत दे दी थी। देर शाम से तिहाड़ जेल से रिहा हुए चिदंबरम के स्वागत के लिए बड़ी संख्या में उनके समर्थक और कांग्रेस के कार्यकर्ता जेल के बाहर इकट्ठा हुए थे। उन्होंने नारेबाजी करके चिदंबरम का स्वागत किया। मीडिया ने जब उनसे बात करनी चाहिए तो उन्होंने कहा कि गुरुवार को बात करेंगे। उनके बेटे कार्ति चिदंबरम उनको लेने जेल गेट पर पहुंचे थे। उन्होंने पत्रकारों से बात करते हुए कहा- मुझे खुशी है कि मेरे पिता घर आ रहे हैं। सर्वोच्च अदालत ने प्रवर्तन निदेशालय, ईडी इस आशंका को खारिज कर दिया कि चिदंबरम सबूतों के साथ छेड़छाड़ कर सकते हैं। अदालत ने कहा कि वे इस समय न तो… Continue reading चिदंबरम 106 दिन के बाद तिहाड़ से रिहा

चिदंबरम से मिले राहुल और प्रियंका

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और उनकी बहन तथा पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी ने बुधवार को यहां तिहाड़ जेल में पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम से मुलाकात की।

चिदंबरम की जमानत याचिका पर सुनवाई गुरुवार तक स्थगित

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट मनी लांड्रिंग मामले में तिहाड़ जेल में बंद पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम की ओर से दायर जमानत याचिका पर आगे की सुनवाई गुरुवार को करेगा। न्यायमूर्ति आर भानुमति की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने बुधवार को चिदंबरम की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल एवं अभिषेक मनु सिंघवी की विस्तृत दलीलें सुनीं। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की तरफ से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता कल दलील देंगे। सिब्बल ने अपनी दलील में कहा कि रिमांड अर्जी में ईडी ने आरोप लगाया है कि चिदंबरम गवाहों को प्रभावित करने की कोशिश कर रहे थे, जबकि वह तो ईडी की हिरासत में थे। पूर्व केंद्रीय मंत्री चिदंबरम को इसलिए जमानत नहीं दी गयी जैसे वह रंगा बिल्ला हों। उन्होंने कहा, क्या ईडी के अधिकारी ये कहना चाहते हैं कि ईडी के दफ्तर में जहां फोन भी उपलब्ध नहीं था, वहां से मैं (चिदंबरम) गवाहों को प्रभावित कर रहा था। सिब्बल ने दिल्ली हाई कोर्ट के फैसले पर सवाल उठाते हुए कहा कि हाई कोर्ट ने ईडी की तीनों बड़ी दलीलें (सबूतों के साथ छेड़छाड़ की आशंका, फ्लाइट रिस्क, गवाहों को प्रभावित करने की संभावना) को ठुकरा दिया। यह भी पढ़े:- चिदंबरम से मिलने तिहाड़ पहुंचे थरूर, मनीष, कार्ति लेकिन… Continue reading चिदंबरम की जमानत याचिका पर सुनवाई गुरुवार तक स्थगित

राहुल, प्रियंका बुधवार को चिदंबरम से मिलेंगे

नई दिल्ली। पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी व उनकी बहन व पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा बुधवार सुबह तिहाड़ जेल में पूर्व वित्तमंत्री पी.चिदंबरम से मुलाकात करेंगे। पार्टी के एक वरिष्ठ नेता के अनुसार, राहुल व प्रियंका सुबह करीब 9 बजे चिदंबरम से मुलाकात करेंगे। चिदंबरम को आईएनएक्स मीडिया मामले में गिरफ्तारी के बाद से तिहाड़ जेल में रखा गया है। राहुल व प्रियंका की यह मुलाकात, कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी व पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की चिदंबरम से जेल में मुलाकात के करीब एक महीने बाद होगी। पार्टी नेताओं के अनुसार, चिदंबरम का वजन बीते तीन महीने में 10 किलो से ज्यादा कम हो गया है। वह कई बीमारियों से भी पीड़ित हैं। इसे भी पढ़ें : दमन, दीव और दादरा-नगर हवेली के विलय के लिए विधेयक पेश चिदंबरम द्वारा आईएएक्स मीडिया को विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) की मंजूरी दिए जाने की केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) व प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) जांच कर रहे हैं। चिदंबरम ने वित्त मंत्री रहने के दौरान एफआईपीबी की यह मंजूरी दी। चिदंबरम को सीबीआई द्वारा 21 अगस्त को गिरफ्तार किया गया और फिर 5 सितंबर को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। उन्हें बाद में आईएनएक्स मीडिया मामले में… Continue reading राहुल, प्रियंका बुधवार को चिदंबरम से मिलेंगे

चिदंबरम से मिलने तिहाड़ पहुंचे थरूर, मनीष, कार्ति

कांग्रेस नेता शशि थरूर, मनीष तिवारी और कार्ति चिदंबरम पूर्व वित्तमंत्री पी. चिदंबरम से मिलने आज तिहाड़ जेल पहुंचे। चिदंबरम वर्तमान में आईएनएक्स मीडिया मामले में तिहाड़ में बंद हैं।

ब्लैक वारंट: ऐसे बनी तिहाड़ जेल जनता पार्टी की जन्मस्थली

जब मैं पढ़ाई कर रहा था तब रेडियो पर सुना और अखबारों में पढ़ा करता था कि देश में जनता पार्टी का जन्म तिहाड़ जेल में हुआ है। यह सब सुन-पढ़ कर अजीब लगता था कि जेल भला किसी राजनीतिक पार्टी की जन्मस्थली कैसे हो सकती है?

चिदंबरम से तिहाड़ में ईडी की पूछताछ

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अधिकारियों की एक टीम शुक्रवार को पूर्व केंद्रीय वित्तमंत्री पी. चिदंबरम से आईएनएक्स मीडिया धनशोधन मामले में पूछताछ करने यहां तिहाड़ जेल पहुंची।

अदालत ने ईडी को दी चिदंबरम से पूछताछ करने की अनुमति

दिल्ली की एक अदालत ने प्रवर्तन निदेशालय को आईएनएक्स मीडिया मामले के सिलसिले में पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम से 22 से 23 नवम्बर तक तिहाड़ जेल में पूछताछ करने की बृहस्पतिवार को अनुमति दे दी।

और लोड करें