• एक जुनूनी रंगकर्मी का रंग आंदोलन

    भोपाल । मुम्बई का पृथ्वी थियेटर नाट्य मंचन के लिये एक जाना पहचाना प्रतिष्ठित स्थान लंबे समय से बना हुआ है। इसकी प्रतिष्ठा के पीछे बड़ा कारण यह रहा है कि मुम्बई में हिन्दी रंगमंच को स्थापित करने में पृथ्वी थियेटर की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। देश के नामचीन रंग निर्देशकों की यह जगह पहली पसंद रही है जहां वे अपने नाटकों का मंचन करते रहे हैं। यहां होने वाले नाटकों के दर्षकों में भी रंगमंच और सिनेमा के बड़े नाम शामिल रहे हैं। अब जिस पैमाने पर मुम्बई में हिन्दी में नाटक तैयार हो रहे हैं, उनके मंचन के...