nayaindia Election Commission assembly elections Nagaland vote नगालैंड में 27 फरवरी को विधानसभा चुनाव
kishori-yojna
ताजा पोस्ट | देश | दिल्ली| नया इंडिया| Election Commission assembly elections Nagaland vote नगालैंड में 27 फरवरी को विधानसभा चुनाव

नगालैंड में 27 फरवरी को विधानसभा चुनाव

नई दिल्ली। नगालैंड (Nagaland) में नई विधानसभा (assembly) के गठन के लिए 27 फरवरी को मतदान होगा जबकि मतों की गिनती (counting) दो मार्च को होगी। निर्वाचन आयोग ने बुधवार को यह घोषणा की।

नगालैंड की 60 सदस्यीय विधानसभा का कार्यकाल 12 मार्च को समाप्त हो रहा है। इसके मद्देनजर मुख्य निर्वाचन आयुक्त राजीव (Rajeev Kumar) कुमार ने यहां आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में चुनाव से जुड़ी प्रमुख तिथियों की घोषणा की। राज्य में कुल मतदाताओं की संख्या 13,09,651 है। कुमार ने बताया कि नगालैंड विधानसभा चुनाव (Nagaland assembly elections) के लिए अधिसूचना 31 जनवरी को जारी होगी और नामांकन की आखिरी तारीख सात फरवरी होगी जबकि नामांकन वापस लेने की आखिरी तारीख 10 फरवरी होगी। उन्होंने बताया कि मतदान 27 फरवरी को होगा तथा दो मार्च को मतों की गिनती की जाएगी।

नगालैंड में वर्तमान में नेशनलिस्ट डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी (एनडीपीपी) सत्ता में है। वर्तमान में राज्य विधानसभा में कुल 59 सदस्य हैं। इनमें एनडीपीपी के 41, भाजपा के 12, नगा पीपुल्स फ्रंट (एनपीएफ) के चार, तथा दो निर्दलीय सदस्य हैं जबकि एक सीट फिलहाल रिक्त है।

इसे भी पढ़ेः मेघालय में 27 फरवरी को मतदान

पिछले विधानसभा चुनाव में नगालैंड में किसी दल को बहुमत नहीं मिला था। पूर्व मुख्यमंत्री टी आर जेलियांग के नेतृत्व वाला एनपीएफ 26 सीटों पर जीत हासिल कर सबसे बड़े दल के रूप में उभरा। इस चुनाव में वरिष्ठ नेता नेफ्यू रियो के नेतृत्व वाले एनडीपीपी को 17 और भाजपा को 12 सीटों पर जीत हासिल हुई। बाद में भाजपा और एनडीपीपी ने जनता दल यूनाइटेड और कुछ अन्य दलों के सहयोग से राज्य में सरकार बनाई और नेफ्यू रियो चौथी बार राज्य के मुख्यमंत्री बने। इस बार में चुनाव में भाजपा और एनडीपीपी साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगे। (भाषा)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

six − 5 =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
कोरोना अब भी ग्लोबल इमरजेंसी: डब्लुएचओ
कोरोना अब भी ग्लोबल इमरजेंसी: डब्लुएचओ