nayaindia Pradhan Mantri Awas Yojana on CP Radhakrishnan सरकार का लक्ष्य सबके पास हो अपना घर: राज्यपाल
States

सरकार का लक्ष्य सबके पास हो अपना घर: राज्यपाल

ByNI Desk,
Share

Pradhan Mantri Awas Yojana झारखंड के राज्यपाल सी.पी. राधाकृष्णन ने आज गोड्डा जिला के सुन्दरपहाड़ी स्थित फुटबॉल मैदान में ‘लोक संवाद कार्यक्रम’ में भाग लेते हुए कहा कि उन्हें यह जानकर अत्यंत प्रसन्नता हो रही है कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 50,000 से अधिक घरों का निर्माण किया जा चुका है। इस संदर्भ में संवाद के क्रम में जब एक महिला ने बताया कि कच्चा घर से पक्का मकान मिल जाने से बहुत खुशी हो रही है और अब मौसम का मार अब नहीं झेलना पड़ता है।

राज्यपाल ने कहा कि सरकार का लक्ष्य है कि प्रत्येक बेघर का अपना घर हो। सिर्फ घर ही नहीं, घर के साथ-साथ उन्हें पेयजल भी उपलब्ध हो। इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा नल-जल योजना चलाई जा रही है। इस योजना के तहत प्रत्येक घर में पेयजल की आपूर्ति की जायेगी इसके लिए लगातार कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि एक सम्मानजनक जिंदगी के लिए लोगों की मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति होनी चाहिए।

आवास एवं पेय जलापूर्ति के साथ-साथ निर्बाध बिजली, अच्छी सड़क, समुन्नत स्वास्थ्य एवं शिक्षा के लिए सरकार लगातार कार्य कर रही है। लोक संवाद कार्यक्रम में स्वयं सहायता समूह की एक दीदी ने बताया कि समूह से जुड़ने के पहले उसके घर की माली हालत दयनीय थी। समूह से जुड़ने के पश्चात उन्होंने ऋृण लेकर बकरी पालन किया एवं किराना दुकान खोला। 15-20 हजार प्रतिमाह कमा रही है और अपने बच्चों को अच्छे विद्यालयों में पढ़ा रही है। एक अन्य दीदी ने बताया कि समूह से जुड़ने के पश्चात जीवन में आय बदलाव को बताया।

राज्यपाल ने गोड्डा जिला में 1 लाख से अधिक महिलाओं के स्वयं सहायता समूह से जुड़ने पर प्रसन्नता व्यक्त की और कहा कि स्वयं सहायता समूह से जुड़कर महिलाओं का सशक्तिकरण हो रहा है और उनके परिवार का जीवन स्तर भी बेहतर हो रहा है। सरकार की योजनाओं का लाभ लेकर सशक्त बने एवं स्वावलंबी बने। लोक संवाद कार्यक्रम में कस्तूरबा गांधी विद्यालय, जिसे स्कूल ऑफ एक्सीलेंस का दर्जा भी प्राप्त हो चुका है, की छात्रा ने बताया कि इस विद्यालय में काफी संख्या में गरीब परिवार के बच्चे भी पढ़ते हैं। उन्हें अच्छी शिक्षा दी जाती हैं। उसका सपना है कि भविष्य में वह शिक्षक बनकर छोटी-छोटी बच्चियों को शिक्षा प्रदान करें। उन्होंने कहा कि बच्चियों का उत्साह उन्हें अभिभूत कर रहा है, निश्चित रूप से ये बालिकाएं जीवन में सफल होंगी। उन्होंने कहा कि विगत दिनों 21 जिलों में 7000 कि.मी. से अधिक का दौरा कर झारखंड के ग्रामीणों से संवाद स्थापित किया है एवं सरकार की योजनाओं के कार्यान्वयन की स्थिति एवं लोगों के समस्याओं से भी अवगत हुए है।

राज्यपाल ने कहा कि लोगों की समस्याओं का निराकरण संबंधित स्तर से किया जाएगा। उक्त अवसर पर विभिन्न विभागों द्वारा लगाएं गए स्टाल का अवलोकन किया एवं लाभुकों के बीच परिसंपत्तियों का वितरण किया। (वार्ता)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें