Naya India

मोदी का राम और हनुमान के हवाले कांग्रेस पर हमला

जयपुर/रायपुर। पहले चरण के मतदान के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषणों में भगवान राम और हनुमान जी का जिक्र बढ़ गया है। मंगलवार को उन्होंने राजस्थान और छत्तीसगढ़ की दो अलग अलग सभाओं में राम और हनुमान के हवाले कांग्रेस पर हमला किया। प्रधानमंत्री ने छत्तीसगढ़ की सभा में कहा कि कांग्रेस अपने को भगवान राम से भी बड़ा समझती है। इससे पहले राजस्थान में टोंक की सभा में उन्होंने कहा कि कांग्रेस के राज में तो हनुमान चालीसा पढ़ना भी अपराध हो गया है।

पीएम मोदी ने मंगलवार को छत्तीसगढ़ के धमतरी में रैली की। वहां एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस को देश को बांटने वाली पार्टी बताया। उन्होंने कहा- कांग्रेस खुद को भगवान श्रीराम से बड़ा मानती है। धर्म के नाम पर देश को बांटने वाली कांग्रेस आजादी के बाद पहले दिन से तुष्टीकरण में लगी हुई है। यह कांग्रेस की डीएनए में हैं। उन्होंने कांग्रेस को निशाना बनाते हुए कहा- दलितों, पिछड़ों और आदिवासियों का हक छीनना पड़े तो एक सेकेंड भी नहीं लगाएंगे। बीजेपी सबका साथ सबका विकास के सिद्धांतों पर चलने वाली पार्टी है।

प्रधानमंत्री ने कहा- कांग्रेसी पूछते थे कि राम मंदिर कब बनाएंगे? हमने मंदिर बनवा दिया। हमने निमंत्रण भी भिजवाया, लेकिन उन्होंने उसे ठुकरा दिया। क्या ये भगवान राम का अपमान नहीं है? क्या ये छत्तीसगढ़ के लोगों का अपमान नहीं है? प्रधानमंत्री मोदी मंगलवार को छत्तीसगढ़ में ही रूकेंगे। ऐसा करने वाले वे देश के पहले प्रधानमंत्री हैं। बुधवार की सुबह सरगुजा से उनकी सभाओं का कार्यक्रम शुरू होगा। इससे पहले उन्होंने राजस्थान के टोंक की सभा में कर्नाटक की एक घटना का हवाला देते हुए कहा कि कांग्रेस के राज में हनुमान चालीसा पढ़ना भी अपराध हो गया है।

Exit mobile version