nayaindia corona active cases एक्टिव केसेज की संख्या चार हजार के पार
Trending

एक्टिव केसेज की संख्या चार हजार के पार

ByNI Desk,
Share

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के संक्रमितों की संख्या में इजाफा हो रहा है। सोमवार को लगातार तीसरे दिन छह सौ से ज्यादा नए केस मिले हैं और एक्टिव केसेज की संख्या चार हजार से ज्यादा हो गई है। कोरोना के नए वैरिएंट जेएन.1 के मरीजों की संख्या भी बढञ रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से बताया गया है कि सोमवार को पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना के 628 मामले सामने आए और एक्टिव केस की संख्या 4,052 पहुंच गई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, कोविड-19 के नए वैरिएंट जेएन.1 के देश में 63 मामले मिले हैं। गोवा में 34 मामले मिले हैं, जबकि महाराष्ट्र में नौ और कर्नाटक में आठ मामले नए वैरिएंट के हैं। कोरोना की नई लहर का सबसे ज्यादा असर केरल में देखने को मिल रहा है। सोमवार को बताया गया कि पिछले 24 घंटे में राज्य में 376 मामले सामने आए हैं और एक मरीज की मौत हुई है। जो नए मामले सामने आए हैं उनमें छह केस नए वैरिएंट के हैं। केरल में पिछले पांच दिन में आठ मरीजों की मौत हुई है।

केरल के बाद कोरोना का सबसे ज्यादा असर कर्नाटक और महाराष्ट्र मे हैं। कर्नाटक में 24 घंटे में 106 केस और महाराष्ट्र में 50 मामले सामने आए है। महाराष्ट्र सरकार के मंत्री धनंजय मुंडे भी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। धनंजय मुंडे के मंत्रालय के अधिकारी ने बताया कि नागपुर में विधानसभा सत्र के दौरान 20 दिसंबर को ही वे पॉजिटिव हो गए थे। 21 दिसंबर को वे अपने घर लौट गए और आइसोलेट हो गए। उन्हें फिलहाल कोई लक्षण नहीं हैं। बढ़ते केसेज को देखते हुए महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री अजित पवार ने कहा- महाराष्ट्र में कोरोना को लेकर जरूरी दिशा निर्देश दे दिए गए हैं। राज्य में कोरोना की स्थिति पर अधिकारी नजर बनाए हुए हैं।

इस बीच कोरोना के नए वैरिएंट को लेकर आईसीएमआर की पूर्व महानिदेशक डॉ. सौम्या स्वामीनाथन ने लोगों को सावधान रहने को कहा है। हालांकि साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि फिलहाल चिंता करने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा है- हमारे पास जेएन.1 का कोई डाटा नहीं है, जिससे पता चल सके कि यह वैरिएंट खतरनाक है या नहीं। उधर अमेरिका, चीन और कुछ अन्य देशों ने जेएन.1 वैरिएंट से लोगों की मौत होने की खबरे हैं।

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें