nayaindia Rajasthan राजस्थान में रिकॉर्ड मतदान!
Trending

राजस्थान में रिकॉर्ड मतदान!

ByNI Desk,
Share

जयपुर। राजस्थान में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान सम्पन्न हो गया। कई जगह हिंसा की घटनाओं की बीच रिकॉर्ड मतदान दर्ज हुआ। शुरुआती आंकड़ों के मुताबिक शाम साढ़े छह बजे तक 70 फीसदी से ज्यादा मतदान होने की खबर है। कई जगह कतार में खड़े लोग वोट डाल रहे थे, जिससे मतदान प्रतिशत बढ़ने की उम्मीद है। राज्य की 199 विधानसभा सीटों के लिए मतदान सुबह सात बजे शुरू हुआ था और शाम छह बजे समाप्त हुआ। छह बजे से पहले मतदान केंद्रों पर पहुंच चुके लोग वोट डालने के लिए कतार में खड़े थे। इससे आंकड़ा बढ़ने का अनुमान है। अनुमान है कि मतदान का प्रतिशत 75 फीसदी से ऊपर जा सकता है। गौरतलब है कि 2018 के विधानसभा चुनाव में 74 फीसदी से कुछ ज्यादा मतदान हुआ था। तीन दिसंबर को नतीजे आएंगे।

बहरहाल, शनिवार को हुए मतदान के दौरान कई इलाकों में हिंसा और झड़प हुई। नगर विधानसभा के सीकरी में भाजपा के प्रत्याशी जवाहर सिंह बेड़म पर पथराव हुआ तो इसी विधानसभा क्षेत्र के एक गांव में मतदान केंद्र पर मारपीट और वीवीपैट मशीन में तोड़-फोड़ भी हुई। वहां आधे घंटे तक मतदान रूका रहा। कामां विधानसभा क्षेत्र में जाहिदा खान के समर्थकों और पुलिस के बीच झड़प हुई। वहां भीड़ को हटाने के लिए पुलिस को हवाई फायरिंग करनी पड़ी। धौलपुर के बाड़ी विधानसभा क्षेत्र में एक गांव में बूथ कैप्चर करने की कोशिश हुई। इसके अलावा भी राज्य के कई हिस्सों में हिंसा की छिटपुट घटनाएं हुईं।

शाम छह बजे मतदान समाप्त होने के बाद राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके मतदान के बारे में जानकारी दी। मतदान के दौरान कई जगह हुई हिंसा के बारे में उन्होंने कहा- मुझे डीजीपी की रिपोर्ट मिली है, कोई सीधी फायरिंग नहीं हुई है सिर्फ हवाई फायरिंग हुई है। कुछ बूथों पर पुनर्मतदान के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि अभी तक कहीं पुनर्मतदान की नौबत आती हुई नहीं दिख रही है। लेकिन रात तक स्पष्ट होगा और रविवार को ऑब्जर्वर की रिपोर्ट आने के बाद फैसला होगा।

मतदान प्रतिशत के बारे में मुख्य चुनाव अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने कहा- मतदान की प्रक्रिया अभी खत्म नहीं हुई है। अभी काफी बूथों पर मतदान जारी है। बहुत सारे लोग कतार में खड़े हैं। मैं आंकड़ों में तो नहीं जाऊंगा लेकिन पिछली बार से ज्यादा मतदान होगा। गौरतलब है कि पिछली बार 74.06 फीसदी मतदान हुआ था। मुख्य चुनाव अधिकारी की प्रेस कॉन्फ्रेंस से 75 फीसदी से ज्यादा मतदान होने का संकेत मिला। उन्होंने बताया कि इस बार 50 लाख से अधिक मतदाता बढ़े हैं। पिछली बार 4.76 लाख मतदाता थे, जबकि इस बार 5.26 करोड़ मतदाता है। उन्होंने कहा कि देर रात तक मतदान का अंतिम आंकड़ा पता चलेगा।

मतदान के दौरान हिंसा और झड़प के सवाल पर मुख्य चुनाव अधिकारी ने कहा कि कुछ सीटों पर मामूली झड़प हुई। उसे समय रहते शांत करा लिया गया। उन्होंने बताया कि अनुमान है शाम साढ़े छह बजे तक 75 फीसदी मतदान हुआ है। प्रवीण गुप्ता ने यह भी बताया कि छह जगह लोगों ने मतदान का बहिष्कार किया। पिछले चुनाव में करीब 20 जगह पर बहिष्कार हुआ था। पोकरण में पांच बजे तक सबसे ज्यादा 81.12 फीसदी मतदान हुआ था।

Tags :

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें