nayaindia After Scoring Century Rahul Broke His Silence On Online Trolling शतक जड़ने के बाद राहुल ने ऑनलाइन ट्रोल‍िंग पर तोड़ी चुप्पी
खेल समाचार

शतक जड़ने के बाद राहुल ने ऑनलाइन ट्रोल‍िंग पर तोड़ी चुप्पी

ByNI Desk,
Share

KL Rahul :- दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट की पहली पारी में भारतीय पारी बुरी तरह लड़खड़ा गई, लेकिन केएल राहुल की जुझारू पारी ने भारत को एक मजबूत टोटल तक पहुंचाया। राहुल ने शतकीय पारी के बाद स्टार स्पोर्ट्स को दिए इंटरव्यू में सोशल मीडिया पर किए जाने वाली आलोचनाओं पर खुलकर बात की। साउथ अफ्रीका के खिलाफ सेंचुरियन में खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच में केएल राहुल ने 137 गेंदों में 101 रन की पारी खेली। राहुल का शतक ऐसे समय में आया, जब भारत के टॉप ऑर्डर के बल्लेबाज यशस्वी जयसवाल, कैप्टन रोहित शर्मा, शुभमन गिल, कोहली और श्रेयस अय्यर बल्ले से कुछ खास नहीं कर पाए। पहली पारी में कठिन बल्लेबाजी परिस्थितियों में अपने प्रयासों के लिए राहुल की सराहना की गई।

उन्होंने अपना आठवां टेस्ट शतक जड़ा और टीम को 245 के कुल स्कोर पर पहुंचाया। हालांकि, विरोधी टीम के डीन एल्गर के नाबाद शतक ने राहुल की इस जुझारू पारी को फीका कर दिया। प्रोटियाज़ ने एल्गर के नाबाद 140 रन की मदद से पहली पारी में बढ़त हासिल कर ली है। दूसरे दिन का खेल समाप्त होने के बाद राहुल ने कहा, “एक व्यक्ति के रूप में, एक क्रिकेटर के रूप में… आपको हर दिन, हर पल चुनौती मिलती है। सोशल मीडिया का एक दबाव है। जब मैंने शतक बनाया है तो वही लोग मेरी तारीफ कर रहे हैं। तीन, चार महीने पहले हर कोई मुझे ट्रोल कर रहा था। यह खेल का हिस्सा है, लेकिन मैं यह नहीं कह सकता कि इसका आप पर असर नहीं पड़ता। आप लोगों को बदल नहीं सकते।

लोगों को कहने की आजादी है, लेकिन कुछ चीजें काफी दुख देने वाली होती है। आईसीसी ने राहुल के हवाले से कहा, “जितनी जल्दी आपको यह एहसास होगा कि इससे दूर रहना आपके खेल और आपकी मानसिकता के लिए अच्छा है, उतना ही बेहतर होगा। राहुल ने कहा कि चोट की वजह से जब वो क्रिकेट से दूर थे, तब उन्होंने खुद पर फोकस किया, लेकिन जब आप अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर खेलते हैं, तब आपको एक व्यक्ति के रूप में भी चुनौती का सामना करना पड़ता है।

बात अगर मैच की करे तो दक्षिण अफ्रीका तीसरे दिन 11 रन की बढ़त के साथ आगे बढ़ेगी। उनके पांच विकेट शेष हैं। क्रीज पर एक तरफ एल्गर हैं तो दूसरे छोर पर ऑलराउंडर मार्को जानसन मौजूद हैं। राहुल का मानना है कि अगर गेंदबाज अपनी लय हासिल करने में कामयाब रहे तो भारत एल्गर के फेयरवेल मैच का पहला टेस्ट खराब कर सकता है। राहुल ने कहा हम बहुत आगे के बारे में नहीं सोच रहे हैं। हमें बस गुरुवार को पहले सत्र पर ध्यान केंद्रित करना है। मुझे लगता है कि सही क्षेत्रों में गेंदबाजी करना महत्वपूर्ण है। विकेट में अब भी थोड़ी मदद मिल रही है। जितनी जल्दी हो सके हमें उन्हें आउट करने का प्रयास करना होगा। (आईएएनएस)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें