बसपा को छोड़ दलित कांग्रेस के साथ!

हरियाणा में ऐसा नहीं है कि सिर्फ जाट वोटों की नाराजगी की वजह से भाजपा को नुकसान हुआ है। जाटों के साथ साथ दलित मतदाताओं की नाराजगी भी इसमें एक कारण है। चुनाव नतीजों की पहली तस्वीर देख कर ऐसा लग रहा है कि जाटलैंड के साथ साथ भाजपा उन इलाकों में भी हारी है, जहां दलित मतदाताओं की बहुलता है।

जनादेश तो भाजपा के विरूद्ध है!

महाराष्ट्र और हरियाणा दोनों राज्यों में भाजपा की सरकार बन जाएगी। पर हकीकत यह है कि जनादेश दोनों राज्यों की भाजपा की मौजूदा सरकारों के खिलाफ है। इन दोनों राज्यों के अलावा कोई डेढ़ दर्जन राज्यों में 50 के करीब विधानसभा और दो लोकसभा सीटों पर उपचुनाव भी हुए थे।

भाजपा पर लगा ब्रेक

मैंने कल लिखा था कि हरियाणा और महाराष्ट्र के चुनावों में यदि भाजपा को प्रचंड बहुमत यानी क्रमशः 75 और 240 सीटें मिल गईं तो भाजपा सरकारें ऐसी हो जाएंगी, जैसे बिना ब्रेक की गाड़ी हो जाती है लेकिन दोनों प्रदेशों की जनता को अब भाजपा की ओर से धन्यवाद दिया जाना चाहिए कि उसने भाजपा की गाड़ी पर ब्रेक लगा दिया है।

और लोड करें