Hindu Vs Hindutva : क्या राहुल गांधी ने पकड़ ली है BJP की नब्ज…

राहुल गांधी ने खुद को हिंदू बताया था लेकिन हिंदुत्व का विरोध किया था. इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि देश…

एक साजिश है हिंदुत्व की बदनामी!

क्या अयोध्या में भव्य राम मंदिर की पुनर्स्थापना, कश्मीरी पंडितों की घाटी में सकुशल वापसी हेतु सहिष्णु वातावरण बनाने का प्रयास, लोकतांत्रिक-संवैधानिक व्यवस्था में हिंदू-हितों की भी बात और शेष विश्व

हिंदू और हिंदुत्व के नए विवाद में फंसी कांग्रेस पार्टी

उत्तर प्रदेश में चुनावी बयार अब तेज हो गई हैं। कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा यूपी में कांग्रेस के खोए जनाधार को फिर से पाने का संभव जतन कर रही हैं।

गालबजाउओं के युग में विचार विपन्नता

सलमान खुर्शीद की अयोध्या पर लिखी क़िताब के 364 पन्नों में से 113 वें पर लिखी दो पंक्तियों पर बवाल तो मचना ही था। एक तो यह दौर किसी के लिखे के भावों को समझने का है नहीं, तिस पर मौक़ा पांच राज्यों में विध

हिंदुज़्म और हिंदुत्व अलग-अलग हैं, कांग्रेस की विचारधारा बीजेपी, आरएसएस पर भारी पड़ी: राहुल गांधी

कांग्रेस के दिग्गज नेता सलमान खुर्शीद की किताब सनराइज ओवर अयोध्या : नेशनहुड इन आवर टाइम्स के एक अंश के कारण भड़के विवाद के बीच राहुल गांधी का यह बयान आया है।

हिंदुत्व के रक्षकों से कौन बचाएगा?

सो, अब यह मान लेना चाहिए कि हिंदुत्व बहुत खतरे में है। उस पर चारों तरफ से हमले हो रहे हैं। अंतरराष्ट्रीय साजिशें रची जा रही हैं।

सनातनी हिंदू का कनाडा अनुभव

कनाडा में हिंदुओं का वह रूतबा नहीं रहा जो 2014 से पहले था। क्यों? पहली बात जैसे भारत में हुआ वैसा ही कनाडा में हुआ।

जो डिस्मैंटलिंग चाहते वहीं तो ‘हिंदुत्व’ निर्माता!

सनातन धर्म याकि हिंदू समाज दो पाटों में पीस रहा है! एक पाट उन सेकुलर-वामपंथियों का है, जिन्होंने गोधरा कांड के बाद नरेंद्र मोदी को खलनायक करार दे कर उन्हें हिंदुओं में महानायक बनवाया।

मोदी राज की ‘हिंदुत्व’ स्टोरी!

कोई यदि हिंदुत्व को तालिबानी करार भी दे रहा है तो संघ परिवार को यह धन्यवाद करना चाहिए जो हिंदू शब्द का सात वर्षों में ऐसा ‘हिंदुत्वी’ कायाकल्प हुआ!

डिस्मैंटलिंग हिंदुत्वः हे राम! मोदी उपलब्धि या…

‘डिस्मैंटलिंग हिंदुत्व’ का? इस बात पर ‘नया इंडिया’ में बलबीर पुंज और शंकर शरण के लेख व मीडिया के लब्बोलुआब में समझने वाला पहला सवाल है कि क्या हम हिंदू दुनिया में बदनाम हो गए हैं?

हिंदुत्व का टेस्ट केस

एक तरफ प्रशासनिक और जन कल्याण के मोर्चों पर भाजपा सरकार की स्पष्ट विफलताएं हैं। दूसरी तरफ उसका हिंदुत्व है।

हर सवाल का जवाब हिंदुत्व है!

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उसी हिंदुत्व के भरोसे चुनावी वैतरणी पार करने की उम्मीद लगाए हुए हैं।

भागवत के भाषण का मतलब

RSS chief mohan Bhagwat speech : राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत का यह कहना मामूली नहीं है कि ‘यदि कोई कहता है कि मुसलमान यहां नहीं रह सकता है तो वह हिंदू नहीं है’। उनकी यह बात भी मामूली नहीं है कि ‘गाय के नाम पर दूसरों को मारने वाले हिंदुत्व के विरोधी हैं’। देश के मुसलमानों को भरोसा दिलाने वाली उनकी यह बात भी गैरमामूली नहीं है कि ‘मुसलमान इस भय चक्र में न फंसें कि भारत में इस्लाम खतरे में है’। मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के कार्यक्रम में उनकी कही यह बात भी गौरतलब है कि ‘वे छवि बदलने या वोट बैंक की राजनीति के लिए इस कार्यक्रम में नहीं शामिल हुए। संघ राजनीति नहीं करता है और न छवि की चिंता में रहता है। संघ का काम राष्ट्र और समाज के हर वर्ग के लिए काम करना है’। यह भी पढ़ें: क्या शिव सेना-भाजपा में कोई खिचड़ी? मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के कार्यक्रम में संघ प्रमुख का दिया पूरा भाषण पहली नजर में देखने पर लगता है कि यह संघ की विचारधारा के बारे में स्थापित धारणा से बिल्कुल उलट है। लेकिन असल में ऐसा नहीं है। इस भाषण के कुछ अंश जरूर संघ की विचारधारा से… Continue reading भागवत के भाषण का मतलब

भागवत और मोदीः हिम्मत का सवाल

bhagwat and pm modi : राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के मुखिया मोहन भागवत ने मुसलमानों के बारे में जो हिम्मत दिखाई, यदि नरेंद्र मोदी चाहते तो वैसी हिम्मत वे चीन के बारे में भी दिखा सकते थे। चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के सौ साल पूरे होने पर चीन के राष्ट्रपति शी जिन फिंग को अनेक राष्ट्राध्यक्षों ने बधाइयां दीं लेकिन हमारे मोदीजी चुप्पी खींच गए, हालांकि दोनों की काफी दोस्ती रही है। दूध पीना और महंगा! Mother Dairy ने भी बढ़ाए दूध के दाम, कल से 2 रुपए देने होंगे ज्यादा मोदी की मजबूरी थी, क्योंकि वे बधाई देते तो कांग्रेसी उनके पीछे पड़ जाते। वे कहते कि गलवान घाटी पर हमला बोलने वाले चीन से सरकार गलबहियां कर रही है। उधर 4 जुलाई को अमेरिका का 245 वां जन्म-दिवस था। मोदी ने बाइडन को बड़ी गर्मजोशी से बधाई दी। यह बिल्कुल ठीक किया लेकिन अब पता नहीं कि चीन के स्थापना दिवस (1 अक्तूबर) पर वे उसको बधाई भेजेंगे या नहीं ? इसी प्रकार 1 अगस्त को चीन की पीपल्स आर्मी के जन्म दिन पर क्या हमारा मौन रहेगा? 15 अगस्त के मौके पर शी जिन फिंग की भी परीक्षा हो जाएगी लेकिन इनसे भी बड़ा सवाल यह है कि ब्रिक्स… Continue reading भागवत और मोदीः हिम्मत का सवाल

Imran Khan ने PM Modi और हिंदुत्व के खिलाफ 82 मिनट उगला जहर, लेकिन अमेरिका ने प्रसारित ही नहीं किया

इस्लामाबाद । कहा जाता है कि जब इंसान का समय बुरा हो तो उसे सोच समझ कर बात करनी चाहिए. अब ये बात  पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ( Pakistan Prime Minister Imran Khan ) को समझ नहीं आती तो कोई क्या करे. हाल ही में इमरान खान दुष्कर्म और महिलाओं के छोटे कपड़े पर बयान देकर बुरी तरह से विवादों में घिर चुके हैं. इसके बाद भी वे बाज आने का नाम नहीं ले रहे हैं. एक अमेरिकी टीवी चैनल एचबीओ को दिए गए एक इंटरव्यू के दौरान इमरान खान ने नरेंद्र मोदी ( Narendra Modi ) और हिंदुत्व के खिलाफ जमकर जहर उगला. बताया जा रहा है कि इमरान खान को इस दौरान समय सीमा का भी ध्यान नहीं रहा और करीब 82 मिनट तक वह जहर उगलते रहे. “ہمیں بحیثیت معاشرہ جنسی جرائم کی حوصلہ شکنی کرنا ہو گی،” وزیراعظم عمران خان، غیر ملکی نشریاتی ادارے کو انٹرویو pic.twitter.com/GQRWlKYZ15 — Prime Minister’s Office, Pakistan (@PakPMO) June 21, 2021 13 मिनट में ही समेट दिया वीडियो इमरान खान द्वारा दिया गया या इंटरव्यू इन दिनों विवादों में बना हुआ है. कहा जा रहा है कि इस इंटरव्यू के दौरान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने सारी सीमाएं लांग… Continue reading Imran Khan ने PM Modi और हिंदुत्व के खिलाफ 82 मिनट उगला जहर, लेकिन अमेरिका ने प्रसारित ही नहीं किया

और लोड करें