समाचार पत्रों की जानकारी पर आधारित सवाल नहीं पूछे: लोकसभा अध्यक्ष

नई दिल्ली। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने बुधवार को सांसदों को आगाह किया कि वे अखबारों में प्रकाशित होने वाली जानकारियों के आधार पर सवाल नहीं पूछें और केवल अपनी जानकारी के आधार पर मुद्दों को उठाएं। बिड़ला का निर्देश द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (द्रमुक) नेता व तमिलनाडु के माइलादुतुरई के सांसद ए. राजा द्वारा प्रश्नकाल के दौरान समाचार पत्र के एक लेख का जिक्र करते हुए पूछे गए पूरक प्रश्न के संदर्भ में आया। बिड़ला ने राजा को बीच में टोकते हुए कहा, सांसदों को समाचार पत्रों में प्रकाशित जानकारी के आधार पर प्रश्न नहीं पूछना चाहिए। यह नियम पुस्तक में है कि प्रश्न समाचार पत्रों और टेलीविजन चैनलों की जानकारी पर आधारित नहीं होने चाहिए। इसलिए, अपनी खुद की जानकारी के आधार पर प्रश्न पूछें। राजा ने कहा, अखबारों ने बहुत ज्वलंत मुद्दे पर लेख प्रकाशित किए। यह सरकार यह कहकर सत्ता में आई कि 2जी (स्पेक्ट्रम आवंटन) में सरकारी खजाने को 1.73 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। हमें बहुत नुकसान हुआ है। यह कोई सवाल नहीं है। मैं असल सवाल पूछना चाहता हूं। उन्होंने कहा, अखबारों ने लेख छापा कि कानून मंत्री और दूरसंचार मंत्रालय एयरटेल, वोडाफोन और आइडिया जैसे निजी दूरसंचार ऑपरेटरों को 20 वर्षों… Continue reading समाचार पत्रों की जानकारी पर आधारित सवाल नहीं पूछे: लोकसभा अध्यक्ष

विपक्ष को सवाल न पूछने देना सरासर अपमान : राहुल

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को लोकसभा अध्यक्ष द्वारा तमिलनाडु के सांसदों को तमिल भाषा का मुद्दा उठाने की इजाजत नहीं देने की आलोचना की और कहा कि यह पूरी तरह से तमिलनाडु के लोगों का अपमान है।

लोकसभा में 3 से 5 मार्च की घटना की जांच के लिए समिति

कांग्रेस के सात सदस्यों को पूरे सत्र के लिए निलम्बित किए जाने के बाद लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सदन में तीन से पांच मार्च के बीच हुई घटनाओं की जांच के लिए सर्वदलीय समिति गठित करने की घोषणा की है।

लोकसभा अध्यक्ष ने हुनर हाट का अवलोकन किया

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने आज यहां इंडिया गेट के समीप राजपथ पर केन्द्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय द्वारा आयोजित 20वीं हुनर हाट का अवलोकन किया।

ईयू संसद में सीएए विरोधी प्रस्ताव: लोकसभा अध्यक्ष ने लिखा समकक्ष को पत्र

नई दिल्ली। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ यूरोपीय संसद में प्रस्ताव पेश किए जाने पर कड़ी आपत्ति जताते हुए ईयू विधायी निकाय के प्रमुख से सोमवार को कहा कि किसी विधायिका द्वारा किसी अन्य विधायिका को लेकर फैसला सुनाना अनुचित है और इस परिपाटी का निहित स्वार्थ वाले लोग दुरुपयोग कर सकते हैं। सीएए के खिलाफ यूरोपीय संसद में प्रस्तावित चर्चा और मतदान की पृष्ठभूमि में उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने भी कहा कि भारत के आंतरिक मामलों में बाहरी हस्तक्षेप की कोई गुंजाइश नहीं है। इस मामले को लेकर भाजपा ने ईयू संसद के सदस्यों की निष्पक्षता पर सवाल उठाया जबकि कांग्रेस ने भगवा दल पर नागरिकता मामले का अंतरराष्ट्रीयकरण करने का आरोप लगाया। इस बीच, यूरोपीय संघ (ईयू) के संस्थापक सदस्य देशों में शामिल फ्रांस का मानना है कि नया नागरिकता कानून (सीएए) भारत का एक आतंरिक राजनीतिक विषय है। फ्रांसीसी राजनयिक सूत्रों ने सोमवार को यह कहा। 751 सदस्यीय यूरोपीय संसद में करीब 600 सांसदों ने सीएए के खिलाफ छह प्रस्ताव पेश किए हैं जिनमें कहा गया है कि इस कानून का क्रियान्वयन भारतीय नागरिकता प्रणाली में खतरनाक बदलाव को प्रदर्शित करता है। बिरला ने ईयू यूरोपीय संसद के अध्यक्ष डेविड… Continue reading ईयू संसद में सीएए विरोधी प्रस्ताव: लोकसभा अध्यक्ष ने लिखा समकक्ष को पत्र

लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने सोशल मीडिया के खतरों से किया आगाह

ओटावा/ कनाडा। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि इंटरनेट और सोशल नेटवर्किं ग साइट्स के आने से लोगों के संसद से जुड़ने के तौर-तरीकों में नए परिवर्तन आए हैं। उन्होंने सोशल मीडिया के खतरों से भी आगाह किया। बिरला ने कहा कि इंटरनेट का विकास संसदों के लिए वरदान साबित हुआ है, क्योंकि डिजिटल टेक्नोलॉजी ने उन्हें और आधुनिक बनाया है। इनके कारण सदस्य विधायी कार्यो पर लगातार नजर रखने में सफल हो पा रहे हैं। उन्होंने सोशल मीडिया के खतरों की तरफ भी आगाह करते हुए इसकी निगरानी के लिए सख्त नियम-कायदे लागू करने की भी जरूरत बताई। उन्होंने दुनियाभर में चाइल्ड पोर्नोग्राफी पर प्रतिबंध लगाए जाने की अपील की। यहां कनाडा की राजधानी में आयोजित राष्ट्रमंडल देशों के संसद अध्यक्षों और पीठासीन अधिकारियों के 25वें सम्मेलन (सीएसपीओसी) में भारत का प्रतिनिधित्व करते हुए ओम बिरला ने ‘संसदीय और अन्य संदर्भो में व्यक्तियों की सुरक्षा’ विषय पर आयोजित कार्यशाला में अपने विचार व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि भारतीय संसद की सक्रिय वेबसाइट हैं, जिन पर विधायी कार्यवाहियों, सवाल-जवाब, वाद-विवाद, विधेयकों, सदस्यों, संसदीय समिति के प्रतिवेदनों आदि के बारे में व्यापक जानकारी उपलब्ध रहती है। इसके अलावा, ई-संसद और ई-विधान के विकास से सदस्यों की कार्यकुशलता और बढ़ गई… Continue reading लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने सोशल मीडिया के खतरों से किया आगाह

लोकसभा में आज के कामकाज

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला द्वारा सदन की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित करने की संभावना है क्योंकि शीतकालीन सत्र का शुक्रवार को समापन हो रहा है ।

संविधान के बताये रास्ते पर ही नये भारत का निर्माण :बिरला

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने भारतीय संविधान काे देश की सभ्यता – संस्कृति एवं आदर्शो का प्रतिबिम्ब बताते हुए कहा कि इसके बताये रास्ते पर चल कर ही नये भारत का निर्माण किया जा सकता है ।

संसद के शीतकालीन सत्र की बैठक शुरू

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला और राज्यसभा के सभापति एम. वेंकैया नायडू के संबोधन के साथ संसद के शीतकालीन सत्र की बैठक सोमवार सुबह शुरू हो गई है। शीतकालीन सत्र 13 दिसंबर तक चलेगा।

ओम बिरला करेंगे भारतीय संसदीय शिष्टमंडल का नेतृत्व

लोक सभा अध्यक्ष ओम बिरला जी-20 देशों की संसदों के अध्यक्षों के छठे शिखर सम्मेलन में भारतीय संसदीय शिष्टमंडल का नेतृत्व करेंगे।

और लोड करें