कमजोर हुआ तूफान, खतरा टला

नई दिल्ली। अरब सागर में उठा चक्रवाती तूफान ताउते धीरे धीरे कमजोर पड़ता जा रहा है। कर्नाटक, केरल, महाराष्ट्र, गोवा और गुजरात में कई जगह तट से टकराने के बाद यह कमजोर हुआ और उसके बाद राजस्थान की ओर बढ़ा। मंगलवार को देर रात इसके राजस्थान पहुंचने की संभावना है। इसकी वजह से कुछ इलाकों में तेज बारिश हो सकती है। इसका असर राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में भी देखने को मिलेगा। मौसम विभाग ने बताया है कि दिल्ली में अगले दो दिन बारिश हो सकती है। इस तूफान की वजह से पिछले तीन दिन में पांच राज्यों में कुल 23 लोगों की मौत हो चुकी है। चक्रवाती तूफान ताउते की वजह से गुजरात के कई जिलों में सोमवार रात और मंगलवार को भारी बारिश हुई है। तेज हवा चलने से कई जगहों पर पेड़ उखड़ गए और मकान गिर गए। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल के महानिदेशक एसएन प्रधान ने मंगलवार को कहा कि तूफान का सबसे खराब दौर गुजर गया है। कुछ घंटों में यह काफी कमजोर पड़ जाएगा। इस बीच गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने बताया कि तूफान की वजह से राज्य में तीन लोगों की मौत हुई है। तेज हवाओं की वजह से 40 हजार पेड़ गिर… Continue reading कमजोर हुआ तूफान, खतरा टला

Cyclone Tauktae live updates: तूफान का खतरा बढ़ा, पांच की मौत

नई दिल्ली। देश के पश्चिमी और दक्षिणी राज्यों में चक्रवाती तूफान तौकते का खतरा बढ़ गया है। यह चक्रवाती तूफान रविवार को गोवा के तट से टकराया, जिसकी वजह से गोवा और उससे सटे कर्नाटक के कई इलाकों में भारी बारिश शुरू हो गई है। कर्नाटक के छह तटीय जिले इससे बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं। वहां अब तक चार लोगों की मौत हो चुकी है। कुल मिला कर इस तूफान की वजह से अब तक पांच लोगों की मौत हुई है। गुजरात, महाराष्ट्र और केरल के साथ सात राज्यों में इसका व्यापक असर होने की आशंका है। कर्नाटक के छह जिलों पर इसका काफी बुरा असर पड़ा है। इन जिलों के 73 गांव इससे प्रभावित हुए हैं। राज्य में अब तक चार लोगों की मौत हो चुकी है। सभी छह जिलों में पिछले 24 घंटों से भारी बारिश हो रही है और 90 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही है। मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा हालात पर नजर बनाए हुए हैं। तूफान के कारण गोवा के कई जिलों में बिजली की आपूर्ति बाधित हो गई है, जहां सबसे पहले तूफान तटीय क्षेत्र से टकराया। उधर दक्षिण के राज्यों में केरल में सर्वाधिक असर की आशंका है। वहां… Continue reading Cyclone Tauktae live updates: तूफान का खतरा बढ़ा, पांच की मौत

अप्रैल के महीने में भी Himachal Pradesh में हो रही बर्फबारी, पर्यटक ले रहे मौसम का आनंद

शिमला | अप्रैल महीना खत्म होने वाला है और अभी हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के इलाकों में पर्यटक (Tourist) अपने रिसॉर्ट से बर्फबारी (Snowfall) का लुफ्त उठा रहे हैं। इसकी जानकारी आज मौसम अधिकारियों (Weather officials) ने दी। राज्य की राजधानी शिमला (Shimla) में रात में तापमान 7.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया और यहां इस दौरान 16.2 मिमी बारिश (Rain) भी हुई। शहर मनाली में 43 मिमी बारिश (Rain) के साथ 4.8 डिग्री तापमान दर्ज किया गया। हालांकि इसके आस-पास के स्थानों जैसे कि अटल टनल में मौसम के अनुसार हल्की बर्फबारी हुई। मौसम विभाग (Weather department) के एक अधिकारी ने बताया कि मध्य पर्वतीय इलाकों में गरज और तेज हवाओं के साथ बारिश (Rain) हुई और राज्य में ऊंची जगहों में बर्फबारी (Snowfall) के साथ न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री कम दर्ज किया गया। लाहौल-स्पीति के दूरस्थ जिलों, किन्नौर और चंबा में रात के दौरान हल्की बर्फबारी (Snowfall) हुई और सुबह बादल छाए रहे और मौसम बेहद ठंडा रहा। इसे भी पढ़ें – हाल-ए-इलाज : यहां ट्रक पहुंचते ही परिजनों ने लूट लिये ऑक्सीजन के सिलेंडर …. लाहौल-स्पीति के केलांग में न्यूनतम तापमान शून्य से 0.3 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया, जो राज्य का सबसे ठंडा तापमान… Continue reading अप्रैल के महीने में भी Himachal Pradesh में हो रही बर्फबारी, पर्यटक ले रहे मौसम का आनंद

Weather Alert News : जम्मू-कश्मीर, लद्दाख के पहाड़ी इलाकों में हल्की बर्फबारी

जम्मू-कश्मीर (J&K) और लद्दाख (Ladakh) में रविवार को मौसम अनिश्चितता की स्थिति बनी रही। दोनों केंद्रशासित प्रदेशों की पहाड़ियों में हल्की बर्फबारी हुई …

जानें, कोरोना से दुनिया को डराने के बाद क्यों पीली पड़ी चीन की राजधानी बीजिंग

New Delhi: पूरी दुनिया को कोरोना (Corona) ने परेशान किया है. ये परेशानी भी ऐसी की कई देश अबतक इससे उबर नहीं पाये हैं. यहीं कारण है कि अब विश्व के सभी देशों का ध्यान चीन(China) में होने वाली हर हलचल पर होती है. सोमवार की सुबह चीन के लिए खास थी. चीन की राजधानी बीजिंग(Beijing) में आज  सुबह जब लोगों ने आखें खोलीं तो पाया कि चारों ओर पीली रौशनी फैली हुई थी. जो तस्वीरें चीन से आयी वो सामान्य लोगों के लिए जरूर हैरान करने वाली थी. लेकिन चीन के लोगों के लिए ये हर साल होने वाली एक सामान्य घटना थी. बता दें कि ये नजारा सुखद नहीं होता या ये कोई प्रकृति का तोहफा (nature gift) भी नहीं होता. दरअसल, चीन की राजधानी बीजिंग चारों ओर फैली भूरी धूल के कारण पीली दिखाई दे रही थी. जानकारी के अनुसार भीतरी मंगोलिया और उत्तर-पश्चिमी चीन के कई इलाकों में भारी हवाएं चल रही हैं. यहीं कारण है कि  बीजिंग में साल का सबसे खराब सैंडस्टॉर्म देखने को मिला . चीन की मौसम विज्ञान (meteorological department) ने भी इसे इसे एक दशक का सबसे बड़ा सैंडस्टॉर्म कहा जिस कारण स्थिति भयावह दिख रही है. इसे भी पढ़ें- इस भाजपा… Continue reading जानें, कोरोना से दुनिया को डराने के बाद क्यों पीली पड़ी चीन की राजधानी बीजिंग

जम्मू-कश्मीर में बारिश, बर्फबारी

जम्मू-कश्मीर में आज क-रुक कर बारिश और बर्फबारी हुई। मौसम विभाग ने अपने पूर्वानुमान में अगले 36 घंटों के दौरान शनिवार तक हल्की से सामान्य बारिश और बर्फबारी होने की बात कही है।

जम्मू-कश्मीर में ताजा बर्फबारी, बारिश

जम्मू-कश्मीर के मैदानी ऊंचे पहाड़ी इलाकों में आज ताजा बर्फबारी हुई जबकि मैदानी इलाकों में बारिश हुई। मौसम विभाग ने अपने पूर्वानुमान में अगले 24 घंटों के दौरान मौसम शुष्क रहने की बात कही है।

जम्मू-कश्मीर में हुई बारिश और हल्की बर्फबारी

जम्मू-कश्मीर में आज मैदानी इलाकों में बारिश हुई और ऊंचे इलाकों में हल्की बर्फबारी हुई। मौसम विभाग का अनुमान है कि सोमवार को दोपहर बाद से मौसम में सुधार होगा।

जम्मू-कश्मीर, लद्दाख में 2 दिन तक शुष्क रहेगा मौसम

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में बादल छाए रहने से आज न्यूनतम तापमान में थोड़ा सुधार हुआ है। मौसम विभाग का अनुमान है कि दोनों केंद्र शासित प्रदेशों में अगले 2 दिन तक मोटे

6 दिन बाद कश्मीर के मौसम में हुआ सुधार

कश्मीर घाटी में 6 दिनों के बाद बादलों से छनकर आई सूरज की किरणों ने सोमवार को मौसम में सुधार किया। मौसम विभाग के अधिकारियों का कहना है कि अब अगले 48 घंटों यानि कि

कश्मीर-लद्दाख में लौटी शीतलहर

कश्मीर घाटी और लद्दाख में सोमवार को शीतलहर लौट आई है और यहां रात का तापमान फ्रीजिंग पॉइंट से नीचे बना हुआ है। मौसम विभाग (एमईटी) ने अगले 48 घंटों तक मौसम के

कश्मीर और लद्दाख में हल्की बर्फबारी, बारिश होने की संभावना

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में ठंडी हवाओं के चलने का सिलसिला आज भी जारी रहा। मौसम विभाग ने कल यहां हल्की बर्फबारी और बारिश के होने का अनुमान लगाया है।

जम्मू-कश्मीर, लद्दाख के न्यूनतम तापमान में सुधार

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में हल्की बर्फबारी होने और रात भर आसमान में बादल छाए रहने के चलते सोमवार को न्यूनतम तापमान में कुछ सुधार देखने को मिला। मौसम विभाग

जम्मू-कश्मीर, लद्दाख में दोबारा हिमपात की संभावना

मौसम विभाग ने कश्मीर घाटी और लद्दाख में 22 जनवरी से फिर से हिमपात होने का अनुमान लगाया है। लेकिन इससे पहले यहां बुधवार को न्यूनतम तापमान हिमांक बिंदु से कई डिग्री नीचे चला गया है।

कश्मीर, लद्दाख में हड्डियां कंपा देने वाली ठंड

जम्मू और कश्मीर और लद्दाख में सोमवार को हाड़ कंपा देने वाली ठंड रही। मौसम विभाग का अनुमान है कि यहां 24 जनवरी को एक बार फिर हल्की से मध्यम बर्फबारी और बारिश हो सकती है।

और लोड करें