nayaindia Chances Of Snowfall In Kashmir Meteorological Department कश्मीर में हिमपात के आसार: मौसम विभाग
Cities

कश्मीर में हिमपात के आसार: मौसम विभाग

ByNI Desk,
Share

Meteorological Department :- जम्मू-कश्मीर में पश्चिमी विक्षोभ केे असर से 16 दिसंबर को घाटी के अलग-अलग इलाकों में हिमपात होने के आसार हैं। मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने मंगलवार को यह जानकारी दी। मौसम विभाग के मुताबिक आने वाले कमजोर पश्चिमी विक्षोभ के कारण न्यूनतम तापमान में मामूली सुधार हुआ है, जिससे 16 दिसंबर की रात के दौरान कश्मीर के उत्तर और उत्तर पूर्वी हिस्सों के अलग-अलग ऊंचे इलाकों में बहुत हल्का हिमपात होने का आसार है। वहीं 21 दिसंबर तक जम्मू-कश्मीर के अधिकांश स्थानों पर मौसम शुष्क रहने और गंभीर ठंड की स्थिति जारी रहने के अनुमान हैं। मौसम विभाग ने कहा कि कश्मीर डिवीजन में कई स्थानों पर हल्का से मध्यम कोहरा भी जारी रहने के आसार हैं। सोमवार को शून्य से कम 4.8 डिग्री सेल्सियस पर सीज़न की सबसे ठंडी रात का अनुभव करने के बाद, श्रीनगर में मंगलवार को न्यूनतम तापमान शून्य से कम 1.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से 0.5डिग्री सेल्सियय कम है।

मौसम विभाग के अनुसार, पहलगाम में पिछली रात शून्य से कम 4.7 डिग्री सेल्सियस के मुकाबले न्यूनतम तापमान शून्य से कम 1.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से 2.3 डिग्री सेल्सियस अधिक है। श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर काजीगुंड में पिछली रात के शून्य से कम 3.4 डिग्री सेल्सियस के मुकाबले आज न्यूनतम तापमान 2.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि कोकेरनाग में एक दिन पहले दर्ज किए गए 2.4 डिग्री सेल्सियस के मुकाबले न्यूनतम तापमान 2.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। प्रसिद्ध स्की रिसॉर्ट गुलमर्ग में न्यूनतम तापमान में एक डिग्री का सुधार हुआ और यह एक दिन पहले शून्य से कम 3.6 डिग्री सेल्सियस के मुकाबले शून्य से कम 3.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। उत्तरी कश्मीर के प्रसिद्ध स्की रिसॉर्ट में तापमान सामान्य से 0.7 डिग्री सेल्सियस अधिक है। कुपवाड़ा में पारा शून्य से कम 2.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि पिछली रात शून्य से कम 4.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था, जो सामान्य से 0.7 डिग्री सेल्सियस कम रहा। (वार्ता)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें