चुनावों पर लगी रोक हटेगी या नहीं?

यह लाख टके का सवाल है कि लॉकडाउन 2.0 में राजनीतिक गतिविधियां कैसे प्रभावित होंगी? चुनाव आयोग ने कई राज्यों में राज्यसभा चुनावों पर रोक लगाई है तो लॉकडाउन के कारण कई राज्यों में विधान परिषद के चुनाव भी अटके हैं।

कोरोना के कारण राज्यसभा चुनाव स्थगित

चुनाव आयोग ने कोरोना वायरस महामारी के प्रकोप काे देखते हुये राज्यसभा के द्विवार्षिक चुनाव को स्थगित कर दिया है। आयोग ने गत दिनों राज्यसभा की 55 सीटों के लिये

चार राज्यों के राज्यसभा चुनाव पर नजर

राज्यसभा के दोवार्षिक चुनाव में 37 सदस्य निर्विरोध चुन लिए गए पर चार राज्यों में चुनाव की नौबत आ गई। झारखंड, गुजरात, राजस्थान और मध्य प्रदेश में चुनाव होंगे। इनमें से तीन राज्यों में भाजपा की वजह से चुनाव की नौबत आई है और एक राज्य में कांग्रेस की वजह से।

मप्र सरकार का भविष्य राज्यसभा चुनाव से जुड़ा

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने आरोप लगाया है कि भाजपा की ओर से कांग्रेस विधायकों को 25 से 30 करोड़ रुपए का ऑफर दिया जा रहा है और उनको तोड़ने का प्रयास हो रहा है। यह मामूली आरोप नहीं है।

गुजरात में राज्यसभा चुनाव दिलचस्प होगा

गुजरात में राज्यसभा की चार सीटों के चुनाव होने वाले हैं। इनमें से तीन सीटें भाजपा की हैं और एक सीट कांग्रेस के मधुसूदन मिस्त्री की है। विधानसभा के मौजूदा गणित के हिसाब से भाजपा के पास 103 विधायक हैं और कांग्रेस के 73 विधायक हैं।

और लोड करें