आखिरकार गई कैप्टेन की कुर्सी

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह अपनी कुर्सी नहीं बचा सके। विधानसभा चुनाव से छह महीने पहले उनको इस्तीफा देना पड़ा।

BJP ने लगाई CM बदलने की हैट्रिक, गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले विजय रुपाणी ने दिया इस्तीफा…

BJP के इस फैसले के साथ ही सीएम बदलने की हैट्रिक लगा दी गई है. गुजरात के मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता विजय रुपाणी को उनके पद से इस्तीफा देना पड़ा है…..

वक्त-वक्त की बात है : अफगानिस्तान की सरकार में थे संचार मंत्री , अब जर्मनी में डिलीवरी बॉय बन कर रहे हैं Pizza delivery (देखें तस्वीरें)

. काफी शानो शौकत से रहने वाले अफगानिस्तान के पूर्व मंत्री अहमद शाह सादत ( Ahmad Shah Saadat) फिलहाल जर्मनी (Germany) में हैं. इतना ही नहीं उन्हें अपने जीवन यापन के लिए पिज़्ज़ा डिलीवरी का काम करना पड़

2022 के चुनावों से पहले प्रशांत किशोर ने पंजाब के सीएम के सलाहकार के रूप में इस्तीफा दिया..

पोल रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने गुरुवार को पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के सलाहकार के पद से यह कहते हुए इस्तीफा दे दिया कि उन्होंने सार्वजनिक जीवन में सक्रिय भूमिका से अस्थायी रूप से ब्रेक लेने का फैसला किया है।

सस्पेंस खत्म ! बसवराज बोम्मई ने कर्नाटक के सीएम पद की ली शपथ, समारोह में लगते रहे भारत माता की जय के नारे…

बसवराज बोम्मई ने बुधवार को कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ले ली है. राज्यपाल थावरचंद गहलोत ने यहां राज भवन में उन्हें पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई.

भाजपा के कांग्रेसीकरण की शुरूआत ! जो समझा वो रहा, नहीं समझने वाले गया…

येदियुरप्पा दिल्ली में थे और वो उस दौरान भाजपा के शीर्ष नेताओं के दरबान के चक्कर लगा रहा थे. इस दौरान भी इस बात की चर्चा जोरों पर थी कि उनका इस्तीफा मांगा गया है

केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखा ने दिया विवादित बयान, कहा ‘ये किसान नहीं मवाली हैं..’

केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेकिन में किसान आंदोलन पर एक विवादित बयान दे दिया है. एक पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए मीनाक्षी ने कहा कि आप जिनको प्रदर्शन कारी किसान कह रहे हैं वो वास्ताव में मवाली हैं.

येदियुरप्पा ने पीएम समेंत शीर्ष नेताओं के साथ मुलाकात के बाद कहा- किसी ने इस्तीफे के लिए नहीं बोला

नई दिल्ली | Yeddyurappa Said resignation is baseless: कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने इस्तीफे की पेशकश करने संबंधी अटकलों को शनिवार को यह कहते हुए खारिज कर दिया है. उन्होंने कहा है कि इस्तीफे की बात में कोई सच्चाई नहीं है. उन्होंने कहा कि भाजपा के शीर्ष नेतृत्व ने उन्हें दक्षिणी राज्य में पार्टी को मजबूत करने और चुनाव में फिर सत्ता में लाने को कहा है. इतना ही नहीं, उन्होंने कहा कि भाजपा नेतृत्व ने उन्हें राज्य के आगामी चुनावों में पार्टी की जीत सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी भी सौंपी है. कर्नाटक में 2023 में राज्य विधानसभा के चुनाव होने हैं जबकि 2024 में लोकसभा के चुनाव प्रस्तावित हैं. हमने देश और राज्य में पार्टी का विकास कैसे करे और कर्नाटक में पार्टी के विकास पर विस्तार से चर्चा की। मेरे बारे में उनकी बहुत अच्छी राय है। मैं राज्य में फिर से सत्ता में आने के लिए पार्टी के लिए काम करूंगा: BJP अध्यक्ष जे.पी.नड्डा से मिलने के बाद कर्नाटक के CM बी.एस.येदियुरप्पा https://t.co/bNR67aNckG pic.twitter.com/8Om77UcYMZ — ANI_HindiNews (@AHindinews) July 17, 2021 नड्डा, शाह और राजनाथ सिंह से की मुलाकात Yeddyurappa Said resignation is baseless: येदियुरप्पा ने आज भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा, केंद्रीय गृह मंत्री अमित… Continue reading येदियुरप्पा ने पीएम समेंत शीर्ष नेताओं के साथ मुलाकात के बाद कहा- किसी ने इस्तीफे के लिए नहीं बोला

अतिरिक्त प्रभार वाली शासन व्यवस्था

modi government administration : ऐसा नहीं है कि भारत सरकार सिर्फ एक्सटेंशन पाए अधिकारियों के सहारे चल रही है, अतिरिक्त प्रभार वाले अधिकारी, मंत्री, राज्यपाल, प्रशासक आदि भी इसमें अपना योगदान दे रहे हैं। सरकार के पास समय ही नहीं है कि वह पूर्णकालिक नियुक्ति कर सके! दिल्ली पुलिस के कमिश्नर एसएन श्रीवास्तव रिटायर हुए हैं तो केंद्र सरकार ने उनकी जगह बालाजी श्रीवास्तव को दिल्ली पुलिस कमिश्नर का अतिरिक्त प्रभार सौंपा है। वे दिल्ली पुलिस के विशेष आयुक्त की अपनी मौजूदा जिम्मेदारी के साथ साथ दिल्ली पुलिस आयुक्त का काम भी संभालेंगे। ठीक इसी तरह एसएन श्रीवास्तव को एक मार्च 2020 को दिल्ली पुलिस आयुक्त का अतिरिक्त प्रभार मिला था। उसके बाद वे मई 2021 तक अतिरिक्त प्रभार में ही काम करते रहे। रिटायर होने से एक महीना पहले उनको स्थायी नियुक्ति दी गई। अभी पिछले दिनों केंद्र सरकार ने बड़े शोर-शराबे के बाद सीबीआई का पूर्णकालिक निदेशक नियुक्त किया। उससे पहले चार महीने तक प्रवीण सिन्हा एडिनशल चार्ज में सीबीआई निदेशक का काम देखते रहे थे। यह भी पढ़ें: कश्मीरी पंडितों की सरकार से नाराजगी केंद्र सरकार के कई अहम मंत्रालय अतिरिक्त प्रभार में चल रहे हैं। भाजपा की सहयोगी शिव सेना अलग हुई तो उसके कोटे के… Continue reading अतिरिक्त प्रभार वाली शासन व्यवस्था

Rajasthan Politics : चलो बुलावा आया है जोशी जी ने बुलाया है…. इस्तीफा भेजने के बाद हेमाराम को स्पीकर ने बुलवाया

राजस्थान में कांग्रेस के लिए स्थितियां संभलने का नाम नहीं ले रही है. हेमाराम के इस्तीफे के बाद से कांग्रेस के अंदर लगातार अंतरयुद्ध जैसी…

कोरोना को भी जीने का अधिकार!

सोचें, देश इस समय कोरोना वायरस की महामारी से जूझ रहा है और देश व दुनिया के वैज्ञानिक इस वायरस को मारने के उपाय खोज रहे हैं पर त्रिवेंद्र सिंह रावत को लगता है कि कोरोना को भी जीने का अधिकार है।

चीन को लगा झटका : PM KP Sharma Oli नहीं बचा पाये अपनी गद्दी, पक्ष में 93 वोट पड़े, जबकि विपक्ष को 124 मत

New Delhi : चीन को आज नेपाल में हुए विश्वास प्रस्ताव से कड़ा झटका लगा है. चीन के प्रति झुकाव रखने वाले नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ( PM KP Sharma Oli ) विश्वास मत साबित नहीं कर सके. आज उनके सामने सरकार बचाने की चुनौती थी लेकिन वो विश्वास मत में बुरी तरह से हार गए. केपी शर्मा ओली को अपने विश्वास मत के पक्ष में 93 वोट मिले मिले हैं, जबकि विपक्ष में 124 वोट गिरे. कुल 232 सांसदों ने मतदान किया. 275 सदस्य प्रतिनिधि सभा में चार सीट ख़ाली हैं. बता दें कि अब 38 महीने तक सरकार चलाने वाले केपी ओली को अब प्रधानमंत्री की कुर्सी छोड़नी पड़ेगी. सत्तारूढ़ पार्टी के सदस्यों ने भी केपी ओली को वोट नहीं दिया, जिसकी वजह से वह संसद में विश्वासमत हार गए. केपी ओली राष्ट्रपति बिध्या देवी भंडारी को अपना इस्तीफा सौंपेंगे. एक हफ्ते के अंदर नई सरकार का गठन होने की उम्मीद है. भारत से सम्बन्ध खराब करने में थी अहम भूमिका चीन की बात में आकर फंसकर केपी ओली फिलहाल भारत से भी सम्बन्ध खराब कर चुके हैं . उधर चीन ने भी पीठ में छूरा घोंप दिया है, जी हाँ! ओली के राज में नेपाल… Continue reading चीन को लगा झटका : PM KP Sharma Oli नहीं बचा पाये अपनी गद्दी, पक्ष में 93 वोट पड़े, जबकि विपक्ष को 124 मत

Uttar Pradesh : Corona positive पत्नी की देखभाल के लिए नहीं मिली छुट्टी, पुलिस ऑफिसर ने छोड़ी नौकरी

झांसी में मनीष सोनकर (Manish Sonkar) नाम के एक PPS (प्रांतीय पुलिस सेवा) अधिकारी ने अपना इस्तीफा देते हुए कहा है कि उन्हें अपनी Corona positive पत्नी की देखभाल के लिए छुट्टी नहीं मिली, इसलिए वह अपने पद से इस्तीफा दे रहे हैं।

Maharashtra Politics : गृह मंत्री अनिल देशमुख के इस्तीफे के बाद अब BJP ने की सीएम के त्यागपत्र की मांग

महाराष्ट्र में आया सियासी तूफान थमने का नाम नहीं ले रहा है. गृह मंत्री अनिल देशमुख के इस्तीफे के बाद से महाराष्ट्र सरकार के सामने ये संकट आ गया है. ये पूरा मामला है मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह की याचिका से शुरु हुआ था लेकिन अब बात सीएम का इस्तीफा मांगे जाने पर आ गयी है. BJP के नेता इस मुद्दे पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से जवाब मांग रहे हैं. इसके साथ ही सीएम की चुप्पी पर सवाल खड़े कर रहे हैं. इस बाबत केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने भी शिवसेना पर हमला करते हुए कहा कि CBI जांच का आदेश दिए जाने के बाद अब उद्धव ठाकरे ने लोगों का विश्वास खो दिया है. ठाकरे को नैतिक मुल्यों को ध्यान में रखते हुए अपने पद का त्याग दे देना चाहिए. इसे भी पढ़ें Bihar Board 10th Result 2021: बिहार 10वीं का रिजल्ट जारी, चार छात्रों ने संयुक्त रूप से किया टॉप कुछ भी कहने से बचते दिखे शिवसेना, कांग्रेस और NCP के नेता इस मामले में शरद पवार से पूछने पर उन्होंने कहा कि अभी उनके लिए भी कुछ कहना आसान नहीं है. लेकिन एक सवाल के जवाब में शरद पवार ने कहा कि किसी भी मंत्री… Continue reading Maharashtra Politics : गृह मंत्री अनिल देशमुख के इस्तीफे के बाद अब BJP ने की सीएम के त्यागपत्र की मांग

गृहमंत्री अनिल देशमुख के इस्तीफे पर रविशंकर ने कहा- उद्धव ठाकरे ने शासन करने का नैतिक आधार खोया

नई दिल्ली। महाराष्ट्र के गृहमंत्री Anil Deshmukh के इस्तीफे के बाद, केंद्रीय कानून और न्याय मंत्री व BJP के वरिष्ठ नेता Ravi Shankar Prasad ने आज कहा कि Chief Minister Uddhav Thackeray ने शासन करने का नैतिक अधिकार खो दिया है। प्रसाद ने यहां भाजपा मुख्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, देशमुख ने नैतिक क्षेत्र का हवाला देते हुए इस्तीफा दे दिया। मुख्यमंत्री ठाकरे, आपकी नैतिकता कहां है? क्या हम आपकी नैतिकता पर कुछ सुनेंगे? मुझे लगता है कि Uddhav Thackeray ने Governance चलाने के नैतिक अधिकार को खो दिया है। इसे भी पढ़ें – Maharashtra Home Minister Anil Deshmukh ने उद्धव ठाकरे को सौंपा इस्तीफा, High Court ने दिए थे CBI जांच के आदेश उन्होंने कहा कि देशमुख ने मुख्यमंत्री ठाकरे से नहीं, एनसीपी प्रमुख sharad Pawar से सलाह लेने के बाद इस्तीफा दिया। उन्होंने पूछा, देशमुख के इस्तीफे पर मुख्यमंत्री चुप क्यों हैं? प्रसाद ने कहा कि BJP ने बार-बार कहा था कि मुंबई पुलिस द्वारा निष्पक्ष जांच संभव नहीं है, जबकि देशमुख अभी भी पद पर हैं। मंत्री ने कहा, अब सीबीआई उचित जांच के बाद मामले की सभी कड़ियों का पता लगाएगी। इसे भी पढ़ें – Bombay High Court ने कहा गृह मंत्री अनिल… Continue reading गृहमंत्री अनिल देशमुख के इस्तीफे पर रविशंकर ने कहा- उद्धव ठाकरे ने शासन करने का नैतिक आधार खोया

और लोड करें