शी की यात्रा पर भारत की चुप्पी!

चीन के राष्ट्रपति शी जिनफिंग ने तिब्बत की यात्रा की। वे दो दिन तिब्बत में रहे। राजधानी ल्हासा के अलावा वे अरुणाचल प्रदेश की सीमा से सटे न्यांगची भी गए।

शी जिनपिंग का तिब्बती दौरा, चीन ब्रह्मपुत्र नदी पर बना रहा विश्व का सबसे बड़ा बांध

शी जिनपिंग का तिब्बती दौरा, चीन ब्रह्मपुत्र नदी पर बना रहा विश्व का सबसे बड़ा बांध

चीन का घमंड राक्षसी, चेते दुनिया!

चीन इक्कीसवीं सदी का नंबर एक खतरा है और इस बात को खुद राष्ट्रपति शी जिनफिंग ने जगजाहिर किया है। उन्होंने खम ठोक दुनिया से कहा है कि 21वीं सदी हमारी है। मतलब जो चीन चाहेगा उसे दुनिया को मानना होगा। चीन अपने माफिक दुनिया बनाएगा। चीन अब अपने को पृथ्वी का केंद्र बिंदु मानता… Continue reading चीन का घमंड राक्षसी, चेते दुनिया!

चीन बढ़ाएगा अपनी सैन्य ताकत

china increase military strength : बीजिंग। चीन की कम्युनिस्ट पार्टी यानी सीपीसी की स्थापना के एक सौ साल पूरे हो गए हैं। इस मौके पर चीन सरकार और सत्तारूढ़ कम्युनिस्टा पार्टी इसका जश्न मना रहे हैं। ऐसा ही एक समारोह गुरुवार को हुआ। इसमें राष्ट्रपति शी जिनफिंग ने भाषण दिया। उन्होंने दुनिया को अपनी ताकत… Continue reading चीन बढ़ाएगा अपनी सैन्य ताकत

चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के सौ साल : chinese communist party 100 Years

chinese communist party 100 years : चीन की कम्युनिस्ट पार्टी यानी सीपीसी की स्थापना की तारीख को लेकर कुछ संशय है। कई इतिहासकार मानते हैं कि जुलाई 1921 के मध्य में शंघाई में पार्टी की स्थापना हुई थी और इसका पहला सम्मेलन हुआ था। लेकिन चूंकि पार्टी खुद एक जुलाई को स्थापना दिवस मनाती है… Continue reading चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के सौ साल : chinese communist party 100 Years

सौ साल में चीन कितना बदला?

communist party of china : चीनी कम्युनिस्ट पार्टी को बने आज सौ साल पूरे हुए। अपने लगभग 9 करोड़ सदस्यों के साथ वह वास्तव में दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी है और सबसे शक्तिशाली पार्टी है। हमारी भाजपा अपने 12 करोड़ सदस्यों के साथ दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी होने का दावा करती है लेकिन… Continue reading सौ साल में चीन कितना बदला?

जिनफिंग ने मोदी को दिया मदद का प्रस्ताव

बीजिंग। चीन के राष्ट्रपति शी जिनफिंग ने भारत को मदद का प्रस्ताव दिया है। राष्ट्रपति ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक संदेश भेज कर भारत में कोरोना वायरस महामारी पर संवेदना जताई और देश में कोविड-19 मामलों की बढ़ोतरी से निपटने के लिए समर्थन और सहायता देने की पेशकश की। समाचार एजेंसी शिन्हुआ… Continue reading जिनफिंग ने मोदी को दिया मदद का प्रस्ताव

मोदी और शी मिलेंगे ऑनलाइन!

भारत और चीन के रक्षा मंत्रियों और विदेश मंत्रियों के बाद अब शीर्ष नेताओं की मुलाकात की बारी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन के राष्ट्रपति शी जिनफिंग से मिलने वाले हैं।

चीन में अब ईसाइयों पर निशाना

दुनिया अभी तक यही सुनती आई थी कि चीन के मुसलमानों को सताया जा रहा है। चीन के भारत से लगे प्रांत सिंक्यांग (शिनच्यांग) में लगभग 10 लाख उइगर मुसलमानों को प्रशिक्षण शिविरों में बंद किया हुआ है।

कोरोना और शी का भविष्य

वायरस के मौजूदा लम्हों में एक बड़ा सवाल चीन और उसके राष्ट्रपति शी जिनफिंग को लेकर है। सवाल है कि शी जिनफिंग का भविष्य क्या होगा? यह कई बातों पर निर्भर करेगा। सबसे पहली बात है कि अमेरिका में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप फिर चुनाव जीतते हैं या नहीं।

शी जिनफिंग की सनक से परेशान दुनिया

आज जिस एक व्यक्ति की सनक व मनमानी ने भारत समेत पूरी दुनिया को परेशान कर रखा है उसका नाम शी जिनफिंग है जो कि अपने देश चीन को सुपर पावर बनाने के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार है।

शी व टेड्रोस पर चले वैश्विक नरसंहार का मुकदमा!

भला क्यों? इसलिए कि चीन और डब्ल्यूएचओ के इन दो मालिकों की लापरवाहीव असलियत को छुपाने का परिणाम है मानवता की जान-माल में बरबादी। लाखों-करोड़ों लोग बीमार होंगे, मरेंगे और यदि महामारी दो-तीन साल चली तो जितने वायरस से लोग मरेंगे उससे ज्यादा शायद भूखमरी से मरें।

रूस और चीन से ही सीख लें!

पहले चीन में शी जिनपिंग, फिर रूस में व्लादीमीर पूतिन, के सत्ता में स्थाई बने रहने के समाचार आए हैं। इस पर हमारा क्या रुख हो?  दोनों ही देशों के प्रेमी यहाँ अच्छी संख्या में हैं। चूँकि स्वतंत्र भारत में आरंभ से सत्ता में कम्युनिस्ट प्रभाव रहा, इसलिए भी यहाँ रूस चीन के प्रति लगाव,… Continue reading रूस और चीन से ही सीख लें!

म्यांमार पर चीनी घेरा

श्रीलंका के बाद चीनी राष्ट्रपति शी चिन फिंग अब म्यांमार पहुंचे हैं। म्यामांर में अपने दो-दिन के प्रवास में उन्होंने 33 आपसी समझौतों पर हस्ताक्षर किए हैं। म्यांमार की नेता सू ची का बयान ध्यान देने लायक है। उसमें कहा गया है कि ‘‘यह कहने की जरुरत ही नहीं है कि पड़ौसी देश (म्यांमार) के… Continue reading म्यांमार पर चीनी घेरा

शी चिनफिंग म्यांमार की राजकीय यात्रा पर

बीजिंग। चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग म्यांमार की राजकीय यात्रा पर शुक्रवार को नैप्यीदा पहुंचे। शी चिनफिंग के विशेष विमान के म्यांमार के हवाई क्षेत्र पहुंचने के बाद म्यांमार की वायु सेना के लड़ाकू विमानों ने उन्हें एस्कोर्ट दिया। प्रथम उप राष्ट्रपति माइंट स्वे उनके स्वागत में हवाई अड्डे पर पहुंचे। यह इस वर्ष राष्ट्रपति… Continue reading शी चिनफिंग म्यांमार की राजकीय यात्रा पर

चीन पर भारत क्यों नहीं कुछ बोलता?

चीन के राष्ट्रपति शी जिनफिंग पिछले ही महीने भारत के दौरे पर आए थे और तमिलनाडु के ममल्लापुरम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनका भव्य स्वागत किया था। दोनों नेता सात-आठ घंटे साथ रहे थे और हर मुद्दे पर खुल कर अनौपचारिक वार्ता की थी।

ब्रिक्स सम्मेलन: पुतिन और जिनपिंग से मिले मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 11वें ब्रिक्स शिखर सम्मेलन से पहले यहां रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और ब्राजील के राष्ट्रपति जायर मेसियस बोल्सोनारो से अलग-अलग द्विपक्षीय भेंट कीं।

चीन दुश्मन है या प्रतिस्पर्धी?

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग का भारत और नेपाल दौरा कई कारणों से चर्चा में रहा। एक राष्ट्र के रूप में चीन की नीयत और नीति क्या है- वह शी के नेपाल में दिए एक वक्तव्य से स्पष्ट हो जाता है। वह कहते हैं, “जो कोई भी चीन के किसी भी क्षेत्र को विभाजित करने का प्रयास करेगा, वह मारा जाएगा।

मोदी-शी की वार्ता से क्या मिला?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनफिंग के साथ दो साल में दूसरी बार अनौपचारिक वार्ता की। 11 और 12 अक्टूबर को तमिलनाडु के ऐतिहासिक शहर ममल्लापुरम में दोनों नेताओं के बीच दूसरी वार्ता हुई। अलग अलग टुकड़ों में छह घंटे से ज्यादा समय तक दोनों ने एक दूसरे से बात की।

हमारी बुनावट और चीन बनाम भारत

बात मामूली है पर हमारी और चीनियों की बुनावट का फर्क बताती है। महाबलीपुरम में चीन के राष्ट्रपति शी जिनफिंग से मुलाकात के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने कहा मतभेद को विवाद नहीं बनने देंगे! यहीं बात विदेश मंत्री जयशंकर ने अनुच्छेद 370 खत्म करने के बाद बीजिंग जा कर बातचीत के बाद कही।

भारत-चीन का संतुलन बनाने का प्रयास

चीन के राष्ट्रपति शी जिनफिंग की भारत यात्रा के दौरान दो दिन की अनौपचारिक वार्ता के बाद वैसे तो आधिकारिक रूप से प्रेस कांफ्रेंस नहीं हुई और न किसी दोपक्षीय समझौते का ऐलान हुआ पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जो कुछ कहा और विदेश सचिव विजय गोखले ने जितनी बातें बताईं…

भारत-चीनः बेहतर माहौल

चीनी राष्ट्रपति शी चिन फिंग की यह भारत-यात्रा दोनों राष्ट्रों के आपसी संबंध को सहज और बेहतर बनाने में अवश्य ही योगदान करेगी। वैसे कश्मीर के सवाल पर भारत की जनता चीनी राष्ट्रपति के विचार जानना चाहती थी

मोदी-शी की वन ऑन वन बैठक संपन्न

महाबलीपुरम। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने शनिवार को ताज फिशरमैन्स कोव रिसॉर्ट एंड स्पा बीच रिसॉर्ट में वन ऑन वन अनौपचारिक वार्ता की। बंगाल की खाड़ी के मनोरम दृश्य वाले एक कमरे में बातचीत लगभग एक घंटे तक चली। सुबह मोदी ने रिसॉर्ट के प्रवेश द्वार पर शी की अगवानी की।… Continue reading मोदी-शी की वन ऑन वन बैठक संपन्न

मोदी और शी के बीच वार्ता फिर शुरू

मामल्लापुरम। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने दूसरे दिन अनौपचारिक शिखर वार्ता फिर शुरू की। मोदी और शी ने ‘ताज रिजॉर्ट फिशरमैन्स कोव’ में शनिवार को अपने-अपने विचार साझा किए। इसके बाद ‘टैंगो हॉल’ में एक के बाद एक प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ताएं की जाएंगी। शुक्रवार को मोदी और शी ने… Continue reading मोदी और शी के बीच वार्ता फिर शुरू

शी की बेहद अहम भारत यात्रा!

जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को खत्म करने के बाद भारत और पाकिस्तान के संबंध जितने बिगड़े हैं उससे कम भारत और चीन के संबंध नहीं बिगड़े हैं।

चीन का नरम-गरम रवैया

चीन के राष्ट्रपति शी चिन फिंग के ज्यों ही भारत आने की घोषणा हुई, कश्मीर के बारे में चीनी सरकार ने ऐसा बयान जारी कर दिया कि आज यदि भारत में इंदिराजी की सरकार होती तो चीनी राष्ट्रपति की यात्रा ही शायद स्थगित हो जाती।