nayaindia Ivan Menezes India-born CEO of Diageo passes away at 64 डियाजियो के भारतीय मूल के सीईओ मेनेजेस का निधन
कारोबार

डियाजियो के भारतीय मूल के सीईओ मेनेजेस का निधन

ByNI Business Desk,
Share

नई दिल्ली। दुनिया की सबसे बड़ी शराब कंपनी डियाजियो के भारतीय मूल के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) इवान मैनुअल मेनेजेस का बुधवार को निधन हो गया। कंपनी ने यह जानकारी दी। मेनेजेस इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती थे।

मामले की जानकारी रखने वाले सूत्रों ने बताया कि 64 वर्षीय मेनेजेस इस माह के अंत में सेवानिवृत्त होने वाले थे। पेट के अल्सर और अन्य दिक्कतों के इलाज के लिए उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। लंदन में उनकी मौत के कारणों का तत्काल पता नहीं चल सका है।

डियाजियो ने सोमवार को घोषणा की थी कि मेनेजेस का इलाज चल रहा है और मनोनीत सीईओ डेबरा क्रू अंतरिम आधार पर तत्काल शीर्ष पद संभालेंगे।

डियाजियो ने बयान में कहा, ‘‘सप्ताहांत में हमें पता चला कि अल्सर की सर्जरी के बाद इवान की हालत कई अन्य दिक्कतों की वजह से खराब हुई है।’’ पुणे में जन्मे मेनेजेस के पिता मैनुअल मेनेजेस भारतीय रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष थे। मेनेजेस ने दिल्ली के प्रतिष्ठित सेंट स्टीफंस कॉलेज और भारतीय प्रबंधन संस्थान-अहमदाबाद से पढ़ाई की थी।

मेनेजेस 1997 में गिनीज और ग्रैंड मेट्रोपॉलिटन के विलय के बाद अस्तित्व में आई डियोजियो में शामिल हो गए थे। वह जुलाई, 2012 में कंपनी के कार्यकारी निदेशक और जुलाई, 2013 में मुख्य कार्यपालक अधिकारी बन गए। उन्हें 2023 में नाइट की उपाधि दी गई थी। उनके भाई विक्टर मेनेजेस सिटी बैंक के पूर्व चेयरमैन और सीईओ हैं।

डियाजियो के प्रमुख ब्रांड में जॉनी वॉकर व्हिस्की, तनकेरे जिन और डॉन जूलियो टकीला शामिल है। कंपनी ने गत 28 मार्च को मेनेजेस के स्थान पर क्रू की नियुक्ति की घोषणा की थी।

डियाजियो पीएलसी के चेयरमैन जेवियर फेरन ने कहा कि यह हमारे लिए एक दुखद दिन है। इवान निश्चित रूप से अपनी पीढ़ी के सर्वश्रेष्ठ नेतृत्व प्रदान करने वालों में से थे।उन्होंने कहा कि इवान डियाजियो के गठन से उसके साथ थे और उन्होंने डियाजियो को सबसे बेहतर प्रदर्शन करने वाली, भरोसेमंद और सम्मानित उपभोक्ता कंपनी बनने में भूमिका निभाई है। (भाषा)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें