nayaindia Vishwanath Pratap Singhs granddaughter assault and domestic violence case पूर्व पीएम की पोती के साथ घरेलू हिंसा मामले में जांच के आदेश
उत्तराखंड

पूर्व पीएम की पोती के साथ घरेलू हिंसा मामले में जांच के आदेश

ByNI Desk,
Share

देहरादून। उड़ीसा राजघराने से जुड़ा एक हाईप्रोफाइल परिवार का मामला इन दिनों खूब चर्चा में है। मामला भले ही पारवारिक हो, लेकिन देहरादून से जुड़े होने के कारण ये प्रकरण उत्तराखंड पुलिस (Uttarakhand Police ) महानिदेशक अशोक कुमार के पास पहुंच गया है। शिकायतकर्ता महिला का आरोप है कि संबंधित थाना राजपुर से कार्रवाई ना होने के चलते डीजीपी से मुलाकात कर न्याय की गुहार लगाई गई है। डीजीपी ने देहरादून एसएसपी को जांच कर कार्रवाई के आदेश दिए हैं। दरअसल मामला पूर्व प्रधानमंत्री विश्वनाथ प्रताप सिंह (Vishwanath Pratap Singhs) की पोती अधिराज मंजरी सिंह देव (Adhiraj Manjari Singh Dev) के साथ ससुराल वालों की ओर से मारपीट और घरेलू हिंसा का है।

पुलिस शिकायत के अनुसार, मामला अधरिजा मंजरी के पति अरकेश नारायण सिंह देव (Arkesh Narayan Singh Deo) बोलनगीर के राजपरिवार से जुड़ा है। शिकायतकर्ता महिला के परदादा उड़ीसा के मुख्यमंत्री भी रहे हैं और अरकेश (भाई) सांसद हैं। शिकायतकर्ता महिला के अनुसार उनके ससुराल पक्ष का एक घर देहरादून में भी है। यही कारण है कि शिकायतकर्ता महिला अधिराज मंजरी ने अपने पति अरकेश और ससुराल पक्ष के खिलाफ मारपीट एवं घरेलू हिंसा को लेकर राजपुर पुलिस की तरफ से कोई कार्रवाई न होने के चलते डीजीपी को शिकायत पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई।

शिकायतकर्ता अधिराज मंजरी सिंह देव के अनुसार, 23 नवंबर 2017 में उनका विवाह राज घराने के वारिश अरकेश के साथ बड़ी धूमधाम से हुआ था। शादी के बाद दोनों देहरादून के राजपुर स्थित एक बंगले में रहते थे। लेकिन शादी के कुछ समय बाद ही दोनों के बीच अनबन होने लगी। मामला घरेलू हिंसा तक बढ़ गया।

ऐसे में महिला के अनुसार वह अपने साथ होने वाले घरेलू हिंसा को लेकर कई बार थाना राजपुर में शिकायत करती रही, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। शिकायतकर्ता महिला के अनुसार 13 मई 2023 को मामला इतना बढ़ गया कि उनके पति ने कुछ महिलाओं द्वारा जान से मारने की नियत से घर में घुसकर हमला तक कर किया, जिससे कारण वह बुरी तरह घायल तक हो गई।

इतना ही नहीं महिला का आरोप है कि उनके पति और ससुराल वालों ने शादी के कुछ समय बाद से ही दहेज में करोड़ों रुपए की मांग को पूरा करने के लिए मानसिक उत्पीड़न करना भी शुरू कर दिया था।

आरोप के अनुसार सितंबर 2022 में महिला के पति अरकेश द्वारा न सिर्फ तलाक लेने के लिए कागज भेजे गए, बल्कि पत्नी को घर से बाहर निकालने की सुनियोजित योजना भी बनाई गई। शिकायतकर्ता महिला के अनुसार वर्तमान में पति ने घर पर निगरानी रखने के लिए सीसीटीवी कैमरे के अलावा गार्ड सहित अन्य कर्मचारियों को उन्हें तंग और परेशान करने की नियत से रखा है।

वही दूसरी तरफ शिकायतकर्ता महिला के पति का आरोप है कि उसको गलत फंसाया जा रहा है। पत्नी उससे डिमांड के तहत न सिर्फ 100 करोड़ रुपए की डिमांड कर रही है, बल्कि उड़ीसा के एक विधानसभा सीट से एमएलए चुनाव का टिकट की भी मांग रही है। उसी सब के चलते यह ड्रामा रचा जा रहा है। (आईएएनएस)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें