nayaindia Kidney Stones गुर्दे की बड़ी पथरी का कारण बन सकता है पान मसाला
जीवन मंत्र

गुर्दे की बड़ी पथरी का कारण बन सकता है पान मसाला

ByNI Desk,
Share
Pan Masala

लखनऊ। लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) में एक यूरोलॉजी कांफ्रेंस में विशेषज्ञों ने कहा कि प्रदूषित पानी और पान मसाला (Pan Masala) के सेवन से गुर्दे की पथरी (2 सेमी से अधिक बड़ी) हो सकती है। केजीएमयू के प्रोफेसर अपुल गोयल ने कहा: “हमारे ओपीडी में आने वाले लगभग 70 प्रतिशत मरीज ऐसे हैं जिनमें 2 सेमी से अधिक बड़ी पथरी होती है। Pan Masala

यह अक्सर पान मसाला के उपयोग, कम पानी पीने या दूषित पानी पीने से होती है। सम्मेलन में विशेषज्ञों ने कहा कि एक नयी प्रक्रिया मिनिमली इनवेसिव प्रोसीजर (Minimally Invasive Procedure) है जिससे ऐसे रोगियों में उम्मीद की किरण जगी है। एसएन मेडिकल कॉलेज आगरा के पूर्व संकाय और एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष प्रोफेसर एमएस अग्रवाल ने परक्यूटेनियस नेफ्रोलिथोटॉमी तकनीक की प्रभावकारिता पर जोर दिया, जिससे सर्जरी आसान हो जाती है।

मरीजों को आमतौर पर एक दिन के भीतर छुट्टी मिल जाती है। इस बीच, लखनऊ के डॉ सलिल टंडन और प्रयागराज के डॉ विपुल टंडन ने यूरेटेरोस्कोपी के माध्यम से 2 सेमी से छोटी पथरी को हटाने में हुई प्रगति को रेखांकित किया, जिससे सर्जरी की आवश्यकता समाप्त हो जाती है। बीएचयू इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज के निदेशक प्रोफेसर एसएन शंखवार ने कांफ्रेंस में काइलुरिया के गंभीर लक्षणों पर प्रकाश डाला।

यह एक दुर्लभ स्थिति है जिसमें लिम्फेटिक लिक्विड किडनी में लीक हो जाता है और पेशाब को दूध जैसा सफ़ेद बना देता है। यह अक्सर फाइलेरिया का कारण होता है। उन्होंने कहा, “लोगों को यह बताने की जरूरत है कि सर्जरी से इसका इलाज संभव है।

यह भी पढ़ें:

अगले 5 साल में मंगल ग्रह पर होगा स्टारशिप रॉकेट: एलन मस्क

भारत में अनिद्रा की समस्या से जूझ रहे लोगों की संख्या बढ़ी

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें