Naya India

पहले चरण का प्रचार समाप्त

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव 2024 के पहले चरण में होने वाले 102 सीटों के मतदान के लिए प्रचार समाप्त हो गया है। बुधवार की शाम पांच बजे प्रचार का शोर थम गया। अब 10 अप्रैल को 21 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश की 102 सीटों के लिए पहले चरण में मतदान होगा। प्रचार के आखिरी दिन सभी पार्टियों के दिग्गजों ने पूरा जोर लगाया। अब इन क्षेत्रों में बड़े स्तर पर चुनाव प्रचार नहीं होंगे। हालांकि उम्मीदवार व्यक्तिगत स्तर पर घर घर जाकर अपने लिए वोट मांग सकते हैं।

पहले चरण में आठ केंद्रीय मंत्रियों सहित कई दिग्गज उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होना है। उत्तर से लेकर दक्षिण और पूरब से लेकर पश्चिम तक कई दिग्गज नेताओं के भाग्य का फैसला होना है। पहले चरण में तमिलनाडु की सभी 39 सीटों पर मतदान हो जाएगा। लेकिन बिहार की 40 में से सिर्फ चार और उत्तर प्रदेश की 80 में से सिर्फ आठ सीटों पर पहले चरण में मतदान होगा। राजस्थान की 12 सीटों पर पहले चरण में वोट डाले जाएंगे। मध्य प्रदेश में छह सीटों पर वोटिंग होगी।

अगर दिग्गज प्रत्याशियों की बात करें तो केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और किरेन रिजीजू के लोकसभा क्षेत्र में शुक्रवार को मतदान होगा। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी की किस्मत का फैसला भी 10 अप्रैल को होगा। तमिलनाडु की कोयंबटूर सीट से भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के अन्नामलाई और डीएमके प्रत्याशी कनिमोझी, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के बेटे नकुलनाथ, उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्री जितिन प्रसाद, हनुमान बेनीवाल, चंद्रशेखर आजाद, अजय भट्ट, ए राजा आदि पहले चरण के महत्वपूर्ण उम्मीदवार हैं।

प्रचार के आखिरी दिन बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सुबह असम के नलबाड़ी में चुनावी जनसभा को संबोधित किया इसके बाद वे त्रिपुरा गए, जहां की एक सीट पर गुरुवार को मतदान होना है। प्रधानमंत्री ने दोपहर में त्रिपुरा के अगरतला में चुनावी जनसभा को संबोधित किया। वहीं कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने बुधवार को समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव के साथ गाजियाबाद में एक संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस की। इसके बाद वे कर्नाटक गए, जहां पहले चरण में मतदान नहीं होना है।

Exit mobile version