आप का एक और विधायक कांग्रेस में

इससे पहले बुधवार को आम आदमी पार्टी की विधायक रूपिंदर कौर रूबी कांग्रेस में शामिल हो गई थीं।

आप का फ्री बिजली वादा बना सियासी मुद्दा

आम आदमी पार्टी ने एलान किया है कि यदि उसकी सरकार बनी तो हर परिवार को 300 यूनिट तक मुफ्त बिजली देगी।

गांधीनगर से तय होगी कांग्रेस, आप की दिशा

ऐसा शायद पहले कभी नहीं हुआ हो कि एक शहर के नगर निगम चुनाव से उस राज्य की चुनावी दिशा और दो पार्टियों की रणनीति तय हो। ऐसा गुजरात में हो रहा है।

चन्नी के नाम पर ही कांग्रेस को लड़ना होगा

दलितों में अगर यह मैसेज गया कि चुनाव के बाद कांग्रेस नवजोत सिंह सिद्धू या किसी दूसरे जाट सिख को मुख्यमंत्री बना सकती है तो उनक वोट बंट सकता है।

कांग्रेस से पंजाब में बाकि सभी बैकफुट पर

कांग्रेस पार्टी ने पंजाब में अपनी सारी विरोधी पार्टियों को बैकफुट पर ला दिया है। तीनों विपक्षी पार्टियां जिस एजेंडे को लेकर चुनाव मैदान में उतरने वाली थीं, कांग्रेस ने उसे पंक्चर कर दिया है।

भाजपा में कैप्टेन के लिए कुछ नहीं!

पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के दिग्गज कैप्टेन अमरिंदर सिंह का राजनीति पर सबकी नजर है। उन्होंने यह कहा है कि उनके लिए सारे रास्ते खुले हुए हैं।

पंजाब का जोड़-घटाव

दलित बहुसंख्या वाले पंजाब के खेतिहर मजदूर संगठनों को कांग्रेस के इस दांव ने ज्यादा आकर्षित नहीं किया है। उन खेतिहर मजदूर संगठनों ने दो टूक कहा है कि मुख्यमंत्री दलित हो या जाट- उससे फर्क नहीं पड़ता।

गुजरात का जुआ हार वाला!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बड़ी जोखिम ली है। अब वे 2022 का गुजरात विधानसभा चुनाव तभी जीत पाएंगे जब कांग्रेस और आप दोनों एक-दूसरे के वोट काटने वाली राजनीति करें।

उद्धव और केजरीवाल की पौ बारह!

गुजरात, कर्नाटक, उत्तराखंड में मुख्यमंत्रियों को ताश के पते की तरह फेंटने से भाजपा के तमाम मुख्यमंत्रियों की इमेज का जैसा भट्ठा बैठा है और कांग्रेस जिस दशा में है

केजरीवाल की पंजाब राजनीति

अरविंद केजरीवाल की राजनीति भले दिल्ली से बाहर ज्यादा सफल नहीं हुई है लेकिन वे प्रयास नहीं छोड़ते हैं।

Arvind Kejriwal को ऐलान, उत्तराखंड में अजय कोठियाल होंगे ‘आप’ के सीएम उम्मीदवार

उत्तराखंड में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं और आम आदमी पार्टी ने उत्तराखंड की सभी सीटों पर चुनाव लड़ने का फैसला किया है।

सिद्धू के लिए आप में क्या जगह है?

navjotsingh sidhu arvind kejriwal : क्या आम आदमी पार्टी में नवजोत सिंह सिद्धू के लिए वह जगह है, जो वे चाहते हैं? क्रिकेटर से नेता बने कांग्रेस के विधायक नवजोत सिद्धू चाहते हैं कि आम आदमी पार्टी उनको मुख्यमंत्री पद का दावेदार घोषित करे। लेकिन आप की योजना में ऐसा कुछ नहीं है। जम्मू-कश्मीर : बकरीद में ‘गाय’ की कुर्बानी पर रोक लगाने के बाद धार्मिक संगठनों ने जताई आपत्ति आप ने यह जरूर कहा है कि उसकी सरकार बनी तो सिख मुख्यमंत्री बनेगा, लेकिन उसकी योजना में सिद्धू इसके दावेदार नहीं हैं। ध्यान रहे सिद्धू 2017 में भी चाहते थे कि अरविंद केजरीवाल उनको मुख्यमंत्री पद का दावेदार घोषित कर दें, लेकिन केजरीवाल ने इस पर ध्यान नहीं दिया था। Read also: लव जिहादः दुखद लेकिन रोचक केजरीवाल की पार्टी के नेताओं जैसे संजय सिंह, भगवंत मान आदि ने राज्यसभा से इस्तीफा देने के सिद्धू के फैसले की तारीफ की थी और यह भी कहा था कि अगर वे आप में आते हैं तो उनका स्वागत है लेकिन किसी ने उन्हें मुख्यमंत्री पद का दावेदार नहीं बताया था। Arvind Kejriwal का नया खेला! PM मोदी को चिट्ठी लिख सुंदरलाल बहुगुणा को भारत रत्न की मांग असल में केजरीवाल किसी… Continue reading सिद्धू के लिए आप में क्या जगह है?

कांग्रेस के खिलाफ केजरीवाल का अभियान

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल कांग्रेस पार्टी को नुकसान पहुंचाने के अखिल भारतीय अभियान में लगे हैं। वे चुन चुन कर उन राज्यों में राजनीतिक सक्रियता बढ़ा रहे हैं, जहां कांग्रेस का सीधा मुकाबला भाजपा के साथ है। जिन राज्यों में दूसरे प्रादेशिक क्षत्रप हैं वहां आम आदमी पार्टी की राजनीति धीमी गति से चल रही है और जहां कांग्रेस मुख्य विपक्षी है वहां अति सक्रियता है। जैसे केजरीवाल की पार्टी उत्तर प्रदेश में भी राजनीति कर रही है लेकिन वहां उसकी मंशा किसी तरह से समाजवादी पार्टी के साथ तालमेल करने की है ताकि कुछ सीटें जीती जा सके। यह भी केजरीवाल का कम और संजय सिंह का खेल ज्यादा है। वे अपनी निजी महत्वाकांक्षा में उत्तर प्रदेश की राजनीति कर रहे हैं। केजरीवाल को वहां से ज्यादा मतलब नहीं है। उनकी नजर उत्तराखंड, पंजाब, गुजरात आदि राज्यों पर है। केजरीवाल ने अभी गुजरात में पार्टी कार्यालय का उद्घाटन किया और कहा कि राज्य की सभी 182 सीटों पर उनकी पार्टी लड़ेगी। यह भी चर्चा है कि वे कांग्रेस के नेता और पाटीदार आंदोलन का नेतृत्व कर चुके हार्दिक पटेल को तोड़ कर अपनी पार्टी में लाएंगे और उनको अगले साल के चुनाव में चेहरा बनाएंगे। अगर ऐसा हो… Continue reading कांग्रेस के खिलाफ केजरीवाल का अभियान

Delhi सरकार के निशाने पर Modi सरकार, मनीष सिसोदिया ने जमकर बोला हमला, कहा- SC की फटकार पर ही काम करता है केन्द्र

नई दिल्ली | दिल्ली सरकार और केंद्र सरकार के बीच पूरे कोरोना काल में जारी रही सियासी तकरार अभी भी जारी है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने आज फिर से केंद्र सरकार पर जमकर प्रहार किया है। डिप्टी सीएम सिसोदिया ने भारतीय ‘जनता’ पार्टी को भारतीय ‘झगड़ा’ पार्टी बताया है। गौरतलब है कि केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार के बीच कोरोना काल में पहले ऑक्सीजन, फिर वैक्सीनेशन और अब घर-घर राशन पहुंचाने की योजना पर केंद्र सरकार की रोक के बाद घमासान और तेज हो गया है। ये भी पढ़ें:- G7 Summit के पहले ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन का बड़ा एलान कहा- अगले साल तक दान करेंगे 10 करोड़ टीके… मनीष सिसोदिया ने दिल्ली सरकार की घर-घर राशन योजना पर केंद्र सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि, भाजपा ‘भारतीय झगड़ा पार्टी’ बन कर रही गई है। केंद्र सरकार के पास अब कुछ राज्य सरकारों को भला-बुरा कहने के अलावा कोई काम नहीं बचा है। केंद्र बस तभी काम करता है जब उच्चतम न्यायालय उसे फटकार लगाता है। ये भी पढ़ें:- प्रशांत किशोर की लंबी उड़ान: शरद पवार के बाद शाहरूख खान से करेंगे मुलाकात, PK पर बायोपिक बनाना चाहते हैं किंग खान… डिप्टी सीएम सिसोदिया ने… Continue reading Delhi सरकार के निशाने पर Modi सरकार, मनीष सिसोदिया ने जमकर बोला हमला, कहा- SC की फटकार पर ही काम करता है केन्द्र

केजरीवाल भी बिगाड़ेंगे कांग्रेस का खेल

ऐसा नहीं है कि दूसरे और तीसरे मोर्चे के खेल में सिर्फ कांग्रेस, लेफ्ट और ममता बनर्जी का खेल है और कांग्रेस-लेफ्ट को सिर्फ ममता की चिंता करनी है। अगले साल होने वाले चुनावों में अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी भी कांग्रेस या सेकुलर मोर्चे का खेल बिगाड़ेगी। केजरीवाल ने इसकी तैयारी अभी से शुरू कर दी है। अगले साल के शुरू में जिन पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं उन पांचों राज्यों में आम आदमी पार्टी की बड़ी तैयारी है। साल के अंत में दो राज्यों में और चुनाव होंगे उसमें भी हिमाचल प्रदेश में तो आप की तैयारी नहीं है पर गुजरात में वह बड़े पैमाने पर लड़ेगी। गुजरात के स्थानीय निकाय चुनावों में जिस तरह की सफलता उसे मिली है उससे लग रहा है कि वह विधानसभा की सभी सीटों पर लड़ कर कांग्रेस का खेल बिगाड़ेगी। इस काम में भाजपा की ओर से उसे प्रत्यक्ष या परोक्ष मदद भी मिलेगी। उससे पहले अगले साल फरवरी-मार्च में पांच राज्यों- उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर में विधानसभा के चुनाव हैं। इनमें से मणिपुर को छोड़ कर बाकी चार राज्यों में आम आदमी पार्टी लगभग सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगी। उसने चारों राज्यों में… Continue reading केजरीवाल भी बिगाड़ेंगे कांग्रेस का खेल

और लोड करें