बंगाल का बंटवारा आसान नहीं होगा

बंगाल में भाषायी और अस्मिता का मामला बहुत गहरा है। इसलिए बंटवारा आम बंगाली को मंजूर नहीं है।

कई राज्यों में नेता बेलगाम

chief ministers bjp ruled states: ऐसा नहीं है कि भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री ही मनमानी कर रहे हैं या उन्हीं के आगे पार्टी नेतृत्व को दबना पड़ रहा है। जहां सरकार नहीं है वहां भी नेता बेलगाम हैं और जो मन में आ रहा है, कर रहे हैं। पश्चिम बंगाल में भाजपा नेतृत्व ने शुभेंदु अधिकारी को आगे किया है। तृणमूल कांग्रेस छोड़ कर छह-आठ महीने पहले भाजपा में शामिल हुए शुभेंदु अधिकारी को प्रदेश भाजपा के नेता स्वीकार करने को तैयार नहीं हैं। प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष भी उनको पसंद नहीं कर रहे हैं और यही कारण है कि दिलीप घोष से बंगाल से बाहर निकाल कर दिल्ली लाने की चर्चा चल रही है। भाजपा नेतृत्व के कथित आइरन ग्रिप की असली हकीकत बंगाल में दिख रही है, जहां उसके तमाम प्रयासों के बावजूद थोक के भाव पार्टी छोड़ कर नेता तृणमूल कांग्रेस की ओर भाग रहे हैं। यह भी पढ़ें: खरीद-फरोख्त दोनों में घोटाले के आरोप राजस्थान में प्रधानमंत्री का नाम ही काफी बताया जा रहा है चुनाव जीतने के लिए लेकिन असल में इस तरह की बयानबाजी का मतलब पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को हाशिए में डालना है। परंतु हकीकत यह है कि अब भी पार्टी… Continue reading कई राज्यों में नेता बेलगाम

अब शुभेंदु बनाम दिलीप घोष

पश्चिम बंगाल में भाजपा के भीतर शुरू हुई कलह थमने का नाम नहीं ले रही है। भाजपा के उपाध्यक्ष मुकुल रॉय और उनके बेटे शुभ्रांग्शु रॉय के तृणमूल कांग्रेस में लौट जाने और राजीब बनर्जी के पार्टी छोड़ने की तैयारियों के बीच भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष और विधायक दल के नेता शुभेंदु अधिकारी के बीच विवाद शुरू हो गया है। शुभेंदु अधिकारी अपनी स्थिति मजबूत बनाए रखने के लिए चाहते हैं कि कोई विधायक पार्टी नहीं छोड़े। वे विधायक दल के नेता हैं और उनके बारे में यह धारणा है कि वे बहुत मजबूत हैं। लेकिन इसके बावजूद अगर विधायक पार्टी छोड़ते हैं तो उनकी स्थिति कमजोर होगी। तभी उन्होंने पार्टी छोड़ने की तैयारी कर रहे विधायकों को चेतावनी दी है और कहा है कि उनके ऊपर दलबदल विरोधी कानून लागू होगी और विधानसभा से इस्तीफा देना होगा। यह भी पढ़ें: भाजपा के अंतर्कलहः न चर्चा, न खबर! दूसरी ओर दिलीप घोष और भाजपा के पुराने नेता चाहते हैं कि तृणमूल से आए सारे लोग वापस चले जाएं। सो, दिलीप घोष ने कहा है कि जो लोग सत्ता की चाह में भाजपा में आए हैं वे वापस चले जाएं तो बेहतर होगा। इस तरह दिलीप घोष तृणमूल कांग्रेस… Continue reading अब शुभेंदु बनाम दिलीप घोष

टीएमसी सांसद नुसरत जहां को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा फ्रॉड, बोले -सिंदूर लगाती है ..और गर्भवती होती है..लेकिन विवाहिता नहीं है…

टीएमसी सांसद नुसरत जहां की शादी का विवाद अब सियासी रंग लेता जा रहा है. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष है कहा है कि नुसरत जहां फ्रॉड है. दिलीप घोष ने कहा कि नुसरत जहां एक शादीशुदा महिला के रूप में संसद में शपथ ली थी. उन्होंने कहा कि इतने दिनों तक नुसरत सबको यही बताती रही कि वह एक शादीशुदा महिला है लेकिन अब जब उनका विवाद छिड़ गया तो खबर रहती है कि ये शादी तो हमारे देश में मान्य ही नहीं है. बता दें कि अपने पति से विवाद होने के बाद नुसरत जहां ने कहा था कि यह शादी तो भारत में अमान्य है तो फिर तलाक का सवाल ही नहीं उठता. लगातार विवादित बयान देते रहे हैं दिलीप घोष भाजपा प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष पर हमेशा ही विवादित बयान देने का आरोप लगता रहा है. दिलीप घोष ने नुसरत जहां ही नहीं बल्कि इस मुद्दे पर बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर भी टिप्पणी कर दी. उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी कैसे ऐसे व्यक्ति की शादी में जा सकती है जो विवाहिता ही नहीं है. नुसरत सिंदूर लगाती है …और गर्भवती होती है,.. लेकिन विवाहिता नहीं है. इसे भी पढ़ें-पूरा हुआ राम मंदिर का… Continue reading टीएमसी सांसद नुसरत जहां को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा फ्रॉड, बोले -सिंदूर लगाती है ..और गर्भवती होती है..लेकिन विवाहिता नहीं है…

West Bengal Assembly Election 2021 : पश्चिम बंगाल के भाजपा प्रमुख दिलीप घोष पर चुनाव आयोग ने लगाया बैन

नई दिल्ली। West Bengal Assembly Election 2021 : चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन करने पर पश्चिम बंगाल के भाजपा प्रमुख दिलीप घोष (Dilip Ghosh) पर चुनाव आयोग ने 24 घंटे का बैन लगा दिया है। अब भाजपा प्रमुख घोष 15 अप्रेल शाम 7 बजे से 16 अप्रेल शाम 7 बजे तक चुनाव प्रचार नहीं कर पाएंगे। इसी के सथ चुनाव आयोग ने अपने आदेश में दिलीप घोष को भड़काऊ बयानों से बचने की चेतावनी भी दी है। यह भी पढ़ें:- राजस्थान: गोविंद सिंह डोटासरा का भाजपा के कटारिया पर तीख प्रहार, कहा- हमारी सरकार तो नहीं गिरी, आपकी कुर्सी जरूर छिन सकती है… यह भी पढ़ें:- Rajasthan CM Ashok Gehlot : देश में वैक्सीन की पर्याप्त उपलब्धता पर झूठ बोले हैं केन्द्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन आपत्तिजनक बयान – दोहराई जाएंगी हिंसक घटनाएं चुनाव आयोग के अनुसार दिलीप घोष पर बैन पश्चिम बंगाल में विधान सभा चुनाव के प्रचार के दौरान सितलकूची में दिए गए एक बयान को लेकर लगाया गया है। उन्होंने एक बूथ पर हुई हिंसा का हवाला देते हुए था कि कई अन्य जगहों पर इस तरह की हिंसा की घटनाएं दोहराई जाएंगी। यह भी पढ़ें:- West Bengal में कोरोना वायरस से संक्रमित कांग्रेस प्रत्याशी Rezaul Haq की अस्पताल में मौत… Continue reading West Bengal Assembly Election 2021 : पश्चिम बंगाल के भाजपा प्रमुख दिलीप घोष पर चुनाव आयोग ने लगाया बैन

भाजपा के पश्चिम बंगाल अध्यक्ष के काफिले पर हमला

कोलकाता। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 ( West Bengal Assembly Elections 2021 ) के लिए तीन चरणों का मतदान समाप्त हो चुका है। अब 10 अप्रेल को होने वाले चैथे चरण के मतदान ( West Bengal Vidhan Sabha Chunav 2021 ) के लिए सभी पार्टियां जोर-शर से प्रचार-प्रसार में जुटी हैं। आगामी मतदान के लिए हो रही रैलियों में जमकर एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप और राजनैतिक हिंसा का सिलसिला जारी हैं। बुधवार की शाम को भाजपा के पश्चिम बंगाल अध्यक्ष दिलीप घोष ( Dilip Ghosh ) पर एक बार फिर हमला किया गया है। जानकारी के अनुसार, दिलीप घोष के काफिले पर कूचबिहार के शीतलकूची में हमला किया गया। हमले की घटना से भाजपा समर्थक में गहरा रोष व्याप्त है। यह भी पढ़ें:- Lockdown Return! यहां पूर्ण लॉकडाउन का ऐलान, 11 दिनों तक सबकुछ रहेगा बंद दिलीप घोष ने बताया है कि उनके काफिले पर शीतलकूची में हमला किया गया। इस हमले की तस्वीर सामने आई है। तस्वीर में दिलीप घोष जिस गाड़ी में बैठे हैं उसका शीशा टूटा दिखाई दे रहा है। यह भी पढ़ें:- राजस्थान के इस जिले में कोरोना ब्लास्ट! हर इलाके में मिले संक्रमित यह भी पढ़ें:- Rajasthan EWS Reservation : अब आर्थिक पिछड़ों को भी अन्य पिछड़ों के… Continue reading भाजपा के पश्चिम बंगाल अध्यक्ष के काफिले पर हमला

बंगाल भाजपा में सब ठीक नहीं

पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी ने पूरी ताकत लगाई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने पश्चिम बंगाल का चुनाव इस तरह से लड़ रहे हैं जैसे अगर वहां नहीं जीते तो जीवन अधूरा रह जाएगा।

दिलीप घोष की बात सुनने की जरूरत नहीं

अपने विवादित बयानों के लिए मशहूर रहे पश्चिम बंगाल भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने अब कहा है कि कोरोना खत्म हो गया है। उनका कहना है कि कोरोना अब नहीं बचा है और राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी इसलिए लॉकडाउन लगा रही हैं

तृणमूल ने कोविड पर दिलीप घोष के बयान की आलोचना की

पश्चिम बंगाल में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष के ‘कोरोना समाप्त हो चुका है’ बयान पर पलटवार करते हुए, ममता बनर्जी की अगुवाई वाली तृणमूल कांग्रेस ने आज उनपर जमकर हमला बोला।

दिलीप घोष फिर बने भाजपा की बंगाल इकाई के अध्यक्ष

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता दिलीप घोष एक बार फिर पार्टी की बंगाल इकाई के प्रमुख चुने गए हैं। पार्टी सूत्रों ने इस बात की जानकारी दी।

दिलीप घोष के बयान से भाजपा ने पल्ला झाड़ा

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल के भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष की ओर से सार्वजनिक संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने वालों पर दिए बयान से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने पल्ला झाड़ लिया है। केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने दिलीप घोष के बयान पर पार्टी की ओर से सफाई देते हुए ट्विटर पर लिखा दिलीप घोष ने जो कुछ भी कहा है, उससे भाजपा का कोई लेना-देना नहीं है। यह उनकी काल्पनिक सोच है। उत्तर प्रदेश और असम में भाजपा सरकार कभी भी किसी भी वजह से लोगों को गोली नहीं मारती है। उन्होंने ट्वीट किया यह दिलीप घोष का बेहद गैर-जिम्मेदाराना बयान है। रविवार को पश्चिम बंगाल के नादिया में एक रैली को संबोधित करते हुए घोष ने कहा था दीदी (ममता बनर्जी) की पुलिस उन लोगों पर कभी कार्रवाई नहीं करती हैं, जो सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाते हैं, क्योंकि वे उनके वोटर्स हैं। हमारी सरकार उत्तर प्रदेश, असम और कर्नाटक में ऐसे लोगों को गोली मारकर कुत्तों की तरह हत्या कर देती है। इसे भी पढ़ें : मोदी-शाह देश को गुमराह कर रहे हैं: सोनिया उन्होंने उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने के लिए पश्चिम बंगाल पुलिस की आलोचना की, जिन्होंने विरोध प्रदर्शनों के दौरान रेल पटरियों, बसों आदि… Continue reading दिलीप घोष के बयान से भाजपा ने पल्ला झाड़ा

बंगाल भाजपा प्रमुख का विवादास्पद बयान

पश्चिम बंगाल में भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने मंगलवार को यह कहकर विवाद खड़ा कर दिया कि जो बुद्धिजीवी बीफ खाते हैं और गायों का ‘अपमान’ करते हैं उन्हें कुत्ते का मांस भी खाना चाहिए।

और लोड करें