kishori-yojna
जम्मू में वोट काटने का काम करेंगे आजाद

कांग्रेस नेतृत्व को चिट्ठी लिख कर नाराजगी जताने वाले जी-23 समूह के नेताओं को जम्मू में जुटा कर अपना सम्मान कराने के समय ही उन्होंने इरादा जाहिर कर दिया था।

गुलाम नबीः सोनिया बचाए कांग्रेस को

सोनियाजी यदि कांग्रेस को ‘अधोमूल’ बनवा दें याने उसकी जड़ें फिर से ज़मीन में लगवा दें तो भारत के लोकतंत्र की बड़ी सेवा हो जाएगी।

आजाद से मिले आनंद शर्मा

गुलाम नबी आजाद के कांग्रेस से इस्तीफे देने के एक दिन बाद शनिवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री आनंद शर्मा ने आजाद से मुलाकात की।

आजाद, आनंद शर्मा ने की प्रेस कांफ्रेंस

सबसे वरिष्ठ और सक्रिय नेता- गुलाम नबी आजाद और आनंद शर्मा बुधवार को सोनिया गांधी के समर्थन में प्रेस कांफ्रेंस करने उतरे।

कपिल सिब्बल और उनके भाईजान

कपिल सिब्बल ने गुलाम नबी आजाद को भाईजान बताते हुए पद्म भूषण पुरस्कार मिलने की बधाई दी

आजाद नहीं होंगे कांग्रेस प्रचार में

असली मतलब गुलाम नबी आजाद का है। वे कांग्रेस के मुस्लिम चेहरे के तौर पर पूरे देश में जाने जाते हैं। उनके प्रचार में जाने से कांग्रेस को फायदा भी हो सकता था।

आजाद और शर्मा पर कांग्रेसी बिफरे

कांग्रेस आलाकमान के प्रति बागी रुख दिखाने वाले नेताओं गुलाम नबी आजाद और आनंद शर्मा के ऊपर कांग्रेस नेताओं ने तीखा हमला किया है।

कांग्रेस सुधरे तो देश सुधरे

पांच राज्यों में चुनाव की घोषणा और कांग्रेस के बागी नेताओं के नए तेवर कांग्रेस पार्टी के लिए नई चुनौतियां पैदा कर रहे हैं।

कांग्रेस के असंतुष्टों ने दिखाएं तैंवर

कांग्रेस आलाकमान से नाराज नेताओं ने शनिवार को जम्मू में शक्ति प्रदर्शन किया। इन असंतुष्ट नेताओं ने अपने शक्ति प्रदर्शन को शांति सम्मेलन का नाम दिया।

आजाद क्या भाजपा के पाले में जाएगें?

राज्यसभा में कांग्रेस पार्टी के नेता गुलाम नबी आजाद रिटायर हो गए। 15 फरवरी को उनके कार्यकाल का आखिरी दिन था। पिछले हफ्ते बजट सत्र का पहला हिस्सा संपन्न होने से पहले उनको राज्यसभा में जबरदस्त विदाई दी गई थी

भारतीय मुसलमान सर्वश्रेष्ठ

कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद की संसद से बिदाई अपने आप में एक अपूर्व घटना बन गई। पिछले साठ—सत्तर साल में किसी अन्य सांसद की ऐसी भावुक विदाई हुई हो, ऐसा मुझे याद नहीं पड़ता।

आजाद की जगह कौन नेता बनेगा?

कांग्रेस पार्टी को संसद के दोनों सदनों में नए संसदीय नेता नियुक्त करने हैं। उच्च सदन में कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद का कार्यकाल अगले महीने खत्म हो रहा है।

आजाद की राज्यसभा से विदाई होगी!

गुलाम नबी आजाद क्यों बागी हुए हैं? उन्होंने इससे पहले कभी भी पार्टी नेतृत्व पर सवाल नहीं उठाया और बदले में कांग्रेस ने भी उनको पिछले कई दशक से पार्टी का मुस्लिम चेहरा बना कर रखा

गुलाम नबी ने दिखाए तेवर

राज्यसभा में कांग्रेस पार्टी के नेता गुलाम नबी आजाद ने गुरुवार को एक बार फिर तीखे तेवर दिखाए। उन्होंने कांग्रेस में नेतृत्व को लेकर चिट्ठी लिखने के फैसले को सही ठहराया और चिट्ठी के लीक हो जाने का भी बचाव किया।

और लोड करें