क्षेत्रीय दलों की ताकत बढ़ेगी

पिछले सात साल में भारतीय जनता पार्टी के उभार की वजह से राज्यसभा में क्षेत्रीय दलों की ताकत काफी कम हो गई है। लेकिन अगले साल दोवार्षिक चुनाव में इन दलों की ताकत में इजाफा होगा। राज्यों के चुनाव में क्षेत्रीय दलों के मुकाबले भाजपा वैसा प्रदर्शन नहीं कर पाई है, जैसा नरेंद्र मोदी के… Continue reading क्षेत्रीय दलों की ताकत बढ़ेगी

भाजपा-टीडीपी में वोट की खींचतान

भाजपा के पुराने सहयोगियों में से एक तेलुगू देशम पार्टी बहुत तीखी बयानबाजियों के बाद भाजपा से अलग अलग हो गई। बाद में भाजपा ने उसके चार राज्यसभा सांसदों को तोड़ लिया।

एनडीए का ढांचा बनाएगी भाजपा!

भारतीय जनता पार्टी क्या अपनी सहयोगी पार्टियों की नाराजगी दूर करके फिर से एनडीए का ढांचा बनाने जा रही है? ध्यान रहे भाजपा के नेतृत्व वाला एनडीए अभी अस्तित्व में है पर इसका अस्तित्व चुनाव के समय ही दिखता है।

नायडू की सुरक्षा हटाना उन्हें नुकसान पहुंचाने का मकसद

विपक्षी तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) ने कहा है कि वाईएसआरसीपी सरकार द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू की सुरक्षा में कमी करने का मकसद उन्हें नुकसान पहुंचाना है।

टीडीपी-भाजपा करीब आ रहे हैं

लोकसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ सभी विपक्षी पार्टियों को एकजुट करने का सबसे गंभीर प्रयास करते रहे चंद्रबाबू नायडू एक बार फिर एनडीए में वापसी के प्रयास में लगे हैं। उन्होंने पिछले दिनों मामूली बातों को लेकर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की तारीफ की।

सीट जीते बगैर मुख्य विपक्ष बनने के फिराक में भाजपा

दक्षिण भारत में विस्तार की कोशिशों में जुटी भाजपा को फिलहाल आंध्र प्रदेश में ही सबसे उर्वर सियासी जमीन दिख रही है। भाजपा यहां लोकसभा और विधानसभा चुनाव में हार से हताश तेलुगू देशम पार्टी(तेदेपा) के नेताओं को तोड़कर उसे और कमजोर करने में जुटी हुई है।