nayaindia Narendra Modi डेढ़ साल बाद बिहार पहुंचे मोदी
बिहार

डेढ़ साल बाद बिहार पहुंचे मोदी

ByNI Desk,
Share

पटना। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी डेढ़ साल के बिहार के दौरे पर पहुंचे। लोकसभा चुनाव से पहले उन्होंने बिहार और पूरे देश के लिए एक लाख 81 हजार करोड़ रुपए की परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। इस मौके पर उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रति सद्भाव दिखाया और लालू प्रसाद व उनके परिवार के खिलाफ जम कर हमला किया। उन्होंने पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव पर भी निशाना साधा। प्रधानमंत्री शुक्रवार को बंगाल से बिहार पहुंचे और औरंगाबाद व बेगूसराय में सभा को संबोधित किया। नीतीश कुमार दोनों जगह उनके साथ थे। Narendra Modi Aurangabad Inauguration

प्रधानमंत्री ने बेगूसराय की सभा में कहा कि बिहार विकसित होगा तो देश विकसित होगा। इसके पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने औरंगाबाद में कही अपनी बात दोहराते हुए- मैं बीच में इधर उधर हो गया था, लेकिन अब परमानेंटली यहां रहने आ गए हैं। मुझे विश्वास है कि 400 से ज्यादा सीटें लोकसभा में जीतेंगे। मुख्यमंत्री ने सभा में सबको खड़ा कराकर पीएम मोदी का स्वागत कराया। इससे पहले औरंगाबाद में प्रधानमंत्री ने बिहार समेत देश की 1.81 लाख करोड़ से अधिक की योजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन किया।

मोदी ने मंच से कहा कि बिहार को पुराने दौर में नहीं जाने देंगे। उन्होंने तेजस्वी का नाम लिए बिना कहा- परिवारवाद के कारण लोग सत्ता में तो आ जाते हैं, लेकिन अपने माता-पिता के कार्यकाल का जिक्र तक नहीं कर पाते। एनडीए की बढ़ती ताकत से परिवारवादी डरे हुए हैं। इससे पहले प्रधानमंत्री ने नीतीश के प्रति खूब सद्भाव दिखाया। असल में औरंगाबाद में मंच पर पीएम को माला पहना रहे नेताओं में सीएम नीतीश भी थे, लेकिन मोदी ने उनका हाथ पकड़कर अपने साथ माला के अंदर खड़ा किया।

बहरहाल, इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी जुलाई 2022 में बिहार आए थे। उस वक्त भी बिहार में एनडीए की ही सरकार थी। इसके एक महीने बाद ही नीतीश कुमार पाला बदल कर राजद के  साथ चले गए थे। लोकसभा चुनाव के लिए मुद्दा तय करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बिहार को पुराने दौर में नहीं जाने देंगे। उन्होंने लोगों को याद दिलाया कि पहले शाम होने के बाद लोग घरों से नहीं निकलते थे।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें