nayaindia Rahul मोदी सरकार ने अग्निवीर योजना लाकर सेना का अपमान किया: राहुल
मध्य प्रदेश

मोदी सरकार ने अग्निवीर योजना लाकर सेना का अपमान किया: राहुल

ByNI Desk,
Share
Modi Government Insulted Army Bringing Agniveer Scheme Rahul

भिंड। कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने सेना में लागू की गई अग्निवीर योजना (Agniveer Scheme) को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा पर करारा हमला बोला है। मध्य प्रदेश के भिंड संसदीय क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी फूल सिंह बरैया के समर्थन में आयोजित जनसभा में राहुल गांधी ने कहा कि अग्निवीर योजना के जरिए मोदी सरकार ने देश की सेना का अपमान किया है। यहां से लोग सेना में सबसे ज्यादा जाते हैं। मोदी सरकार ने दो तरह के सैनिक बना दिए। एक को पेंशन मिलेगी, कैंटीन मिलेगी, अच्छी ट्रेनिंग मिलेगी और दूसरा जवान जिसको न तो कैंटीन मिलेगी, न पेंशन मिलेगी और न ही अच्छी सैलरी मिलेगी। Rahul Gandhi

एक को अग्निवीर कहते हैं दूसरा सामान्य जवान होता है। एक को शहीद होने पर सुविधाएं दी जाएगी, दूसरे को शहीद का दर्जा भी नहीं मिलेगा। राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने आरोप लगाया कि उन्होंने सेना का अपमान किया है। सैनिक और आमजन अग्निवीर नहीं चाहते, अगर सिर्फ कोई चाहता है तो वह पीएम मोदी (PM Modi) हैं। यह मामूली चुनाव नहीं है, दो विचारधाराओं की लड़ाई है। संविधान ने देश के गरीब, आदिवासी, दलित और सामान्य वर्ग के लोगों को अधिकार दिए हैं। जिसे बचाने के लिए कांग्रेस पार्टी और इंडिया गठबंधन (India Alliance) मैदान में है।

वहीं, भाजपा ने मन बना लिया है कि अगर वह चुनाव जीतेंगे तो संविधान की किताब फाड़कर फेंक देंगे। देश में लोगों को जो भी मिला है, सब खत्म हो जाएगा। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा चाहती है कि यह किताब फेंक दी जाए। यह जो चुनाव है वह लोकतंत्र, आदिवासियों के अधिकारों की लड़ाई का चुनाव है। दुनिया में ऐसी कोई शक्ति नहीं है, जो संविधान बदल सके। लेकिन, भाजपा (BJP) के लोग सपने देख रहे हैं। कांग्रेस पार्टी ने अंबेडकर के साथ मिलकर अंग्रेजों से लड़ाई लड़ी और यह संविधान हिंदुस्तान की जनता की आवाज से बनाया। इसे हम ऐसे नहीं मिटने देंगे।

यह भी पढ़ें:

डायनासोर की तरह लुप्त हो जाएगी कांग्रेस पार्टी: राजनाथ सिंह

आंखों में ‘कजरा मोहब्बत वाला’ लगाकर करीना ने कराया फोटोशूट

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें