nayaindia Iran Vow to Respond to Attacks on Syrian Target ईरान ने सीरियाई ठिकानों पर हमलों का जवाब देने का लिया संकल्प
ताजा पोस्ट

ईरान ने सीरियाई ठिकानों पर हमलों का जवाब देने का लिया संकल्प

ByNI Desk,
Share

तेहरान। ईरान (Iran) ने सीरिया (Syria) में आतंकवाद से लड़ने के लिए स्थापित ठिकानों पर किए गए हमलों का जवाब देने का संकल्प जताया है। समाचार एजेंसी ने जानकारी दी कि ईरान की सर्वोच्च राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के प्रवक्ता, कीवन खोसरावी (Keyvan Khosravi) ने कुछ अमेरिकी अधिकारियों द्वारा हाल ही में ईरान पर लगाए गए आरोपों के जवाब में चेतावनी दी। समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, ईरानी प्रवक्ता ने जोर देकर कहा कि अमेरिकी पक्ष ने झूठे आरोपों का इस्तेमाल करते हुए संभावित परिणामों से बचने के लिए दोषारोपण का सहारा लिया। खोसरावी ने कहा कि ईरान ने सीरिया में आतंकवाद से लड़ने और स्थायी सुरक्षा बनाए रखने के लिए भारी कीमत चुकाई है।

ये भी पढ़ें- http://मप्र में मतदाताओं पर फेंके जा रहे हैं सौगातों और वादों के जाल

उन्होंने जोर देकर कहा कि तेहरान सीरिया की स्थिरता को खतरे में डालने वाले किसी भी कदम का विरोध करेगा। ईरान ने कहा कि उसकी सीरिया में एक सलाहकार भूमिका है और वह दमिश्क (Damascus) के अनुरोध पर देश में मौजूद है। गुरुवार की दोपहर देश में एक अमेरिकी ठिकाने पर ड्रोन हमले (Drone Attack) के बाद अमेरिकी सेना ने पूर्वोत्तर सीरिया में हवाई हमला किया। इसमें एक अमेरिकी ठेकेदार की मौत हो गई और पांच सैनिक घायल हो गए। अमेरिकी रक्षा सचिव लॉयड ऑस्टिन (Lloyd Austin) ने बाद में एक बयान में कहा कि सटीक हवाई हमले ने पूर्वी सीरिया में ईरान की इस्लामी क्रांति गार्ड कोर से संबद्ध समूहों द्वारा उपयोग की जाने वाली सुविधाओं को लक्षित किया।

आईआरएनए (IRNA) के अनुसार, शुक्रवार की रात, अमेरिकी हमले के जवाब में, इस्लामिक प्रतिरोध सेनानियों ने पूर्वी सीरिया में 60 रॉकेटों और कामीकेज ड्रोन के साथ दो अमेरिकी ठिकानों को निशाना बनाया। एक अमेरिकी अधिकारी ने सीबीएस न्यूज (CBS News) से पुष्टि की कि शुक्रवार को सीरिया में अमेरिकी ठिकानों को निशाना बनाकर किए गए हमलों में एक अमेरिकी सैनिक घायल हो गया। (आईएएनएस)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें