nayaindia Raju Pal murder case Atiq Ahmed wife Mayawati दोषी साबित होते ही अतीक की पत्नी को बसपा से निकाल देंगे : मायावती
उत्तर प्रदेश

दोषी साबित होते ही अतीक की पत्नी को बसपा से निकाल देंगे : मायावती

ByNI Desk,
Share

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष मायावती (Mayawati) ने कहा है कि प्रयागराज में राजू पाल हत्याकांड (Raju Pal murder case) के गवाह और उसके एक सुरक्षाकर्मी की हत्या के मामले में सूत्रधार बताए जा रहे पूर्व सांसद अतीक अहमद (Atiq Ahmed) की पत्नी को जांच में दोषी साबित होते ही बसपा से निष्कासित कर दिया जाएगा।

अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन इस वक्त बसपा में है। राजू पाल हत्याकांड के अहम गवाह उमेश पाल और उसके सुरक्षाकर्मी की हत्या के मामले में परवीन के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। मामले में अतीक अहमद उसके दो बेटे भी अभियुक्त हैं।

मायावती ने सोमवार को सिलसिलेवार ट्वीट कर कहा कि प्रयागराज में राजू पाल की वर्षों पहले हुई हत्या के मामले में अहम गवाह अधिवक्ता उमेश पाल और उनके सुरक्षाकर्मी की हत्या के आरोप में अतीक अहमद के बेटे एवं उनकी पत्नी के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज किए जाने की भी सूचना प्रकाशित हुई है। बसपा ने इसका गम्भीरता से संज्ञान लेते हुये यह निर्णय लिया है कि इस मामले में जारी जांच में इनके दोषी साबित होने पर अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन को पार्टी से जरूर निष्कासित कर दिया जायेगा।

बसपा अध्यक्ष ने समाजवादी पार्टी (सपा) पर अतीक अहमद को प्रश्रय देने का आरोप लगाते हुए एक अन्य ट्वीट में कहा कि यह बात भी सर्वविदित है कि अतीक अहमद समाजवादी पार्टी का ही ‘प्रोडक्ट’ है, जिस पार्टी से वह सांसद और विधायक भी रहा है। अब राजू पाल की पत्नी भी बसपा से सपा में चली गयी है, जिस पार्टी को वह मुख्य दोषी ठहराती थी। इसलिए इसकी आड़ में कोई भी राजनीति करना ठीक नहीं है।

मायावती ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि यह भी विदित है कि किसी भी अपराध की सजा बसपा द्वारा उनके परिवार एवं समाज के किसी भी निर्दोष व्यक्ति को नहीं दी जाती है। लेकिन यह भी सच है कि पार्टी किसी भी जाति एवं धर्म के आपराधिक तत्व को बढ़ावा नहीं देती है।

वर्ष 2005 में बसपा के तत्कालीन विधायक राजू पाल की हत्या के मामले में अहम गवाह रहे उमेश पाल और उसके सुरक्षाकर्मी की पिछली 24 फरवरी को प्रयागराज में दिनदहाड़े बम और गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। माफिया राजनेता अतीक अहमद राजू पाल हत्याकांड का मुख्य अभियुक्त है और वह इस वक्त गुजरात की एक जेल में बंद है। पाल की पत्नी जया की शिकायत पर प्रयागराज के धूमनगंज थाने में अतीक अहमद, उसके भाई अशरफ, पत्नी शाइस्ता उसके दो बेटों तथा साथियों गुड्डू और गुलाम तथा नौ अन्य के खिलाफ हत्या समेत कई गंभीर आरोपों में मामला दर्ज किया गया है। (भाषा)

 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें