nayaindia Rahul Gandhi राहुल को दो साल की सजा
ताजा पोस्ट

राहुल को दो साल की सजा

ByNI Desk,
Share

सूरत। कांग्रेस नेता राहुल गांधी को मानहानि से जुड़े एक मामले में दो साल की सजा हुई है। मोदी उपनाम के लोगों को कथित तौर पर चोर कहने के मामले में सूरत की एक अदालत ने राहुल गांधी को दोषी पाया है और उनको दो साल की सजा सुनाई है। हालांकि सजा सुनाए जाने के तुरंत बाद राहुल को जमानत मिल गई और उनको हाई कोर्ट में अपील करने के लिए 30 दिन का समय दिया गया। हाई कोर्ट अगर उनकी अपील स्वीकार कर सजा निलंबित कर दे तो राहुल गांधी की सदस्यता बची रह जाएगी।

बहरहाल, गुरुवार की सुबह राहुल गांधी सूरत पहुंचे, जहां कांग्रेस नेताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया। इसके बाद राहुल अदालत में पहुंचे, जहां इस मामले में फैसला सुनाया जाना था। यह मामला 2019 के आम चुनाव के प्रचार के दौरान कर्नाटक के कोलार में दिए एक भाषण से जुड़ा है। अपने भाषण में राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर विदेश भाग गए ललित मोदी और नीरव मोदी का नाम लिया था और कथित तौर पर सवालिया लहजे में कहा था कि सभी चोरों के सरनेम मोदी क्यों होते हैं।

राहुल के इस भाषण के बाद गुजरात में एक भाजपा नेता पुरनेश मोदी ने आईपीसी की धारा 499 और 500 के तहत मामला दर्ज कराया था। इस मामले में अपना बयान दर्ज कराने के लिए राहुल गांधी अक्टूबर 2021 में सूरत की अदालत में पेश हुए थे। गुरुवार को भी इस मामले में जब फैसला सुनाया गया, तब कांग्रेस सांसद राहुल गांधी सूरत जिला न्यायालय में मौजूद थे। इससे पहले उन्‍होंने कहा था कि कोर्ट उन्‍हें जो सजा देगी, वो उन्‍हें मंजूर होगी। अदालत ने उनको दो साल की सजा सुनाने के साथ 15 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया।

सजा सुनाए जाने के बाद राहुल ने राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी की कही एक बात को उदघृत करते हुए प्रतिक्रिया दी। उन्होंने ट्विट किया- मेरा धर्म सत्य और अहिंसा पर आधारित है। सत्य मेरा भगवान है, अहिंसा उसे पाने का साधन। गुजरात कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अर्जुन मोडवाडिया ने फैसले के बाद गुरुवार को कहा- सत्य की परीक्षा होती है और उसे परेशान किया जाता है, लेकिन सत्य की ही जीत होती है। उन्होंने कहा- राहुल गांधी के खिलाफ कई झूठे मामले दर्ज किए गए हैं, लेकिन वह इन सबसे बाहर निकलेंगे। हमें न्याय मिलेगा। कांग्रेस ने यह भी सवाल उठाया कि अदालत 20 मिनट की सुनवाई के बाद इतनी कड़ी सजा कैसे दे सकती है।

दूसरी ओर भाजपा के नेताओं ने राहुल गांधी को सजा सुनाए जाने के बाद कहा कि राहुल को अब पूरे देश से माफी मांगनी चाहिए। केंद्रीय कानून मंत्री किरेन रिजीजू ने कहा कि राहुल गांधी अब देश के माफी मांगे। भाजपा के सांसद सुशील मोदी ने फैसले का स्वागत किया और कहा- मैं भी एक मोदी हूं। राहुल गांधी की टिप्पणी से मैंने भी खुद को अपमानित महसूस किया। असल में सुशील मोदी ने भी पटना में इसी मामले में राहुल गांधी के खिलाफ मुकदमा किया हुआ है। उन्होंने कहा कि उन्हें भी न्याय मिलेगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें