nayaindia Imran Khan Will Appear In The Special Court विशेष अदालत में पेश होंगे इमरान खान
News

विशेष अदालत में पेश होंगे इमरान खान

ByNI Desk,
Share

Imran Khan :- पाकिस्तान तहरीके इन्साफ (पीटीआई) अध्यक्ष एवं पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान आधिकारिक गोपनीयता अधिनियम के तहत दर्ज एक मामले के सिलसिले में मंगलवार को संघीय न्यायिक परिसर में विशेष अदालत के समक्ष पेश होंगे। पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक राजधानी इस्लामाबाद की पुलिस ने इस मौके पर सुरक्षा की चाक-चौबन्द व्यवस्था की है तथा इसके लिए पुलिस और अर्धसैनिक अधिकारियों की एक टीम का गठन किया है। वर्तमान में अडियाला जेल में बंद श्री खान को कड़े सुरक्षा बन्दोबस्तों के बीच तहत अदालत में लाया जाएगा। उनके साथ आने वाले काफिले में एसयूवी वाहन, पुलिस मोबाइल और बख्तरबंद कार्मिक वाहक शामिल होंगे। सूत्रों ने बताया कि ‘उच्च-अधिकारियों’ से हरी झंडी मिलने के बाद टीम का गठन किया गया है। पीटीआई अध्यक्ष को संभवतः पेशावर रोड और श्रीनगर राजमार्ग के माध्यम से परिसर में लाया जाएगा। पुलिस को न्यायिक परिसर और उसके आसपास सुरक्षा सहित सभी प्रासंगिक योजनाएं तैयार करने का निर्देश दिया गया है।

इसके अलावा रेंजर्स और एफसी सैनिकों को उनकी दंगा-रोधी इकाइयों के साथ वैकल्पिक रूप से तैयार रहने और ड्यूटी के लिए बुलाए जाने पर तुरंत उपलब्ध होने के लिए कहा गया है। सूत्रों ने कहा कि दंगा-रोधी उपकरणों से लैस रेंजरों को राजधानी पुलिस की सहायता से परिसर में और उसके आसपास ‘आंतरिक सुरक्षा घेरे’ में तैनात किया जाएगा। उन्होंने कहा कि दंगा-रोधी उपकरणों से लैस और पुलिस की सहायता से एफसी टीमों को ‘मध्य-सुरक्षा घेरा’ (जिसमें परिसर के चारों ओर की सर्विस सड़कें भी शामिल) पर परिसर में तैनात किया जाएगा। सूत्रों ने कहा कि दंगा-रोधी इकाई और आतंकवाद-रोधी विभाग की टीमों सहित एक पुलिस टुकड़ी को परिसर की ओर जाने वाली सड़कों पर तैनात किया जाएगा, अर्धसैनिक बलों और पुलिस की टुकड़ियों को भी फ़ैज़ाबाद, ज़ीरो पॉइंट, पेशावर मोर्र, और गोल्र मोर्र जैसे मुख्य बिंदुओं पर तैनात किया जाएगा।उन्होंने कहा कि रेड जोन को आंशिक रूप से सील कर दिया जाएगा और केवल विनियमित प्रवेश की अनुमति होगी। इस बीच इस्लामाबाद की जवाबदेही अदालत ने भ्रष्टाचार के एक मामले में पूर्व प्रधान मंत्री की भौतिक रिमांड में विस्तार की मांग करने वाले राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) के अनुरोध को खारिज कर दिया।

जवाबदेही न्यायाधीश मोहम्मद बशीर ने श्री खान की चार दिन की शारीरिक रिमांड समाप्त होने के बाद अदियाला जेल में कार्यवाही फिर से शुरू की। अभियोजन पक्ष ने अदालत से आगे की जांच के लिए फिजिकल रिमांड बढ़ाने का अनुरोध किया। अदालत ने अनुरोध खारिज कर दिया और श्री खान को न्यायिक रिमांड पर भेज दिया। उन्होंने अभियोजन पक्ष को उसे एक पखवाड़े के बाद पेश करने का निर्देश दिया। इस बीच एक स्पष्ट सुरक्षा चूक के कारण अदियाला जेल के बाहर अफरा तफरी की स्थिति पैदा हो गई जब श्री खान की पत्नी बुशरा बीबी, जिन्हें जेल में जवाबदेही न्यायाधीश के सामने पेश होना था, के वाहन को पुरुषों के एक समूह ने घेर लिया। उन्होंने पूर्व प्रधान मंत्री और उनकी पत्नी के खिलाफ आपत्तिजनक नारे लगाए और जेल में वाहन के प्रवेश को अवरुद्ध कर दिया। इसी बीच पीटीआई अध्यक्ष का समर्थन कर रहे वकीलों का एक समूह भी वहां पहुंच गया और श्री खान के पक्ष में नारे लगाने लगा।

जेल सुरक्षा कर्मचारी हरकत में आए और प्रदर्शनकारियों को जेल के मुख्य द्वार के बाहर से खदेड़ दिया। पीटीआई अध्यक्ष और उनकी पत्नी पर आरोप है कि उन्होंने बहरिया टाउन के मालिक मलिक रियाज से यूके एजेंसी द्वारा वसूले गए पैसे को सुप्रीम कोर्ट में उनकी देनदारियों के खिलाफ समायोजित करने के लिए अरबों रुपये और सैकड़ों कनाल जमीन प्राप्त की। ब्रिटेन की राष्ट्रीय अपराध एजेंसी ने 2019 में मलिक रियाज़ के परिवार से 01 करोड 90 लाख पाउंड की वसूली की और इसे पाकिस्तान वापस भेज दिया , लेकिन बाद में इसे सुप्रीम कोर्ट में स्थानांतरित कर दिया गया। रियल एस्टेट टाइकून ने दावा किया कि यह पैसा उन 460 अरब रुपये में जाएगा जो उसे कराची में एक आवास योजना के लिए जमीन हासिल करने के लिए भुगतान करना था। (वार्ता)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें