nayaindia india alliance rally in delhi केजरीवाल के पक्ष में महारैली
Trending

केजरीवाल के पक्ष में महारैली

ByNI Desk,
Share
INDIA alliance3

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के समर्थन में विपक्षी पार्टियां दिल्ली में रैली करेंगी। केजरीवाल की गिरफ्तारी के बाद रविवार को आम आदमी पार्टी और कांग्रेस ने ऐलान किया कि उनकी गिरफ्तारी के विरोध में 31 मार्च को दिल्ली के रामलीला मैदान में एक बड़ी रैली की जाएगी। इससे पहले विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ के नेताओं ने एक प्रेस कांफ्रेंस की। विपक्षी नेताओं ने कहा कि रामलीला मैदान की रैली लोकतंत्र को बचाने के लिए होगी। गौरतलब है कि केजरीवाल को नई शराब नीति में हुए कथित घोटाले से जुड़े धन शोधन के मामले में गुरुवार की देर शाम को ईडी ने गिरफ्तार किया था।

इसके विरोध में रविवार को प्रेस कांफ्रेंस में आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली सरकार के मंत्री गोपाल राय ने कहा कि केंद्र सरकार विधायकों की खरीद फरोख्त कर, लोगों को डरा धमकाकर पूरे विपक्ष को चुप करा रही है। जो झुकने और डरने को तैयार नहीं हैं, उन पर फर्जी मुकदमे करके उन्हें गिरफ्तार किया जा रहा है। गोपाल राय ने कहा- अगर कांग्रेस जैसी बड़ी पार्टी का खाता सीज हो सकता है, तो जो व्यापारी इन्हें चंदा नहीं देगा उसका खाता सीज किया जाएगा। हर किसी की आवाज दबाई जाएगी।

आप नेता गोपाल राय ने भाजपा पर विपक्ष को दबाने का आरोप लगाते हुए कहा- इनके खिलाफ लड़ाई को बड़ा करने के लिए 31 तारीख को 10 बजे रामलीला मैदान में हम महारैली करेंगे। पूरी दिल्ली से अपील है कि एकजुट हों। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरविंदर सिंह लवली ने रैली के बारे मे जानकारी देते हुए कहा- यह रैली पॉलिटिकल रैली नहीं होगी। ये रैली हिन्दुस्तान के लोकतंत्र को बचाने की लड़ाई का आह्वान होगा।

आम आदमी पार्टी की नेता और दिल्ली सरकार की मंत्री आतिशी ने भी कहा कि 31 मार्च को रामलीला मैदान में होने वाली विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ की महारैली अरविंद केजरीवाल को बचाने के लिए नहीं, बल्कि लोकतंत्र को बचाने के लिए आयोजित की जा रही है। उन्होंने कहा- विपक्ष को एकतरफा हमलों का सामना करना पड़ रहा है। आप आदमी पार्टी के नेता सौरभ भारद्वाज ने चुनावी बॉन्ड का मुद्दा उठाते हुए कहा- भाजपा ने चुनावी बॉन्ड के पीछे छिप कर एक्साइज पॉलिसी मामले के सबसे बड़े सरगना शरद चंद्र रेड्डी से करीब 60 करोड़ रुपए लिए। हम आरोप नहीं लगा रहे हैं, हम तथ्य बता रहे हैं और हमने इसके सबूत दिखाए हैं। शरद चंद्र रेड्डी की गिरफ्तारी के बाद भाजपा ने 55 करोड़ रुपए का यह चंदा लिया।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें