nayaindia gujarat drug smuggling एक तिहाई ड्रग गुजरात में पकड़ी गई
Politics

एक तिहाई ड्रग गुजरात में पकड़ी गई

ByNI Political,
Share
seized drugs
Gujarat Drug Bust

समुद्र के किनारे तो वैसे कई शहर और राज्य बसे हैं लेकिन ऐसा लग रहा है कि समुद्र के रास्ते नशीली दवाओं के कारोबार का सबसे बड़ा अड्डा गुजरात बनता जा रहा है। कह सकते हैं कि देश का ड्रग कैपिटल गुजरात हो गया है। चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव की प्रक्रिया शुरू होने के बाद से पिछले 50 दिन में पूरे देश में जितनी ड्रग्स पकड़ी है, उसका एक तिहाई अकेले गुजरात में पकड़ा गया है। इससे पहले भी सैकड़ों क्विंटल ड्रग गुजरात में पकड़ी जा चुकी है। वहां के बंदरगाहों पर और समुद्र में भी लगातार ड्रग्स पकड़े जाने की घटनाएं हो रही हैं। पिछले 50 दिन में चुनाव आयोग की कार्रवाई में 11 सौ करोड़ रुपए से ज्यादा की ड्रग पकड़ी गई है।

चुनाव आयोग ने एक अप्रैल से लेकर अभी तक कुल 3,959 करोड़ रुपए की ड्रग पकड़ी है, जिसमें से 1,188 करोड़ रुपए की ड्रग गुजरात से पकड़ी गई है। सरकार को निश्चित रूप से इसे गंभीरता से लेना चाहिए। बहरहाल, चुनाव आयोग ने पिछले 50 दिन में कुल 8,889 करोड़ रुपए की वस्तुएं और नकदी पकड़ी है। लोकसभा चुनाव के अभी दो चरण बाकी हैं और अभी तक 810 करोड़ रुपए की नकदी पकड़ी जा चुकी है। सवाल है कि जब नोटबंदी के बाद से देश में काला धन खत्म हो जाने का दावा किया जा रहा है तब सैकड़ों करोड़ की नकदी और हजारों करोड़ की नशीली दवाएं, शराब और दूसरी वस्तुएं कहां से आ रही हैं? यह भी सवाल है कि जब नौ हजार करोड़ रुपए की नकदी व वस्तुएं जब्त हुई हैं तो नहीं पकड़ी गई नकदी और वस्तुओं की मात्रा कितनी होगी? चुनाव आयोग के साथ साथ सरकार को भी निश्चित रूप से इसे रोकने की जरुरत है क्योंकि उसके बगैर स्वतंत्र व निष्पक्ष चुनाव संभव नहीं है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें