Naya India

विदेश में फंसे भारतीय कब लौटेंगे?

India democracy and Free and Fair Polls

India democracy and Free and Fair Polls

लोकसभा चुनाव 2024 में भारतीय जनता पार्टी ने चुनाव का एक नैरेटिव यह भी बनाया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रूस और यूक्रेन का युद्ध रूकवा दिया था ताकि भारतीय छात्रों को  वहां से सकुशल निकाला जा सके। पता नहीं रूस और यूक्रेन का युद्ध रूका था या नहीं लेकिन यह हकीकत है कि कई भारतीयों को दूसरे देशों की सरकारों ने रोक रखा है या बंधक बना कर रखा है और यह पता नहीं है कि वे कब तक वापस लौट पाएंगे। इस समय अमेरिकी मेरीटाइम कानून की वजह से 21 भारतीय वहां फंसे हैं और ईरान ने एक इजराइल जहाज पर कब्जा किया है, जिस पर काम करने वाले 16 भारतीय ईरान में फंसे हैं।

गौरतलब है कि करीब डेढ़ महीना पहले अमेरिका के बाल्टीमोर में एक मालवाहक जहाज एक पुल से टकरा गया था। उस जहाज के चालक दल में 21 भारतीय हैं। उनकी वापसी नहीं हो पा रही है। यहां तक कि उनको अमेरिका की धरती पर भी नहीं उतरने दिया जा रहा है क्योंकि उनके पास वीजा नहीं है। इस तरह 21 भारतीय डेढ़ महीने से ज्यादा समय से समुद्र में लंगर डाल कर खड़े जहाज पर मौजूद हैं। ऐसे ही ईरान ने कुछ समय पहले भारत आ रहे एक मालवाहक जहाज पर कब्जा कर लिया था। वह जहाज इजराइल के एक कारोबारी का है। जहाज के चालक दल में 17 भारतीय सदस्य थे, जिनमें से एक महिला को वापस भेज दिया गया। लेकिन बाकी 16 सदस्य अभी वहीं फंसे हैं।

Exit mobile version