kishori-yojna
आज से शुरू होगी चारधाम यात्रा, जानें से पहले जान लें एक दिन में इतने यात्री ही कर सकते है मंदिर में दर्शन

राज्य सरकार द्वारा जारी एसओपी के अनुसार बद्रीनाथ पर रोजाना 1,000, केदारनाथ पर 800, गंगोत्री पर 600 और यमुनोत्री पर 400 तीर्थयात्रियों को अनुमति दी गई है।

Chardham Yatra 2021 : कल से शुरू हो रही उत्तराखंड की चारधाम यात्रा, श्रद्धालु ऐसे करवा सकते हैं रजिस्ट्रेशन

कल शनिवार से शुरू हो रही चार धाम यात्रा के तहत हर एक दिन केदारनाथ में 800, बद्रीनाथ में 1200, गंगोत्री में 600 और यमुनोत्री में 400 से ज़्यादा तीर्थ यात्रियों को अनुमति नहीं दी जाएगी।

उत्तराखंड HC ने चारधाम यात्रा को शर्तों के साथ अनुमति दी, प्रतिदिन इतने यात्री कर सकेंगे दर्शन

चारधाम के नाम से प्रसिद्ध हिमालय के प्रसिद्ध मंदिरों में जाने वाले श्रद्धालुओं की संख्या पर दैनिक सीमा लगाते हुए उच्च न्यायालय ने कहा कि केदारनाथ धाम में 800, बद्रीनाथ धाम में 1200, गंगोत्री में 600 औ

मुख्यमंत्री धामी का देवस्थानम बोर्ड पर बड़ा बयान, कोरोना से आहत हुए चारधाम यात्रा और पर्यटन स्थल को 200 करोड़ की सौगात

मुख्यमंत्री धामी का देवस्थानम बोर्ड पर बड़ा बयान, कोरोना से आहत हुए चारधाम यात्रा और पर्यटन स्थल को 200 करोड़ की सौगात

इस साल भी कावड़ यात्रा में रोड़ा बना कोरोना, चारधाम यात्रा भी की गई रद्द

देहरादून |  कोरोना ने पिछले मार्च 2020 से कोई भी आयोजन नहीं होने दिया है। पिछले साल से देश में कोई भी आयोजन नहीं हो रहे है। सावन के महीने से शुरु होने वाली कावड़ यात्रा पर इस बार भी उत्तराखंड सरकार ने प्रतिबंध ( kawad yatra banned ) लगा दिया गया है। सावन का पवित्र महीने के पहले दिन से या उससे पहले से शिव भक्त गंगाजल लेने के लिए पैदल जाते है। और अपने इलाके में आकर शिवलिंग पर उस जल को अर्पित करते है। कुछ कावड़िये ऐसे भी होते है जो गौमुख तक गंगाजल लेने पहुंच जाते है। गौमुख जहां से गंगा नदी का उद्गम हुआ था। यह दूसरा साल है जब कावड़ यात्रा पर रोक लगाई गई है। कावड़ यात्रा ही नहीं चारधाम यात्रा पर भी सरकार ने हाइकोर्ट के आदेश के बाद रोक लगा दी गई है। चारधाम यात्रा भी रोकी गई kawad yatra banned  चारधाम यात्रा को लेकर कई बार निर्णय बदला जा चुका है। लेकिन सोमवार को हाइकोर्ट ने सरकार के इस फैसले पर रोक लगा दी थी। इके बाद भी उत्तराखंड सरकार ने चारधाम यात्रा को लेकर गाइडलाइन ज़ारी कर दी। लेकिन फिर सरकार ने भी भक्तों के स्वास्थ्य की चिंता करते… Continue reading इस साल भी कावड़ यात्रा में रोड़ा बना कोरोना, चारधाम यात्रा भी की गई रद्द

chardham yatra banned : राज्य सरकार और हाइकोर्ट की तनातनी के बाद उत्तराखंड हाइकोर्ट ने चारधाम यात्रा को किया रद्द

देहरादून |  उत्तराखंड में चारधाम यात्रा पर निर्णय लेने का सिलसिला लंबे समय से चल रहा है। कभी सरकार हामी भरती है तो हाइकोर्ट रोक लगा देती है। लेकिन आखिरकार चारधाम यात्रा पर निर्णय लिया जा चुका है। तीरथ सरकार ने चारधाम यात्रा को 1 जुलाई 2021 से जिलास्तर पर खोलने का निर्णय लिया था उस फैसले पर उत्तराखंड हाइकोर्ट (Chardham Yatra banned )  ने रोक लगाई है। तीरथ सिंह रावत वाली सरकार ने कुछ समय पहले कहा था कि चारधाम यात्रा को चमोली, रूद्रप्रयाग और उत्तरकाशी जिलों के निवासियों के लिए शुरु की जा रही है। वह भी कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट के साथ। also read: चारधाम यात्रा को लेकर फिर बना संशय, उत्तराखंड हाइकोर्ट ने कहा- एक बार फिर विचार की जरूरत.. राज्य सरकार लाइव दर्शन की व्यवस्था करें इसके अलावा उत्तराखंड हाईकोर्ट ने राज्‍य सरकार की आधी अधूरी जानकारी को लेकर भी नाराजगी जताई है। यही नहीं, उतराखंड हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को आदेश दिया है कि वह श्रद्धालुओं ( Chardham Yatra banned ) के लिए चारधाम के लाइव दर्शन करने की व्यवस्था करे। वहीं, इस मामले की सुनवाई की अगली तारीख को लाइव दर्शन के इतंजाम पर रिपोर्ट देने का आदेश दिया है। कुछ भक्तों की यह… Continue reading chardham yatra banned : राज्य सरकार और हाइकोर्ट की तनातनी के बाद उत्तराखंड हाइकोर्ट ने चारधाम यात्रा को किया रद्द

चारधाम यात्रा को लेकर फिर बना संशय, उत्तराखंड हाइकोर्ट ने कहा- एक बार फिर विचार की जरूरत..

देहरादून |  पिछले कुछ समय से चारधाम यात्रा ( Doubt created again chardhamyatra )को लेकर कई निर्णय बदले जा चुके है। हाल ही में उत्तराखंड सरकार ने 1 जुलाई से जिला स्तर पर चारधाम यात्रा की अनुमति दे दी थी। इस फैसले पर उत्तराखंड हाइकोर्ट ने आप्पति जताई है। उत्तराखंड हाइकोर्ट ने इस फैसले को वापस लेने की बात कही है। जम्मू व कश्मीर में श्री अमरनाथ यात्रा को हाल ही में रद्द किया गया है। कोरोना के भय से बाबा बर्फानी की विश्व प्रसिद्ध यात्रा पर रोक लगा दी गई है। उत्तराखंड हाइकोर्ट ने अमरनाथ यात्रा की बात चारधाम यात्रा पर संशय जताते हुए कही थी। और कहा है कि मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत को भी चारधाम की यात्रा रोकनी चाहिए या स्थगित कर देनी चाहिेए। दूसरी तरफ उत्तराखंड कैबिनेट ने कुछ शर्तों और गाइडलाइनों के साथ चारधाम यात्रा को शुरू करने के बारे में प्रेस को पूरी जानकारी दी थी। श्रद्धालुओं को चारधाम यात्रा को लेकर एक बार फिर इंतजार करना पड़ सकता है। क्योंकि कोरोना के भय से यात्रा पर फिर कोई बड़ा निर्णय आ सकते है। कोई भी खतरा मोल नहीं लेना चाहता है। इस कारण हाइकोर्ट ने यह बात कही है। also read: विश्व स्वास्थ्य संगठन… Continue reading चारधाम यात्रा को लेकर फिर बना संशय, उत्तराखंड हाइकोर्ट ने कहा- एक बार फिर विचार की जरूरत..

Char Dham Yatra Start : इस तारीख से श्रद्धालुओं के लिए चारधाम यात्रा का होगा श्री गणेश, कारोबारियों के लिए खुला कमाई का रास्ता

Char Dham Yatra Start देहरादून |  पिछले कुछ दिनों से चारधाम यात्रा को खोलने ( Char Dham Yatra Start ) को लेकर संशय बना हुआ था। सरकार ने खोल दी फिर बंद कर दी गई। इसके बाद भी नैनीतील हाइकोर्ट में इस फैसले पर बातचीत हो रही थी। लेकिन आखिरकार भक्तों के लिए सरकार ने एक खुशखबरी का ऐलान कर दिया है। देवभूमि उत्तराखंड में एक जुलाई से चारधाम यात्रा का श्री गणेश होने जा रहा है। लेकिन शुरुआत में यह यात्रा उत्तराखंड के कुछ जिलों के लिए ही प्रारंभ की गई है। 1 जुलाई से लेकर 10 जुलाई तक इस यात्रा का प्रारंभ  केवल चमोली, रूद्रप्रयाग व उत्तरकाशी जिलों के निवासियों केलिए ही की गई है। लेकिन जिले के लोग भी कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट दिखाकर इस यात्रा का आनंद ले पाएंगे। चमोली, रूद्रप्रयाग व उत्तरकाशी  के लोगों को भी इस कारण अनुमति दी गई है क्योंकि चारधाम यात्रा इन तीन जिलों में ही स्थित है। 10 जुलाई तक जिलास्तर पर चारधाम यात्रा की अनुमति दी है और कोरोना के मामले नियंत्रण में रहें तो 11 जुलाई से अन्य राज्यों के लोगों को बी अनुमति दे दी जाएंगी। बाद में भी सबी राज्यों को कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट दिखानी अनिवार्य होगी।… Continue reading Char Dham Yatra Start : इस तारीख से श्रद्धालुओं के लिए चारधाम यात्रा का होगा श्री गणेश, कारोबारियों के लिए खुला कमाई का रास्ता

chardham yatra postponed : सीएम रावत ने चारधाम यात्रा का आदेश लिया वापिस, श्रद्धालुओं के लिए यात्रा फिर हुई स्थगित

कल सीएम रावत ने चारधाम यात्रा को खोलने का आदेश दिया था। कोरोना के कम होते मामले को देख यह निर्णय लिया था। चारधाम यात्रा उत्तराखंड के कुछ जिलों के लिए खोली गई थी। लेकिन अब यह आदेश वापिस ले लिया गया है। उत्तराखंड की सीएम रावत की सरकार ने चमोली, रुद्रप्रयाग और उत्तरकाशी के लोगों के लिए चारधाम यात्रा खोलने के आदेश को रद्द कर दिया गया है। उत्तराखंड की तीरथ सिंह रावत सरकार में कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा है कि चारधाम यात्रा खोलने को लेकर नैनिताल हाईकोर्ट में सुनवाई चल रही है। चारधाम यात्रा श्रद्धालुओं के लिए खोलने को लेकर राज्य सरकार 16 जून के बाद इस पर विचार करेगी। सूत्रों की मानें तो कोरोना के खतरे को लेकर सरकार ने यह निर्णय वापिस लिया है। पिछली रिपोर्ट के अनुसार उत्तराखंड में कोरोना के एक्टिव केस साढे चार हजार है। ऐसे में सीएम कुंभ की तरह कोई और खतरा नहीं ले सकते है। मीडिया रिपोर्ट की मानें तो कोरोना के खतरे के कारण ही चारधाम यात्रा का आदेश स्थगित किया गया है। अब श्रद्धालुओं को अपने अराध्य के दर्शन के थोड़ा और इंतज़ार करना पड़ेगा।   also read: chardham yatra starts : उत्तराखंड में कोरोना कर्फ्यु के… Continue reading chardham yatra postponed : सीएम रावत ने चारधाम यात्रा का आदेश लिया वापिस, श्रद्धालुओं के लिए यात्रा फिर हुई स्थगित

Chardham Yatra फिर से हुई शुरू! सिर्फ इन्हीं जिलों के लोगों को मिलेगी अनुमति

देहरादून | Chardham Yatra 2021 : उत्तराखंड सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के दौरान बंद की चारधाम यात्रा (Chardham Yatra) को एक बार फिर से शुरू करने का निर्णय लिया है। इस फैसले के अनुसार, फिलहाल चारधाम यात्रा में आंशिक छूट दी गई है। जिसके अन्तर्गत केवल उन्हीं जिलों के लोगों को कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट (COVID 19 Negative Report) के साथ चारधाम यात्रा करने की अनुमति होगी। ये भी पढ़ें :- मध्यप्रदेशः ग्रामीणों की कोरोना वैक्सीनेशन के लिए अनोखी पहल, लोगों को जागरूक करने के लिए बांटे जा रहे पीले चावल और निमंत्रण पत्र 22 जून तक लागू रहेगा कर्फ्यू राज्य के कैबिनेट मंत्री और शासकीय प्रवक्ता सुबोध उनियाल ने जानकारी देते हुए बताया कि, कोविड-19 की परिस्थितियों को देखते हुए प्रदेश में फिलहाल कर्फ्यू 22 जून तक लागू रहेगा। बता दें कि 15 जून की सुबह छह बजे कर्फ्यू की अवधि समाप्त हो रही थी। इसलिए सरकार ने नई गाइडलाइन जारी करते हुए इसमें कुछ परिवर्तनों के साथ पुरानी मानक संचालन प्रक्रिया को जारी रखा है। ये भी पढ़ें :- rajasthan : ना कोरोना गाइडलाइन ना जान की परवाह..आनासागर झील में 200 और 500 के नोट तैरते देख बिना कुछ सोचे समझे कूद पड़ी जनता ये… Continue reading Chardham Yatra फिर से हुई शुरू! सिर्फ इन्हीं जिलों के लोगों को मिलेगी अनुमति

chardham yatra starts : उत्तराखंड में कोरोना कर्फ्यु के साथ शुरु हुई चारधाम यात्रा, जानें क्या रहेगी पाबंदियां

देहरादून। कोरोना के मामले कम होने के साथ सभी राज्यों ने अपने-अपने स्तर पर छूट देनी शुरु कर दी है। ताजा मामला उत्तराखंड से जुड़ा है। खुशखबरी यह है कि विश्व प्रसिद्ध चारधाम यात्रा भी श्रद्धालुओं के लिए खोल दी गई है। अब श्रद्धालु भी चारधाम यात्रा के दर्शन कर सकेंगे। इससे पहले चारोंधाम के कपाट तो खुले थे लेकिन श्रद्धालुओं को आने की अनुमति नहीं थी। लेकिन डराने वाली बात यह भी है कि चारधान यात्रा कुंभ की तरह कोरोना स्प्रेडर ना बन जाए। इसके लिए यात्रियों को ही इस बात का ध्यान रखना पड़ेगा। कोरोना गाइडलाइंस का पालन करते हुए चारधाम यात्रा में सम्मिलित हो। उत्तराखंड सरकार ने कोरोना कर्फ्यु को एक और हफ्ते पोस्टपोन कर दिया गया है। कोरोना के कर्फ्यु को 22 जून की सुबह तक बढ़ा दिया गया है। इन लोगों के लिए हुआ चारधाम यात्रा का शुभारंभ चारधाम यात्रा केवल ज़िला स्तर पर खोली गई है। फिहाल इस यात्रा में देश-विदेश के लोग सम्मिलित नहीं हो पाएंगे। बद्रीनाथ धाम की यात्रा चमोली ज़िले के लोगों के लिए, केदारनाथ धाम की यात्रा रुद्रप्रयाग ज़िले और गंगोत्री व यमुनोत्री धाम की यात्रा केवल उत्तरकाशी ज़िले के लोगों के लिए खोली गई है। गाइडलाइन के मुताबिक स्थानीय… Continue reading chardham yatra starts : उत्तराखंड में कोरोना कर्फ्यु के साथ शुरु हुई चारधाम यात्रा, जानें क्या रहेगी पाबंदियां

CHARDHAM YATRA 2021: चारधाम यात्रा शुरु होना एक खुशखबरी भी है साथ ही सुपर स्प्रेडर का खतरा रहेगा बरकरार..

UTTARAKHAND: चारधाम यात्रा को शुरु होना एक बहुत बड़ी खुशखबरी है उन भक्तों के लिए जो लंबे समय से इसके खुलने का इंतजार कर रहे थे, और उन कारोबारियों के लिए भी जो इस यात्रा से अपनी रोजी-रोटी चलाते है, और पूरे समुदाय के लिए जो इस यात्रा से जुड़े है। चारधाम यात्रा एक बार फिर शुरु होने जा रही है लेकिन कुछ चुनिंदा लोगो के लिए। लेकिन चारधाम यात्रा शुरु होने के साथ सपुर स्प्रेडर का खतरा भी बना रहेगा। कोरोना के मामले कम हुए है खत्म नहीं। इसलिए हमें इस बार ज्यादा सावधान और सतर्क होना रहेगा। लेकिन अब कोरोना के मामलों में गिरावट होने के कारण यात्रा फिर से शुरु हो सकती है। अधिकारियों के मुताबिक केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के लिए चारधाम यात्रा को कुछ चुनिंदा जिलों के लिए खोला जा सकता है, जहां कोविड संबंधी हालात बेहतर पाए जाएंगे। इससे पहले इस साल श्रद्धालुओं के इस यात्रा को रोक दिया गया था और ​केवल पुजारियों को पूजा अर्चना संबंधी गतिविधियां कर पाने की अनुमति दी गई थी। मंदिर खुले है लेकिन वहां पुजारियों के अलावा किसी को जाने की अनुमति नहीं है। इसे भी पढ़ें CBSE 12th Exam 2021:शिक्षा मंत्री के भर्ती होने के बाद,… Continue reading CHARDHAM YATRA 2021: चारधाम यात्रा शुरु होना एक खुशखबरी भी है साथ ही सुपर स्प्रेडर का खतरा रहेगा बरकरार..

उतराखंड  : कोरोना पर नियंत्रण पाने के लिए उतराखंड सीएम ने एक हफ्ते तक बढ़ाया कोरोना कर्फ्यु, पाबंदिया 25 मई तक रहेगी लागू

भारत में कोरोना का कहर बढ़ता ही जा रहा है। सरकार के अथक प्रयासों के बाद भी कोरोना कम होने का नाम नहीं ले रहा है। राज्य सरकारों ने लॉकडाउन और कर्फ्यु जैसी पाबंदियां लगा रखी है। लेकिन अब कोरोना को बेकाबू होते देख सभी राज्य सरकारें इन पाबंदियों को बढ़ा रही है। इसी कड़ी में उतराखंड का नाम भी शामिल हो गया है। उतराखंड में कोरोना कर्फ्यु एक हफ्ते लिए बढ़ा दिया गया है। अब पाबंदिया 25 मई तक लागू रहेगी। कुंभ के बाद से उतराखंड में कोरोना आग की तरह फैला है। कोरोना के कारण उतराखंड में चारधाम यात्रा भी स्थगित कर दी गई है। पाबंदियां पहले की तरह की रहेगी। ये निर्णय उतराखंड सीएम ने कोरोना पर काबू पाने के लिए लिया। इसे भी पढें Cyclone Tauktae : चक्रवाती तूफान ‘तौकते’ से राजस्थान में कोहराम! मकानों के टिन शेड-पानी की टंकियां की उड़ी, हादसों में 5 की मौत आवश्यक सेवाओं का दूकानें रहेगी खुली कर्फ्यु में आवश्यक सेवाओं की दूकानें खुली रहेगी। सरकार ने सभी से अनुरोध किया है कि कोई भी बिना काम घर से बाहर ना जाएं। पुलिस जिसको भी बिना काम के बाहर देख रही है उससे जुर्माना वसूला जा रहा है। किराना, सब्जी और… Continue reading उतराखंड : कोरोना पर नियंत्रण पाने के लिए उतराखंड सीएम ने एक हफ्ते तक बढ़ाया कोरोना कर्फ्यु, पाबंदिया 25 मई तक रहेगी लागू

Kedarnath Dham Reopened: खुल गए बाबा केदारनाथ धाम के कपाट, आज सुबह 5 बजे विधि-विधान के साथ हुई पूजा-अर्चना, 11 क्विंटल फूलों से सजाया गया मंदिर

नई दिल्ली। Kedarnath Dham Reopened: हिमालय की वादियों में स्थित बाबा केदारनाथ धाम (Kedarnath Dham) के कपाट आज सोमवार सुबह पांच बजे विधि विधान के साथ खुल गए हैं. इस दौरान कोरोना गाइडलाइन (COVID Guidelines in India) के अनुसार, तीर्थ पुरोहित, पंडा समाज और हककूधारियों को ही मंदिर में जाने की अनुमति रही. चारों और बर्फील पहाड़ों से घिरे ग्यारहवें ज्योर्तिलिंग भगवान बाबा केदारनाथ के मंदिर ( Kedarnath Temple ) को 11 क्विंटल फूलों से सजाया गया है. मंदिर में पहली पूजा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से हुई. बाबा केदारनाथ की पूजा-अर्चना सुबह 3 बजे से शुरू हो गयी थी. लेकिन कोविड-19 के चलते मंदिर में सीमित लोग ही मौजूद रहे. उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ( Tirath Singh Rawat ) ने कहा कि विश्व प्रसिद्ध ग्यारहवें ज्योर्तिलिंग भगवान केदारनाथ धाम के कपाट आज सोमवार को प्रातः 5 बजे विधि-विधान से पूजा-अर्चना और अनुष्ठान के बाद खोल दिए गए हैं. मेष लग्न के शुभ संयोग पर मंदिर का कपाटोद्घाटन किया गया. मैं बाबा केदारनाथ से सभी को निरोगी रखने की प्रार्थना करता हूं. यह भी पढ़ेंः- CHARDHAM YATRA POSTPOND : कोरोना ने चारधाम यात्रा पर निर्भर व्यापारियो की फिर तोड़ी कमर… सीएम रावत ने निलंबित की चारधाम यात्रा कोरोना… Continue reading Kedarnath Dham Reopened: खुल गए बाबा केदारनाथ धाम के कपाट, आज सुबह 5 बजे विधि-विधान के साथ हुई पूजा-अर्चना, 11 क्विंटल फूलों से सजाया गया मंदिर

कोरोना का कहर : चारधाम यात्रा स्थगित, केवल तीर्थ पुरोहित ही करेंगे नियमित पूजा पाठ

उत्तराखंड सरकार (Government of Uttarakhand) के मुताबिक लोगों की सुरक्षा सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता में शामिल…

और लोड करें