असली परीक्षा सिंधिया की है

मध्य प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों के उपचुनाव में असली परीक्षा ज्योतिरादित्य सिंधिया की होनी है। पहली नजर में दिख रहा है कि भाजपा की सरकार की किस्मत इन चुनावों से जुड़ी है पर असलियत वह नहीं है।

विरोध की यह कैसी संस्कृति!

भारत की राजनीति और चुनाव को लेकर कुछ सवाल सनातन हैं, जैसे सत्ता विरोध का प्रकटीकरण कैसे होगा या राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी से असहमति या उससे विरोध का इजहार कैसे होगा? लंबे चुनावी इतिहास के बावजूद भारत में इन सवालों का स्पष्ट और स्वीकार्य जवाब नहीं मिला है।

बसपा को कौन समझाएगा?

बहुजन समाज पार्टी मध्य प्रदेश में विधानसभा का उपचुनाव लड़ने की तैयारी कर रही है। बसपा के लड़ने से सीधा नुकसान कांग्रेस को होगा। पर सवाल है कि बसपा प्रमुख मायावती को चुनाव लड़ने से कैसे रोका जाएगा? कांग्रेस की ओर से कौन उनसे बात करेगा?