Jammu Kashmir : महबूबा मुफ्ती ने किया पाकिस्तान की जीत पर जश्न मनाने वालों का समर्थन, कहा- वैसे तो विराट कोहली भी…

कश्मीर पुलिस के द्वारा की गई कार्रवाई पर जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने आपत्ति दर्ज कराई है. मुफ्ती ने पाकिस्तान की जीत का जश्न..

Jammu Kashmir Terrorist Attack : शाह के दौरे के दौरान भी नहीं रूके हमले, एक और नागरिक की गई जान…

दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले में रविवार को आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच गोलीबारी हुई. इसमें एक नागरिक की मौत..

Jammu Kashmir : महबूबा मुफ्ती ने कश्मीर पर केंद्र सराकर को घेरा, कहा- खुली जेल बनाकर छोड़ दिया, आखिर चाहते क्या हैं…

पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती केंद्र सरकार को निशाना बना रही हैं. पिछले कुछ दिनों में हुए आतंकी हमले के लिए भी वे केंद्र…

Jammu Kashmir : लालचौक पर बच्ची की तलाशी की तस्वीर शेयर करते हुए महबूबा मुफ्ती ने कहा – BJP ने कश्मीर को दशकों पीछे धकेल दिया…

जम्मू -कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने भाजपा पर हमला बोला है…

Jammu Kashmir में आतंकियों ने फिर गोलगप्पे बेचने वाले को गोली से उड़ाया, UP-Bihar के दो लोगों को बनाया टारगेट

श्रीनगर के ईदगाह इलाके में बिहार के रहने वाले एक गोलगप्पे बेचने वाले की गोली मारकर हत्या कर दी। आतंकियों के गोली मारने के बाद गोलगप्पे बेचने वाले को स्थानीय अस्पताल में ले जाया गया…

Aryan Khan मामले में PDP प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने कहा- लखीमपुर खीरी नहीं दिखता, नाम में ‘खान’ होने के कारण बच्चे के पीछे पड़े हैं…

पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने कहा कि लखीमपुर खीरी की घटना दिखाई नहीं देती और 23 साल के बच्चे को केंद्रीय एजेंसियों निशाना बना रही है…..

Jammu Kashmir : महबूबा मुफ्ती ने केंद्र पर लगाया पक्षपात का आरोप, कहा- मस्जिदों और दरगाहों पर नमाज अदा…

BJP के साथ सरकार बनाकर कश्मीर में राज कर चुकी वाली पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP) ने भाजपा पर बड़ा हमला किया है. पार्टी अध्यक्ष और जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने केंद्र…

गुपकर के साथ कांग्रेस कैसे रहेगी?

कांग्रेस पार्टी अलग अलग राज्यों में तालमेल खत्म कर रही है और गठबंधन भी तोड़ रही है। खबर है कि असम में एआईयूडीएफ, बीपीएफ और लेफ्ट पार्टियों के साथ बने महाजोत से कांग्रेस अलग हो जाएगी।

महबूबा ने केन्द्र को दे डाली खुली चेतावनी! कहा- बर्दाश्त का बांध टूटा तो मिट जाओगे, अमेरिका जैसा नहीं बचा तो…

Mehbooba Mufti ने एक सभा को संबोधित करते हुए केन्द्र सरकार पर निशाना साधा और चेतावनी भरे शब्दों में कहा कि, सुधर जाओ, संभल जाओ। पड़ोस में देखो क्या हो रहा है…

कुलगाम में आतंकियों का दुस्साहस! अब ‘Apni Party’ के नेता को गोली से उड़ाया, इससे पहले की थी दो BJP नेआतों की हत्या

जम्मू-कश्मीर में आतंकी अब नेताओं को लगातार निशाना बनाने में लगे हुए है। इससे पहले आतंकि बीजेपी नेताओं की भी हत्या कर चुके हैं। इस महीने में नेताओं की ये हत्या की तीसरी घटना है…

जम्मू कश्मीर पहुंचे राहुल गांधी

कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी सोमवार को जम्मू कश्मीर पहुंचे। राज्य का विशेष दर्जा खत्म करने के लिए अनुच्छेद 370 हटाए जाने के दो साल बाद राहुल गांधी पहली बार श्रीनगर पहुंचे हैं।

कश्मीर फिर बने पूर्ण राज्य

jammu and kashmir statehood : कश्मीर के गुपकार-गठबंधन ने अपना जो संयुक्त बयान जारी किया है, उसमें मुझे कोई बुराई नहीं दिखती। प्रधानमंत्री के साथ 24 जून को हुई बैठक के बाद यह उसका पहला बयान है। इस बयान में  कहा गया है कि 24 जून की बैठक ‘निराशाजनक’ रही लेकिन उनका अब यह कहना ज़रा विचित्र-सा लग रहा है, क्योंकि उस बैठक से निकलने के बाद सभी नेता उसकी तारीफ कर रहे थे। उस बैठक की सबसे बड़ी खूबी यह रही कि उसमें जरा भी गर्मागर्मी नहीं हुई। दोनों पक्षों ने अपनी-अपनी बात बहुत ही संतुलित ढंग से रखी। उस समय ऐसा लग रहा था कि कश्मीर का मामला सही पटरी पर चल रहा है। बात तो अभी भी वही है लेकिन गुपकार का यह नया तेवर बड़ा मजेदार है। उसका यह तेवर सिद्ध कर रहा है कि 24 जून की बैठक पूरी तरह सफल रही। वह अब जो मांग कर रहा है, उसे तो सरकार पहले ही खुद स्वीकृति दे चुकी है। यह भी पढ़ें: भारत में भी राफेल की जांच जरूरी सरकार ने उस बैठक में साफ़-साफ़ कहा था कि वह जम्मू-कश्मीर का राज्य का दर्जा फिर से बरकरार करेगी। अब गुपकार गठबंधन यही कह रहा है… Continue reading कश्मीर फिर बने पूर्ण राज्य

गुपकर एलायंस के नेता निराश

gupkar leaders meeting : श्रीनगर। जम्मू कश्मीर की पार्टियों के गठबंधन पीपुल्स एलायंस फॉर गुपकर डिक्लेरेशन यानी गुपकर एलायंस के नेताओं ने सोमवार को एक बैठक की और यह मांग दोहराई कि चुनाव कराने से पहले जम्मू कश्मीर का राज्य का दर्जा बहाल किया जाए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ 24 जून को सर्वदलीय बैठक करने के 11 दिन बाद सोमवार को गुपकर एलायंस के नेताओं ने इस बैठक को लेकर निराशा जाहिर की। मोदी की नई कैबिनेट के 90 प्रतिशत मंत्री करोड़पति हैं, 42% पर आपराधिक मामले : ADR की रिपोर्ट गुपकर एलायंस का कहना है कि बैठक में राजनीतिक कैदियों की रिहाई सहित भरोसा कायम करने वाले कदम उठाने के बारे में कुछ नहीं कहा गया। एलायंस की बैठक में कहा गया कि जहां तक जम्मू कश्मीर को वापस राज्य का दर्जा देने का सवाल है, तो भाजपा खुद संसद में इसका ऐलान कर चुकी है। ऐसे में उन्हें अपने वादे का सम्मान करना चाहिए। गुपकार का संघर्ष अपना लक्ष्य हासिल करने तक चलता रहेगा। पहाडों पर लगी भीड़ ने दी बढ़ाई तीसरी लहर की चिंता, हिमाचल सरकार ने फिर लागू किया ई-पास..जाने से पहले करें चेक गुपकर नेताओं की यह मुलाकात परिसीमन आयोग के जम्मू कश्मीर के… Continue reading गुपकर एलायंस के नेता निराश

उमर को मुख्यमंत्री कौन बनाएगा?

umar abdullah chief minister : जम्मू कश्मीर में राजनीतिक गतिविधियों की शुरुआत हो गई है और यह रूकने वाली नहीं है। अगर सब कुछ ठीक चलता रहा तो अगले साल फरवरी-मार्च में राज्य में विधानसभा चुनाव होंगे। भाजपा की कोशिश परिसीमन के जरिए विधानसभा क्षेत्रों की संख्या और संरचना को इस तरह से बदलने की है ताकि वह अकेले दम पर बहुमत हासिल कर सके। लेकिन अगर ऐसा नहीं होता है तो भाजपा क्या करेगी? क्या भाजपा उमर अब्दुल्ला को मुख्यमंत्री बनाएगी? ध्यान रहे नेशनल कांफ्रेंस पहले एनडीए का हिस्सा रही है। तब राज्य की फारूक अब्दुल्ला सरकार को भाजपा ने समर्थन दिया था और उमर अब्दुल्ला केंद्र की अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में मंत्री बने थे। बाद में उमर अब्दुल्ला कांग्रेस के समर्थन से राज्य के मुख्यमंत्री बने। चूंकि भाजपा इस बार हिंदू मुख्यमंत्री बनाने की पूरी तैयारी में है इसलिए उमर को फिर से कांग्रेस का ज्यादा सहारा दिख रहा है। यह भी पढ़ें: पहले राज्य का दर्जा बहाल हो या चुनाव हो! डेल्टा प्लस वैरिएंट क्या है, क्या ये कोरोना की तीसरी लहर की चेतावनी है..आइयें जानते है इसके सारे सवालों के जवाब इस समय उमर अब्दुल्ला खुद को मुख्यमंत्री पद का सबसे स्वाभाविक दावेदार मान रहे… Continue reading उमर को मुख्यमंत्री कौन बनाएगा?

पहले राज्य का दर्जा बहाल हो या चुनाव हो!

jammu and kashmir Congress PDP : यह कुछ कुछ इस तरह का सवाल है कि पहले अंडा आया या मुर्गी आई। जम्मू कश्मीर में पार्टियों के बीच इस बात पर बहस छिड़ी है कि पहले राज्य का दर्जा बहाल किया जाए या पहले विधानसभा के चुनाव कराए जाएं। केंद्र सरकार चाहती है कि परिसीमन के बाद विधानसभा चुनाव हो जाए और तब राज्य का दर्जा बहाल किया जाए। दूसरी ओर कांग्रेस, पीडीपी, नेशनल कांफ्रेंस सहित सभी पार्टियों का कहना है कि पहले राज्य का दर्जा बहाल हो। अब सवाल है कि चुनाव से पहले राज्य का दर्जा बहाल होने से जमीनी स्तर पर क्या बदलाव होगा? इससे असल में कुछ नहीं बदलेगा। राज्य में विधानसभा भंग है और अभी राज्य का दर्जा बहाल कर देने के बाद भी राज्यपाल शासन ही लगा रहेगा। पूर्ण राज्य का दर्जा बहाल होने का फायदा तब है, जब चुनाव हो जा जाए। यह भी पढ़ें: मुकुल रॉय क्यों नहीं इस्तीफा दे रहे! jammu and kashmir Congress PDP तभी सवाल है कि जब राज्यपाल शासन ही लगा रहना है तब राज्य का दर्जा बहाल कराने के लिए दबाव बनाने का क्या मतलब है? इस दबाव के दो-तीन कारण हैं। पहला कारण तो यह है कि… Continue reading पहले राज्य का दर्जा बहाल हो या चुनाव हो!

और लोड करें