हाई कोर्ट में खारिज हुई चिराग की याचिका

chirag paswan petition dismissed नई दिल्ली। अपने पिता की बनाई पार्टी पर अपना नियंत्रण बनाए रखने के चिराग पासवान के प्रयासों को बड़ा झटका लगा है। अपने चाचा पशुपति पारस को लोकसभा में लोक जनशक्ति पार्टी का नेता स्वीकार करने के स्पीकर के फैसले को चिराग ने दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दी थी। हाई कोर्ट ने उनकी याचिका खारिज कर दी है। अदालत ने कहा है चिराग की अर्जी में कोई नया आधार नहीं है, चूंकि यह मामला लोकसभा स्पीकर के पास लंबित है इसलिए आदेश देने की कोई जरूरत नहीं है। यह भी पढ़ें: नया कैबिनेट, भाजपा-संघ को ठेंगा! गौरतलब है कि लोक जनशक्ति पार्टी में पिछले एक महीने से खींचतान चल रही है। पार्टी के लोकसभा में छह सांसद हैं। इनमें से पशुपति कुमार पारस ने पांच सांसदों के साथ अलग गुट बना लिया और चिराग को हटा कर शुद लोकसभा में पार्टी के नेता बन गए। स्पीकर ओम बिड़ला ने इसे मंजूरी भी दे दी। चिराग पासवान का दावा है कि वे पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं और कौन नेता होगा, इसका फैसला वे करेंगे। हालांकि दोनों पक्षों ने एक दूसरे को पार्टी से निकाल दिया है और खुद असली लोजपा होने का दावा किया है।… Continue reading हाई कोर्ट में खारिज हुई चिराग की याचिका

चाचा के खिलाफ चिराग हाई कोर्ट पहुंचे

chirag paswan delhi high Court : नई दिल्ली। लोक जनशक्ति पार्टी का विवाद अब अदालत में पहुंच गया है। पार्टी के संस्थापक दिवंगत रामविलास पासवान के बेटे चिराग पासवान ने अपने चाचा पशुपति पारस को लोकसभा में पार्टी के नेता के तौर पर मान्यता देने के स्पीकर के फैसले को चुनौती दी है। गौरतलब है कि पिछले महीने पशुपति पारस लोजपा के पांच सांसदों के साथ अलग हो गए थे और असली लोजपा होने का दावा किया था। उनके दावे को स्पीकर ने मान्यता दे दी थी। इस बीच पशुपति पारस को केंद्र सरकार में कैबिनेट मंत्री बना दिया गया है। मंत्रीजी का रुतबा.. रेलमंत्री ने आते ही इंजीनियर से कहा कि आप मुझे सर नहीं बॉस बोलोगे दूसरी ओर चिराग पासवान का दावा है कि वे लोजपा के अध्यक्ष हैं। उन्होंने हाई कोर्ट में याचिका दायर करने के बारे में कहा- पार्टी विरोधी गतिविधियों और शीर्ष नेतृत्व को धोखा देने के कारण लोक जनशक्ति पार्टी से पशुपति कुमार पारस को पहले ही पार्टी से निष्काषित किया जा चुका है और अब उन्हें केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल करने पर पार्टी कड़ा ऐतराज दर्ज कराती है। चिराग ने कहा- प्रधानमंत्री जी के इस अधिकार का पूर्ण सम्मान है कि वे अपनी टीम… Continue reading चाचा के खिलाफ चिराग हाई कोर्ट पहुंचे

TMC MP Nusrat Jahan : सोशल मीडिया से निकलकर संसद तक पहुंचा नुसरत जहां की शादी का विवाद, भाजपा सांसद ने की सदस्यता रद्द करने की मांग

कोलकाता | पिछले कुछ दिनों से बंगाल से सांसद और टीएमसी नेता नुसरत ( TMC MP Nusrat Jahan ) जहां सुर्ख़ियों में हैं. अपनी शादी के टूटने को लेकर विवादों में रही नुसरत जहां का मुद्दा अब सोशल मीडिया से निकल का संसद तक पहुंच गया है. भाजपा के सांसद संघमित्रा मौर्य ने लोक सभा के स्पीकर को एक पत्र लिखा है. इस पत्र में भाजपा सांसद ने नुसरत जहां की लोकसभा की सदस्यता को निरस्त करने की मांग की है. पत्र में संघमित्रा ने कहा है कि मुसरत जहां का आचरण किसी भी सूरत में मर्यादित नहीं है. उन्होंने लिखा कि शादी के मसले पर उन्होंने अपने वोटर्स को धोखे में रखा इसके साथ ही उन्होंने संसद की गरिमा को भी धूमिल करने का प्रयास किया है. सुमित्रा ने कहा है कि संसद की एथिक्स कमेटी को इस विषय में जांच करनी चाहिए और इसके साथ नुसरत जहां पर एक्शन लिया जाना चाहिए. निखिल जैन से रिश्ता तोड़ने के बाद से विवादों में हैं नुसरत निखिल जैन से रिश्ता टूटने के बाद से नुसरत ( TMC MP Nusrat Jahan ) जहां लगातार विवादों से घिरी रही हैं. नुसरत जहां फिलहाल गर्भवती हैं और निखिल जैन ने यह स्पष्ट कर… Continue reading TMC MP Nusrat Jahan : सोशल मीडिया से निकलकर संसद तक पहुंचा नुसरत जहां की शादी का विवाद, भाजपा सांसद ने की सदस्यता रद्द करने की मांग

चिराग ने की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक

नई दिल्ली। अपने चाचा पशुपति पारस के राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक करने के बाद अब चिराग पासवान ने अपनी ताकत दिखाई है। पारस के साथ पार्टी के छह में पांच सांसद हैं तो चिराग ने बताया है कि उनकी बुलाई राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में 90 फीसदी सदस्य शामिल हुए और साथ ही 12 राज्यों के प्रदेश अध्यक्षों ने भी हिस्सा लिया। गौरतलब है कि लोक जनशक्ति पार्टी के पांच सांसदों ने पशुपति पारस के नेतृत्व में अलग गुट बना लिया है और चिराग पासवान को पार्टी से निकाल दिया है। दूसरी ओर चिराग ने भी पशुपति पारस और दूसरे सांसदों को पार्टी से निकाल दिया है। इस टकराव के बीच लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद पर कब्जे के लिए चाचा-भतीजा के बीच चल रही वर्चस्व की जंग और तेज हो गई है। इसे लेकर राजधानी दिल्ली के 12, जनपथ स्थित अपने आस पर चिराग पासवान ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की मीटिंग की। पार्टी की तरफ से दावा किया गया है कि इसमें बिहार सहित 12 राज्यों के अध्यक्षों के साथ ही 90 फीसदी राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य शामिल हुए। सभी ने अपना समर्थन चिराग को दिया है। बैठक में मौजूद कार्यकारिणी के सदस्यों ने पार्टी से निलंबित किए गए पशुपति… Continue reading चिराग ने की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक

पारस बने लोजपा के नए अध्यक्ष

पटना। लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान को पार्टी से निकालने के दो दिन बाद पशुपति कुमार पारस पार्टी के नए अध्यक्ष चुने गए हैं। इससे पहले पारस को पार्टी संसदीय दल का नेता भी चुना गया था और लोकसभा स्पीकर ने भी उनको मान्यता दे दी थी। इसके बाद गुरुवार को राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में पारस को पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना गया। गुरुवार शाम लोजपा कार्यालय में इसकी औपचारिक घोषणा हुई। हालांकि चिराग पासवान अब भी खुद को लोजपा का अध्यक्ष मान रहे हैं और उन्होंने एक दिन पहले ही पारस और चार अन्य सांसदों को पार्ट से निकाला था। अपने चाचा पशुपति पारस के अध्यक्ष चुने जाने की खबरों के बाद पारस ने कहा कि लोजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में 75 सदस्य हैं, जिनमें से नौ लोग ही उनके चुनाव के समय मौजूद थे। बहरहाल, पार्टी की कमान संभालते ही पशुपति पारस ने चिराग पासवान पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भतीजा तानाशाह हो जाएगा तो चाचा क्या करेगा। यह प्रजातंत्र है, कोई आजीवन अध्यक्ष नहीं रह सकता। दलित सेना के अध्यक्ष पद पर रहने के सवाल पर पारस ने कहा कि दलित सेना अलग संस्था है। उन्होंने कहा- जिस दिन मंत्री पद लूंगा,… Continue reading पारस बने लोजपा के नए अध्यक्ष

अधिकारी और मंडल इस्तीफा क्यों नहीं दे रहे?

तृणमूल कांग्रेस के नेता लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला के यहां गुहार लगा रहे हैं कि पार्टी छोड़ने वाले दो सांसदों की सदस्यता खत्म की जाए। स्पीकर ने तृणमूल के संसदीय नेता सुदीप बंदोपाध्याय को भरोसा दिलाया है कि वे एक कमेटी बनाएंगे, जो तृणमूल से अलग होने वाले दो सांसदों- शिशिर अधिकारी और सुनील मंडल की सदस्यता के बारे में फैसला करेंगे। यह टालमटोल वाला रवैया है। क्योंकि यह तथ्य है कि ये दोनों नेता पार्टी छोड़ चुके हैं। सुनील मंडल को तो पार्टी छोड़े हुए छह महीने हो गए। उन्होंने 19 दिसंबर को मिदनापुर में हुई केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की रैली में भाजपा में शामिल होने का ऐलान किया था। यह भी पढ़ें: हरीश रावत का पंजाब में क्या काम? शिशिर अधिकारी को भी भाजपा में शामिल हुए तीन महीने हो गए। वे नंदीग्राम में 21 मार्च को हुई अमित शाह की रैली में भाजपा में शामिल हुए थे। सो, दोनों सांसदों के खिलाफ दलबदल का स्प्ष्ट मामला बनता है। सुनील मंडल के खिलाफ तो तृणमूल कांग्रेस ने जनवरी के पहले हफ्ते में ही शिकायत दी थी। फिर भी कोई कार्रवाई नहीं होने से सवाल उठ रहे हैं। इसी बीच यह भी एक सवाल है कि आखिर… Continue reading अधिकारी और मंडल इस्तीफा क्यों नहीं दे रहे?

पारस और चिराग ने एक दूसरे को निकाला

नई दिल्ली। लोक जनशक्ति पार्टी यानी लोजपा में मचे घमासान के दूसरे दोनों खेमों ने एक दूसरे के ऊपर कार्रवाई की। संसदीय दल के नए नेता चुने गए पशुपति पारस ने अपने भतीजे और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान को अध्यक्ष पद से हटा दिया। इसके थोड़ी देर बाद चिराग पासवान ने अपने चाचा पशुपति पारस सहित पार्टी से बगावत करने वाले पांच सांसदों को पार्टी से निकाल दिया। इसके लिए दोनों ने अलग अलग राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक की। गौरतलब है कि सोमवार को पारस और चार अन्य सांसदों ने अलग गुट बना कर पारस को नेता चुन लिया था और लोकसभा स्पीकर को चिट्ठी दी थी, जिसे स्पीकर ने मान्यता दे दी। इसके एक दिन बाद मंगलवार को पारस ने पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाई, जिसमें चिराग को राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से हटा दिया गया। पारस गुट ने पूर्व सांसद सूरजभान सिंह को लोजपा का कार्यकारी अध्यक्ष बनाया है। अब पांच दिन के अंदर राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव होगा। फिलहाल, सूरजभान सिंह की अध्यक्षता में बैठक होगी। एक-दो दिन में राष्ट्रीय कार्यकारिणी की फिर बैठक हो सकती है। दूसरी ओर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराह पासवान मे कार्यकारिणी की वर्चुअल बैठक की, जिसमें पार्टी के… Continue reading पारस और चिराग ने एक दूसरे को निकाला

Bihar में  ‘चाचा-भतीजा’ के बीच ‘सियासी खेला’, Chirag Paswan का साथ छोड़, बगावत पर उतरे चाचा सहित 5 सांसद

नई दिल्ली | देश में कोरोना संक्रमण क्या कम हुआ कई राज्यों में ‘राजनीति का खेला’ शुरू हो गया। राजस्थान, पंजाब, यूपी और अब बिहार में भी राजनीतिक उथल-पुथल जोरों पर है। बिहार में तो ‘चाचा-भतीजा’ के बीच ‘सियासी खेला’ चालू हो गया है। चिराग पासवान (Chirag Paswan) की लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) में कई नेताओं ने मोर्चा खोलते हुए पार्टी से बगावत कर दी है। LJP के पांच सांसदों ने पार्टी से अलग होने का फैसला कर लिया है। लोजपा के छह में से 5 लोकसभा सांसदों ने चिराग पासवान को हटाकर हाजीपुर लोकसभा क्षेत्र से उनके चाचा और सांसद पशुपति पारस (Pashupati Paras) को संसदीय दल का नेता चुना है। सुत्रों के अनुसार, ये सभी चिराग पासवान के कामकाज से खुश नहीं थे और पार्टी को अपने तरीके से चलाने से नाराज थे। खबर तो ये भी है कि ये पांचों सांसद जेडीयू (JDU) में शामिल हो सकते हैं। Patna: डाॅक्टरों ने किया कमाल, मैराथन ऑपरेशन कर मरीज के ब्रेन से क्रिकेट बाॅल से भी बड़ा Black Fungus निकाला बाहर अब किसे मिलेगी मान्यता लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला (Om Birla) को संसदीय दल का नया नेता चुने जाने के संबंध में पत्र भी सौंप दिया गया है। अगर… Continue reading Bihar में  ‘चाचा-भतीजा’ के बीच ‘सियासी खेला’, Chirag Paswan का साथ छोड़, बगावत पर उतरे चाचा सहित 5 सांसद

स्पीकर ओम बिड़ला संक्रमित

संसद के बजट सत्र के बीच लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए हैं। शुक्रवार यानी 19 मार्च को उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी

सांसद सदन की मर्यादाओं के अनुरूप आचरण करें : बिरला

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने संसद के बजट सत्र में सदन की कार्यवाही के सुचारु संचालन में सहयोग के लिए सभी सदस्यों एवं दलों के नेताओं के प्रति आभार व्यक्त किया है

उत्पल कुमार सिंह बने लोकसभा के नए महासचिव

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने भारतीय प्रशसनिक सेवा के सेवानिवृत्त अधिकारी उत्पल कुमार सिंह को लोकसभा का नया महासचिव नियुक्त किया है।

पहले की तरह सदन चलाने में सहयोग करें सांसद :बिरला

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने आज मानसून सत्र शुरू होने के दौरान सभी सांसदों से कार्यवाही के संचालन में पूरा सहयोग मांगा। उन्होंने कहा, सदन की कार्यवाही के संचालन

संसद का मॉनसून सत्र कैसे होगा?

लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला ने उम्मीद जताई है कि संसद का मॉनसून सत्र समय पर शुरू हो जाएगा। हालांकि जब उनसे पूछा गया कि अगर लॉकडाउन किसी न किसी रूप में लागू रहे और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना पड़ा तो उस स्थिति में क्या किया जाएगा

समाचार पत्रों की जानकारी पर आधारित सवाल नहीं पूछे: लोकसभा अध्यक्ष

नई दिल्ली। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने बुधवार को सांसदों को आगाह किया कि वे अखबारों में प्रकाशित होने वाली जानकारियों के आधार पर सवाल नहीं पूछें और केवल अपनी जानकारी के आधार पर मुद्दों को उठाएं। बिड़ला का निर्देश द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (द्रमुक) नेता व तमिलनाडु के माइलादुतुरई के सांसद ए. राजा द्वारा प्रश्नकाल के दौरान समाचार पत्र के एक लेख का जिक्र करते हुए पूछे गए पूरक प्रश्न के संदर्भ में आया। बिड़ला ने राजा को बीच में टोकते हुए कहा, सांसदों को समाचार पत्रों में प्रकाशित जानकारी के आधार पर प्रश्न नहीं पूछना चाहिए। यह नियम पुस्तक में है कि प्रश्न समाचार पत्रों और टेलीविजन चैनलों की जानकारी पर आधारित नहीं होने चाहिए। इसलिए, अपनी खुद की जानकारी के आधार पर प्रश्न पूछें। राजा ने कहा, अखबारों ने बहुत ज्वलंत मुद्दे पर लेख प्रकाशित किए। यह सरकार यह कहकर सत्ता में आई कि 2जी (स्पेक्ट्रम आवंटन) में सरकारी खजाने को 1.73 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। हमें बहुत नुकसान हुआ है। यह कोई सवाल नहीं है। मैं असल सवाल पूछना चाहता हूं। उन्होंने कहा, अखबारों ने लेख छापा कि कानून मंत्री और दूरसंचार मंत्रालय एयरटेल, वोडाफोन और आइडिया जैसे निजी दूरसंचार ऑपरेटरों को 20 वर्षों… Continue reading समाचार पत्रों की जानकारी पर आधारित सवाल नहीं पूछे: लोकसभा अध्यक्ष

लोकसभा अध्यक्ष ने लिया तैयारियों का जायजा

नई दिल्ली। कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप के चलते मंगलवार को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने संसद भवन परिसर और आस-पास के क्षेत्रों में कोविड-19 को फैलने से रोकने को लेकर की जा रही तैयारियों का जायजा लिया। लोकसभा अध्यक्ष ने इस बाबत स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्रालय, नई दिल्ली नगरपालिका परिषद, केंद्रीय लोक निर्माण विभाग, केंद्रीय सरकार स्वास्थ्य योजना और अन्य एजेंसियों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ हुई बैठक की अध्यक्षता की। बैठक के बाद उन्होंने कहा हम सभी को किसी भी परिस्थिति में घबराना नहीं चाहिए। डरने की कोई बात नहीं है, फिर भी हमें हर समय सतर्क रहना होगा। इससे पहले, उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि किसी भी अनहोनी से बचने के लिए कम से कम समय में सभी आवश्यक कदम उठाए जाने चाहिए। इस बैठक में केंद्रीय लोक निर्माण विभाग के महानिदेशक, नई दिल्ली नगरपालिका परिषद के अध्यक्ष, स्वास्थ्य सेवाओं के महानिदेशक, आवासन व शहरी कार्य मंत्रालय के सचिव और लोक सभा सचिवालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया। अधिकारियों ने बैठक में लोकसभा अध्यक्ष से कहा कोविड-19 का पता लगाने और इससे बचने व रोकथाम सुनिश्चित करने की दिशा में इस बाबत शामिल विभिन्न एजेंसियों ने अब तक ठोस कदम उठाए हैं।… Continue reading लोकसभा अध्यक्ष ने लिया तैयारियों का जायजा

और लोड करें