कश्मीर में पांच राज्यों के साथ चुनाव?

जम्मू कश्मीर में क्या अगले साल फरवरी-मार्च में पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के साथ चुनाव हो सकता है? पिछले कई दिनों से इसकी अटकलें लगाई जा रही थीं और 24 जून को जम्मू कश्मीर की पार्टी की सर्वदलीय बैठक बुला कर केंद्र सरकार ने इन अटकलों की काफी हद तक पुष्टि कर दी है। पीडीपी, नेशनल कांफ्रेंस सहित दूसरी सभी पार्टियों को परिसीमन के मसले पर विचार के लिए बुलाया गया है। हालांकि परिसीमन का काम अपनी गति से चल रहा है। ध्यान रहे केंद्र सरकार ने पिछले साल मार्च में सुप्रीम कोर्ट की रिटायर जज जस्टिस रंजना प्रकाश देसाई की अध्यक्षता में परिसमीन आयोग का गठन किया था। इस साल फरवरी में इसका कार्यकाल एक साल और बढ़ा दिया गया। मुख्य चुनाव आयुक्त सहित सभी चुनाव आयुक्त इसके पदेन सदस्य हैं। यह भी पढ़ें: दिल्ली में बैठे रहते हैं कांग्रेस के प्रभारी परिसीमन आयोग अपने काम के दौरान राज्यों की पार्टियों से संपर्क करता है और उनकी राय लेता है। इसके लिए केंद्र सरकार के सर्वदलीय बैठक बुलाने की जरूरत नहीं होती है। केंद्र सरकार ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है तो निश्चित रूप से उसका मकसद परिसीमन से ज्यादा है। तभी यह चर्चा तेज हो गई है कि… Continue reading कश्मीर में पांच राज्यों के साथ चुनाव?

कश्मीर के नेताओं से मिलेंगे पीएम

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जम्मू कश्मीर के नेताओं के साथ बैठक करेंगे। प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से प्रदेश की एक दर्जन से ज्यादा पार्टियों को न्योता भेजा गया है। माना जा रहा है कि परिसीमन और राज्य में विधानसभा चुनाव के बारे में इस बैठक में चर्चा होगी। गौरतलब है कि करीब ढाई साल पहले नवंबर 2018 में राज्य विधानसभा भंग कर दी गई थी और उसके बाद अगस्त 2019 में राज्य का बंटवारा करके दो केंद्र शासित प्रदेश बनाए गए थे। उसके बाद पहली बार राज्य में राजनीतिक हलचल देखने को मिल रही है। बहरहाल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 24 जून को अपने आवास पर कश्मीर की पार्टियों के साथ सर्वदलीय बैठक करेंगे। इस बैठक के लिए नेशनल कांफ्रेंस के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती सहित 14 पार्टियों के नेताओं को न्योता भेजा गया है। प्रधानमंत्री कार्यालय ने इस मीटिंग की पुष्टि की है। पीएमओ के मुताबिक, सभी नेताओं को फोन पर मीटिंग में शामिल होने के लिए सूचित कर दिया गया है। यह भी बताया गया है कि बैठक से पहले इन्हें कोरोना निगेटिव रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य होगा। फारूक अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती और भाजपा के रविंदर रैना ने मीटिंग की पुष्टि की है। खबरों के… Continue reading कश्मीर के नेताओं से मिलेंगे पीएम

कश्मीर की पार्टियों से बात करेगी सरकार

नई दिल्ली। केंद्र सरकार जम्मू कश्मीर में चुनाव कराने की प्रक्रिया शुरू करने की तैयारी में है।  बताया जा रहा है कि सरकार जल्दी ही जम्मू कश्मीर की पार्टियों से बातचीत शुरू करेगी। यह बातचीत जम्मू कश्मीर को राज्य का दर्जा देने और वहां चुनावी प्रक्रिया को शुरू कराने के बारे में होगी। जानकार सूत्रों का कहना है कि इस बारे में कश्मीर की पार्टियों से बात हो गई है और नेशनल कांफ्रेंस व पीडीपी सहित आधा दर्जन प्रमुख दलों ने वार्ता के लिए सहमति दे दी है। गौरतलब है कि जून 2018 में जम्मू कश्मीर में राष्ट्रपति शासन लगा दिया गया था, क्योंकि उससे पहले भाजपा और पीडीपी का गठबंधन खत्म हो गया था। बाद में साल के अंत में जब पीडीपी, नेशनल कांफ्रेंस और कांग्रेस ने मिल कर सरकार बनाने का फैसला किया तो केंद्र सरकार ने राज्यपाल की रिपोर्ट पर आनन-फानन में विधानसभा भंग कर दी। उसके बाद से वहां पर चुनावों को लेकर कोई भी सियासी हलचल नहीं हुई है। इसके करीब एक साल बाद अगस्त 2019 में केंद्र सरकार ने जम्मू कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा खत्म कर दिया और साथ ही जम्मू कश्मीर और लद्दाख दो केंद्र शासित प्रदेश बना दिए। इस समय… Continue reading कश्मीर की पार्टियों से बात करेगी सरकार

फिल्मकार Ayesha Sulthana बोली- लक्षद्वीप मेरी जन्मभूमि, संघर्ष रहेगा जारी, दर्ज हुआ ‘देशद्रोह’ का मामला, उमर अब्दुल्ला ने जताया विरोध

नई दिल्ली | फिल्म निर्माता (Filmmaker) आयशा सुल्ताना (Ayesha Sulthana) फिल्मों को लेकर तो चर्चा में रहती हैं लेकिन अब उनकी चर्चा का मामला कुछ और है। आयशा सुल्ताना पर लक्षद्वीप (Lakshadweep) प्रशासक प्रफुल्ल पटेल की नीतियों के फैसलों के खिलाफ आवाज उठाने पर स्थानीय पुलिस ने देशद्रोह का मामला दर्ज किया है। पुलिस ने उन्हें पूछताछ के लिए 20 जून को बुलाया है। लक्षद्वीप बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष अब्दुल खादर की शिकायत पर आयशा सुल्ताना के खिलाफ देशद्रोह और अभद्र भाषा के तहत मामला दर्ज किया गया है। आयशा सुल्ताना के खिलाफ शिकायत में आरोप लगाया गया है कि सुल्ताना ने टीवी पर केंद्र शासित प्रदेश लक्षद्वीप में कोविड-19 के फैलने को लेकर झूठी खबर फैलाई है। ये भी पढ़ें:- Club House Chat : दिग्विजय सिंह ने फिर दिया विवादित बयान कहा- कांग्रेस की सरकार बनीं तो धारा 370 पर होगा पुनर्विचार देशद्रोह का मामला दर्ज होने के बाद आयशा ने कहा है कि वह लक्षद्वीप के लिए संघर्ष जारी रखेंगी। आयशा सुल्तान ने कहा कि, मैं उस जमीन के लिए अपनी लड़ाई जारी रखूंगी, जहां मैं पैदा हुई। हम किसी से नहीं डरते। लक्षद्वीप के लिए मेरा संघर्ष जारी रहेगा और अब मेरी आवाज और तेज होने वाली है। उन्होंने… Continue reading फिल्मकार Ayesha Sulthana बोली- लक्षद्वीप मेरी जन्मभूमि, संघर्ष रहेगा जारी, दर्ज हुआ ‘देशद्रोह’ का मामला, उमर अब्दुल्ला ने जताया विरोध

न होली फीकी पड़ेगी, न गंगा जमनी तहजीब

मनुष्य से ज्यादा गजब-विचित्र जीव कोई नहीं होता। वह परस्थितियों के मुताबिक इतने रूप बदलता है कि सारी धारणाएं ध्वस्त हो जाती हैं। शायद यही जीवन है और इसकी रंगीनी भी।

Corona Update : फारूख अब्दुल्ला को हुआ कोरोना, 28 दिन पहले लिया था वैक्सीन का डोज

श्रीनगर | जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला (Ex Chief Minister J&K Farookh Abdullah) कोरोना वायरस से संक्रमित ( Covid19 Positive) हो गए हैं। पूरे परिवार को क्वारंटाइन कर दिया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नेशनल कॉन्फ्रेंस (नेकां) के प्रमुख और लोकसभा सदस्य डॉ. फारूक अब्दुल्ला को कोविड-19 संक्रमण से शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की। एक ट्वीट में पीएम ने कहा, “डॉ. फारूक अब्दुल्ला के अच्छे स्वास्थ्य और शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं। Praying for the good health and speedy recovery of Dr. Farooq Abdullah Ji. Also praying for your and the entire family’s good health @OmarAbdullah. https://t.co/a3Qw1axCNH — Narendra Modi (@narendramodi) March 30, 2021 उमर अब्दुल्ला, आपके और पूरे परिवार के अच्छे स्वास्थ्य की भी कामना करता हूं।” पिछले एक सप्ताह के दौरान जम्मू-कश्मीर में कोरोना मामलों में जबरदस्त वृद्धि देखने को मिली है। कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या लगातार बढ़ रही है। बताया जा रहा है कि 28 दिन पहले ही अब्दुल्ला ने वैक्सीन का पहला डोज लिया। पूर्व मुख्यमंत्री और उनके बेटे उमर अब्दुल्ला (Ex Chief Minister Umar Abdullah) ने मंगलवार को ट्वीट करके ये जानकारी दी। उमर ने कहा कि वो और उनके परिवार के सदस्य खुद को क्वारंटाइन कर रहे हैं… Continue reading Corona Update : फारूख अब्दुल्ला को हुआ कोरोना, 28 दिन पहले लिया था वैक्सीन का डोज

उमर, महबूबा ने व्यवसायी की हत्या की निंदा

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती ने शुक्रवार को ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में अज्ञात बंदूकधारियों द्वारा एक व्यवसायी की हत्या की निंदा की।

चिदंबरम जम्मू-कश्मीर के लोगों के अच्छे दोस्त : उमर

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री एवं नेशनल कांफ्रेंस के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम को जन्मदिन पर आज बधाई देते हुए उन्हें प्रदेश के लोगों का अच्छा दोस्त बताया।

श्रीनगर स्थित बंगला खाली करेंगे ओमर अब्दुल्लाह

पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कांफ्रेंस (नेकां) के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने कहा कि उन्होंने श्रीनगर शहर की कड़ी सुरक्षा व्यवस्था वाले गुप्कर रोड इलाके में अपने आधिकारिक निवास को खाली करने का फैसला किया है।

जम्मू-कश्मीर में नया विवाद

केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर में एक नई डोमिसाइल नीति लागू कर दी है। माना जा रहा है कि इसका इस केंद्र शासित प्रदेश के भविष्य पर गहरा असर पड़ेगा। नए डोमिसाइल के नियमों के तहत प्रदेश में कम-से-कम 15 सालों तक रहने वाला हर व्यक्ति डोमिसाइल के लिए योग्य होगा। इसके अलावा डोमिसाइल की परिभाषा बदल कर और भी कुछ श्रेणियों के व्यक्तियों को इसके योग्य बनाया गया है। इनमें शामिल हैं, वो लोग जिन्होंने सात साल तक जम्मू और कश्मीर में पढ़ाई की हो, दसवीं और बारहवीं कक्षा की परीक्षा प्रदेश के ही किसी स्कूल या कॉलेज से दी हो, वो बच्चे जिनके माता-पिता प्रदेश में 10 सालों तक केंद्र सरकार के किसी भी पद पर काम कर चुके हों, और वो व्यक्ति जिन्हें प्रदेश के रिलीफ एंड रिहैबिलिटेशन कमिश्नर ने बतौर प्रवासी पंजीकृत किया हो। इन सभी श्रेणियों के व्यक्ति अब जम्मू- कश्मीर में स्थानीय नौकरियों के लिए आवेदन कर पाएंगे और प्रदेश में जमीन या मकान खरीद पाएंगे। इसके पहले ये अधिकार सिर्फ उन लोगों को प्राप्त थे, जो पूर्व जम्मू-कश्मीर राज्य की विधान सभा से निर्धारित परिभाषा के तहत स्थानीय निवासी माने जाते थे। जम्मू- कश्मीर की राजनीतिक शक्तियों में डोमिसाइल नीति में लाए गए इन… Continue reading जम्मू-कश्मीर में नया विवाद

कश्मीर की नई डोमिसाइल नीति पर विवाद

श्रीनगर। देश भर में कोरोना वायरस की वजह से चल रहे लॉकडाउन के बीच केंद्र सरकार ने नई डोमिसाइल नीति जारी कर दी। नई डोमिसाइल नीति में कहा गया है कि जम्मू कश्मीर में पिछले 15 साल से रह रहे लोगों को ही डोमिसाइल मिलेगी यानी वहां का नागरिक माना जाएगा। साथ ही जिन बच्चे ने वहां के स्कूलों में सात साल पढ़ाई की है या दसवीं-बारहवीं कक्षा की परीक्षा पास की है उन्हें ही डोमिसाइल और सरकारी नौकरियां भी मिलेगी। इस नीति के मुताबिक केंद्र सरकार के विभिन्न पदों पर काम करने वाले अधिकारी जो पिछले दस साल से सेवा में है उन्हें भी डोमिसाइल दिया जाएगा। राज्य में इस नई नीति का विरोध शुरू हो गया है। पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला बुधवार को केंद्र की आलोचना की। उन्होंने कहा कि यह पहले से पीड़ित लोगों का अपमान है, क्योंकि वादे के मुताबिक कोई संरक्षण नहीं दिया जा रहा है। उमर ने सिलसिलेवार ट्विट में कहा- जब हमारे सभी प्रयास और पूरा ध्यान कोविड-19 के संक्रमण को फैलने से रोकने पर होना चाहिए, तब सरकार जम्मू कश्मीर में नया डोमिसाइल कानून लेकर आई है। उमर ने कहा कि नया कानून इतना खोखला है कि… Continue reading कश्मीर की नई डोमिसाइल नीति पर विवाद

मोदी ने उमर के चाचा के निधन पर जताया शोक

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला के चाचा के निधन पर शोक व्यक्त किया है। अब्दुल्ला ने ट्वीट कर कहा था

महबूबा, अन्य बंदियों को तुरंत रिहा करे: उमर

नेशनल कॉन्फ्रेंस के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती और अन्य बंदियों को तुरंत रिहा किये जाने की मांग  दोहराते हुए

राजनीति की बजाय कोरोना पर बोले उमर

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला हिरासत से रिहा हुआ तो उन्होंने कोरोना वायरस पर बयान दिया। पत्रकार उनसे अनुच्छेद 370 और 35ए के बारे में पूछते रहे पर उन्होंने किसी राजनीतिक सवाल का जवाब नहीं दिया।

उमर अब्दुल्ला आठ महीने बाद रिहा

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला को लगभग आठ महीने बाद मंगलवार को हिरासत से रिहा कर दिया गया।

और लोड करें