nayaindia Mamata बेंगलुरु कैफे मामले में बंगाल की छवि खराब की जा रही: ममता
कोलकाता

बेंगलुरु कैफे मामले में बंगाल की छवि खराब की जा रही: ममता

ByNI Desk,
Share
Mamata Banerjee

कोलकाता। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने कहा है कि पश्चिम बंगाल से बेंगलुरु कैफे ब्लास्ट मामले में दो आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद राज्य की छवि धूमिल करने का प्रयास किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने शनिवार को जलपाईगुड़ी जिले के डाबग्राम-फुलबाड़ी में एक चुनावी रैली में कहा यह घटना बेंगलुरु में घटी थी। आरोपी कर्नाटक के रहने वाले हैं। Mamata Banerjee

आरोपी दो घंटे तक पूर्वी मिदनापुर में भी रहे थे। बंगाल पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया और अब कुछ लोग कह रहे हैं कि बंगाल असुरक्षित जगह है। ऐसा कहकर ये लोग राज्य की छवि धूमिल करने का प्रयास कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस (Congress) पश्चिम बंगाल में अकेले चुनाव लड़ रही है, लेकिन इसके बावजूद भी वो इंडिया ब्लॉक (India Block) की केंद्र में सरकार बनाने की दिशा में मदद करेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा मौजूदा वक्त में राष्ट्रीय परिदृश्य अलग है, लेकिन पश्चिम बंगाल में बीजेपी और सीपीआई(एम) दोनों ही हमारे लिए एक समान प्रतिद्वंदी हैं। मुख्यमंत्री ने एक बार फिर कहा कि उत्तर 24 परगना जिले के संदेशखाली में हाल की घटना को तूल देने की कोशिश की जा रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा संदेशखाली में एक भी हत्या नहीं हुई। वहां सब कुछ सामान्य है। हमने वह सब कुछ लौटा दिया है, जो छीन लिया गया था। हमारे अपने लोगों को संदेशखाली में गिरफ्तार कर लिया गया। हालांकि, बेंगलुरु से भागने के बाद राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने उन्हें गिरफ्तार (Arrested) कर लिया। गिरफ्तार किए गए दोनों लोग पूर्वी मिदनापुर जिले के दीघा जाने से पहले कुछ दिनों तक कोलकाता के अलग-अलग होटलों में छिपते रहे।

यह भी पढ़ें:

केरल में चार दिनों तक प्रचार करेंगे राहुल गांधी

सिडनी के एक शॉपिंग सेंटर में 6 लोगों की चाकू मारकर हत्या

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें