nayaindia Mamata Banerjee Sandeshkhali incidents ममता के मार्च में संदेशखाली की महिलाएं भी पहुंचीं
पश्चिम बंगाल

ममता के मार्च में संदेशखाली की महिलाएं भी पहुंचीं

ByNI Desk,
Share
Mamata Banerjee Sandeshkhali
Mamata Banerjee Sandeshkhali

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना के संदेशखाली में कथित तौर पर यौन दुर्व्यवहार और हिंसा का शिकार हुई महिलाओं से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मुलाकात के एक दिन बाद राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने संदेशखाली की महिलाओं के साथ मार्च किया। Mamata Banerjee Sandeshkhali

गौरतलब है  प्रधानमंत्री मोदी बुधवार को पश्चिम बंगाल के बारासात में एक कार्यक्रम के दौरान संदेशखाली की पीड़ित महिलाओं से मिले थे और इस दौरान उन्होंने पीड़ित महिलाओं से कहा था कि वे उनका ध्यान रखेंगे। उन्होंने राज्य सरकार आरोपी पर आरोप लगाते हुए कहा था कि तृणमूल कांग्रेस के नेता आरोपी को बचा रहे हैं।

उनके दौरे के एक दिन बाद गुरुवार का मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को कोलकाता में तृणमूल कांग्रेस की महिला शाखा की रैली को संबोधित किया। इसमें उत्तर 24 परगना जिले के संदेशखाली इलाके की कुछ महिलाएं भी शामिल हुईं। इस रैली में ममता बनर्जी ने भाजपा पर जमकर निशाना साधा।

ममता बनर्जी ने कहा- बुधवार को बीजेपी नेताओं ने कहा कि बंगाल में महिलाओं पर अत्याचार होता है। मैं दावे के साथ कह सकती हूं कि बंगाल में महिलाएं सबसे सुरक्षित हैं।

ममता बनर्जी ने कलकत्ता हाई कोर्ट के पूर्व जज जस्टिस अभिजीत गंगोपाध्याय के बीजेपी में शामिल होने पर भी टिप्पणी की। उन्होंने कहा- बीजेपी का एक बाबू बेंच पर बैठा था और वह बीजेपी में शामिल हो गया। आप उनसे न्याय की उम्मीद कैसे कर सकते हैं?

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी हर साल आठ मार्च को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर महिलाओं के मार्च का नेतृत्व करती हैं। लेकिन इस बार रैली सात मार्च को आयोजित की गई क्योंकि आठ मार्च को महाशिवरात्रि है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें