nayaindia Cheetah helicopter of Indian Army crashes in Arunachal Pradesh भारतीय सेना का चीता हेलिकॉप्टर अरुणाचल में दुर्घटनाग्रस्त
ताजा पोस्ट

भारतीय सेना का चीता हेलिकॉप्टर अरुणाचल में दुर्घटनाग्रस्त

ByNI Desk,
Share

नई दिल्ली। भारतीय सेना (Indian Army) का चीता हेलीकॉप्टर (Cheetah Helicopter) गुरुवार को अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) में बोमडिला (Bomdila) के पश्चिम मंडला के पास दुर्घटनाग्रस्त (Crash) हो गया है। अरुणाचल प्रदेश के पास एक ऑपरेशनल के अंतर्गत उड़ान भर रहे चीता हेलीकॉप्टर का संपर्क एटीसी (ATC) से टूट गया था। भारतीय सेना के मुताबिक 16 मार्च को सुबह करीब 09 बजकर 15 मिनट पर चीता हेलीकॉप्टर का संपर्क (Air Traffic Controller) एटीसी से टूटने की सूचना मिली थी। सेना ने दुर्घटना की खबरों की पुष्टि की है और कहा है कि बोमडिला के पश्चिम में मंडला के पास चीता हेलीकॉप्टर के दुर्घटनाग्रस्त होने की सूचना है। सेना के अधिकारी ने कहा कि तलाशी दलों को दुर्घटना स्थल की ओर रवाना कर दिया गया है। 

ये भी पढ़ें- http://मप्र विधानसभा में ओपीएस पर हंगामा

चीता हेलीकॉप्टर भारतीय सेना का एक उच्च प्रदर्शन वाला हेलीकॉप्टर है, जिसे ऊंचाई की स्थिति में संचालन के लिए डिजाइन किया गया है। पांच सीट वाला चीता हेलीकॉप्टर बहुमुखी, बहु भूमिका, बहुउद्देशीय, अत्यधिक गतिशील और निर्माण में मजबूत है। हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (Hindustan Aeronautics Limited) द्वारा तैयार किया गया यह हेलीकॉप्टरों की सभी श्रेणियों के बीच अधिक ऊंचाई पर उड़ान भरने का विश्व रिकॉर्ड (World Record) रखता है। एचएएल (HAAL) के अनुसार, चीता एक पांच सीटों वाला हेलीकाप्टर है। अपने उत्कृष्ट शक्ति-वजन अनुपात के कारण, चीता गर्म उष्णकटिबंधीय मौसम में संचालन और उच्च ऊंचाई पर भी मिशन के लिए सबसे उपयुक्त हेलीकाप्टरों में से एक है। रक्षा विशेषज्ञों के अनुसार चीता हेलीकॉप्टर को यात्री परिवहन, रसद सहायता (कार्गो व सामग्री परिवहन), हताहत निकासी, राहत संबंधी ऑपरेशन, खोज और बचाव कार्य संचालन, टोही, स्लंग ऑपरेशन के तहत कई प्रकार के मिशनों के लिए विशेष रूप से विकसित किया गया है। (आईएएनएस)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें